Press Release

खेल संचालक ने की खेल गतिविधियां की समीक्षा वर्चुअल मीटिंग में जिला खेल अधिकारियों को दिशा निर्देश



View

कोविड19 संक्रमण के कारण काफी समय से खेल गतिविधियां बंद है। प्रदेश के जिलों में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने के बाद किस तरह खेल गतिविधियों की शुरुआत की जाय, इस सिलसिले में आज खेल संचालक श्री पवन जैन ने वर्चुअल मीटिंग में जिला खेल अधिकारियों से चर्चा की। मीटिंग में उन्होंने जिलों में उपलब्ध खेल अधोसंरचना खेल मैदान उपकरणों के रखरखाव एवं अद्यतन स्थिति पर अधिकारियों से चर्चा की। इसके अलावा खेलो इंडिया स्माल स्केल स्पोर्ट्स सेंटर तथा जनजातीय कार्य विभाग द्वारा क्रीड़ा परिसरों का उन्नयन एवं नवीन क्रीड़ा परिसरों की स्थापना के संबंध में जरूरी जानकारी हासिल की।

बैठक में संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान और संयुक्त संचालक श्री बीएस यादव ने भी विभागीय प्रगति के संबंध में जिला खेल अधिकारियों से चर्चा की।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि प्रदेश में कोविड संक्रमण की स्थिति में लगातार सुधार को दृष्टिगत रखते हुए राज्य शासन द्वारा अनलॉक की शुरुआत की गई है। उन्होंने जिला खेल अधिकारियों से कहा कि वे अपने अपने जिलों में जिला प्रशासन द्वारा जारी कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करते हुए सीमित संख्या में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को अभ्यास की अनुमति देने की कार्यवाई करें, ताकि वे राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं की तैयारी कर सकें।

खेल संचालक श्री जैन ने जिलों में स्थित खेल अधोसंरचना, मैदानों और फीडर सेंटर के रखरखाव के संबंध में जिला खेल अधिकारियों से चर्चा कर आवश्यक जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि स्कूल प्रारंभ होने के बाद स्कूल शिक्षा और खेल विभाग के समन्वित प्रयासों से भी टैलेंट सर्च सहित अन्य खेल गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए अभी से तैयारी प्रारंभ की जाए। उन्होंने कहा कि सभी डी एस ओ अपने-अपने जिलों में प्रचलित खेलों में से दो खेल का प्राथमिकता से चयन करें ताकि इन खेलों के प्रशिक्षकों की आउट सोर्स से पूर्ति सुनिश्चित की जा सके।