Press Release

प्रथम हॉकी इंडिया सब जूनियर बालक अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनिशप-2021



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.



तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल



समाचार





प्रथम हॉकी इंडिया सब जूनियर बालक अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनिशप-2021



नवल टाटा हॉकी अकादमी, नामधारी इलेवन, चीमा हॉकी अकादमी, वैदीपट्टी राजा हॉकी अकादमी और माता साहिब कौर हॉकी अकादमी लुधियाना ने जीते अपने-अपने मुकाबले





भोपाल, दिनांक 06 अक्टूबर, 2021



भोपाल में खेली जा रही प्रथम सब जूनियर बालक अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनिशप-2021 के तीसरे दिन नवल टाटा हॉकी अकादमी जमशेदपुर, नामधारी इलेवन, चीमा हॉकी अकादमी, वैदीपट्टी राजा हॉकी अकादमी और माता साहिब कौर हॉकी अकादमी लुधियाना ने अपने-अपने मुकाबले जीत लिए। चैंपियनशिप का आयोजन हॉकी इंडिया तथा खेल और युवा कल्याण विभाग के संयुक्त तत्वाधान में साई सेंटर ग्राम गोरा में किया जा रहा है।

चैंपियनशिप के तीसरे दिन पहला मैच बरार हॉकी अकादमी, अमरावती और नवल टाटा हॉकी अकादमी, जमशेदपुर के बीच खेला गया। नवल टाटा हॉकी अकादमी ने बरार हॉकी अकादमी को एकतरफा 23-0 से पराजित किया। नवल टाटा हॉकी अकादमी के स्टार खिलाड़ी जोलेन टोपनो ने मैच में हैट्रिक सहित 5 गोल किए। वहीं, शिवम सिंह ने भी 5 गोल दागे। कप्तान रोशन एक्का, तुषार परमार और उज्ज्वल पाल ने 3-3 गोल का योगदान किया। रोहित प्रधान ने एक गोल किया।

दिन का दूसरा मैच भाई भेलो हॉकी अकादमी भागता और नामधारी इलेवन के बीच खेला गया। नामधारी इलेवन ने भाई भेलो हॉकी अकादमी को 15-1 से पराजित किया। मैच के शुरूआमी तीन क्वार्टर में नामधारी इलेवन ने 10 गोल करते हुए दबदबा बनाया। चौथे क्वार्टर में नामधारी ने 5 और भाई भेलो अकादमी ने 1 गोल किया।

दिन का तीसरा मैच चीमा हॉकी अकादमी और मुंबई स्कूल्स स्पोर्ट्स एसोसिएशन के बीच खेला गया। चीमा हॉकी अकादमी ने मुंबई सकूल्स स्पोर्ट्स एसोसिएशन को 11-1 हराया। चीमा अकादमी के सेहबाज सिंह ने तीन गोल किए। कप्तान अर्शदीप सिंह ने दो गोल किए।

दिन का चौथा मैच एचआईएम अकादमी और वैदीपट्टी राजा हॉकी अकादमी के बीच खेला गया। वैदीपट्टी राजा हॉकी अकादमी ने एचआईएम अकादमी को रोमांचक मुकाबले में 3-2 से पराजित किया। पहले क्वार्टर में वैदीपट्टी अकादमी ने 2-1 की बढ़त हासिल किया। दूसरे क्वार्टर में एचआईएम अकादमी ने गोल करके 2-2 की बराबरी हासिल की। तीसरा क्वार्टर गोलरहित रहा। चौथे क्वार्टर में वैदीपट्टी राजा हॉकी अकादमी ने एक और गोल करके स्कोर 3-2 से अपने पक्ष में कर लिया।

दिन का पांचवां मैच सिटिजन हॉकी इलेवन और माता साहित कौर हॉकी अकादमी, जरखड़ लुधियाना के बीच खेला गया। माता साहित कौर हॉकी अकादमी ने सिटिजन हॉकी इलेवन को 6-0 से पराजित किया। माता साहित कौर हॉकी अकादमी के लिए सुखजीत सिंह गद्दू और दिल वीर ने 2-2 गोल दागे। वहीं, कप्तान लवप्रीत सिंह और संजय सिंह ने 1-1 गोल किए।



गुरूवार को खेले जाने वाले मैच



पहला मैचः  ध्यानचन्द हॉकी अकादमी विरूद्ध मारकंडेश्वर  हॉकी अकादमी, प्रातः 7ः00 बजे से

दूसरा मैचः  गुमानहेरा राईजर्स अकादमी विरूद्ध मालवा हॉकी अकादमी, हनुमानगढ़, प्रातः 8ः45 बजे से

तीसरा मैचः  हिम अकादमी विरूद्ध जय भारत हॉकी अकादमी, प्रातः 10ः15 बजे से

चौथा मैचः  एचएआर हॉकी अकादमी विरूद्ध मध्य प्रदेश हॉकी अकादमी, दोपहर 3ः30 बजे से



प्रभारी



प्रचार प्रसार

तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ियों ने जीते 1 स्वर्ण, 2 रजत और 3 कांस्य पदक खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने दी पदक विजेताओं को बधाई



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.



तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल





समाचार





40वीं सीनियर नेशनल तीरंदाजी चैंपियनशिप, जमशेदपुर



अकादमी की तीरंदाज मुस्कान किरार ने विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की



तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ियों ने जीते 1 स्वर्ण, 2 रजत और 3 कांस्य पदक



खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने दी पदक विजेताओं को बधाई





भोपाल, दिनांक 06 अक्टूबर, 2021





मध्यप्रदेश तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ियों ने 40वीं राष्ट्रीय तीरंदाजी चैंपियनशिप में एक स्वर्ण, दो रजत और तीन कांस्य पदक जीतकर प्रदेश को गौरवान्वित किया है। जमशेदपुर में खेली जा रही प्रतियोगिता में मप्र तीरंदाजी अकादमी की मुस्कान किरार ने 150 में से 150 अंक हासिल करते हुए विश्व रिकॉर्ड की बराबरी भी करने का गौरव हासिल किया। मप्र अकादमी की मुस्कान, रागिनी मार्को, सृष्टि, निकिता और चिराग ने मप्र के लिए पदक जीते। खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने अकादमी के इन खिलाड़ियों को पदक जीतने पर बधाई दी।

जमशेदपुर में खेली जा रही प्रतियोगिता में महिला कम्पाउंड टीम में मुस्कान किरार, रागिनी मार्को, सृष्टि और निकिता की टीम ने स्वर्ण पदक जीता। मुस्कान ने व्यक्तिगत ओलंपिक राउंड में रजत पदक जीता। इसी स्पर्धा में रागिनी ने कांस्य पदक अपने नाम किया। स्पर्धा का स्वर्ण पदक ज्योति सुरेखा ने अपने नाम किया। सेमीफाइनल में मुस्कान ने रागिनी के खिलाफ 150 में से 150 अंक हासिल करते हुए विश्व रिकॉर्ड की बराबरी भी की। इसके साथ ही यह राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बन गया है। रागिनी ने रैंकिंग राउंड में मप्र को दूसरा रजत पदक दिलाया। इसी स्पर्धा में मुस्कान ने कांस्य पदक अपने नाम किया। वहीं, चिराग और रागिनी की जोड़ी ने मिश्रित युगल में महाराष्ट्र को 157-154 के अंतर से हराकर कांस्य पदक जीता। इस तरह मप्र ने एक स्वर्ण, दो रजत और तीन कांस्य पदक अपने नाम किए हैं।

उल्लेखनीय है कि मुस्कान सहित सभी खिलाड़ी मप्र राज्य तीरंदाजी अकादमी, जबलपुर में मुख्य कोच श्री रिचपाल सलारिया के मार्गदर्शन में प्रशिक्षणरत है।



प्रभारी



प्रचार प्रसार

प्रथम हॉकी इंडिया सब जूनियर बालक अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनिशप-2021



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार



प्रथम हॉकी इंडिया सब जूनियर बालक अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनिशप-2021

साई भोपाल के संचालक श्री सत्यजीत संकृत के मुख्य आतिथ्य में हुआ प्रतियोगिता का शुभारंभ

ओडिशा नेवल टाटा हॉकी हाई परफारमेंस सेंटर, ओलम्पियन विवेक सिंह हॉकी अकादमी, राजा करण हॉकी अकादमी और राउण्डग्लास पंजाब हॉकी क्लब अकादमी ने प्रारंभिक मुकाबले जीते

भोपाल, दिनांक 04 अक्टूबर, 2021

प्रथम सब जूनियर बालक अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनिशप-2021 का आयोजन हॉकी इंडिया तथा खेल और युवा कल्याण विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया जा रहा है। साई भोपाल के क्षेत्रीय निदेशक श्री सत्यजीत संकृत के मुख्य आतिथ्य में प्रतियोगिता का शुभारंभ हुआ। श्री सत्यजीत संकृत ने खिलाड़ियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि यह प्रतियोगिता कोरोना काल के बाद आयोजित पहली प्रतियोगिता है। उन्होंने भोपाल में पधारे सभी खिलाड़ियों, तकनीकी अधिकारियों और प्रशिक्षकों का स्वागत किया। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस प्रतियोगिता से देश को चैम्पियन खिलाड़ी मिलेगें। उन्होंने हॉकी इंडिया तथा खेल और युवा कल्याण विभाग के इस प्रयास की मुक्तकंठ से सराहना की।

शुभारंभ अवसर पर अर्जुन अवार्डी एवं साई भोपाल के हाई परफारमेंस डायरेक्टर श्री यशपाल सिंह सोलंकी, संयुक्त संचालक खेल डॉ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस यादव भी विशेष रूप से उपस्थित थे।

प्रतियोगिता के पहले दिन आज चार मुकाबले खेले गए। विवरण निम्नानुसार हैः-

पहला मैच

आज प्रातः 7.00 बजे बरार हॉकी अकादमी (विदर्भ) अमरावती विरूद्ध ओडिशा नेवल टाटा हॉकी हाई परफारमेंस सेंटर के मध्य हुआ। जिसमें ओडिशा नेवल टाटा हॉकी हाई परफारमेंस सेंटर ने 30-0 से बरार हॉकी अकादमी परास्त किया।

दूसरा मैच

प्रतियोगिता का दूसरा मैच प्रातः 8ः45 बजे भाई बेहलो हॉकी अकादमी भागटा विरूद्ध ओलम्पियन विवेक सिंह हॉकी अकादमी के मध्य हुआ। जिसमें ओलम्पियन विवेक सिंह हॉकी अकादमी ने 12-1 से भाई बेहलो हॉकी अकादमी भागटा को परास्त किया।

तीसरा मैच

प्रतियोगिता के अंतर्गत तीसरा मैंच प्रातः 10.15 बजे चीमा हॉकी अकादमी विरूद्ध राजा करण हॉकी अकादमी के मध्य हुआ जिसमें राजा करण हॉकी अकादमी ने चीमा हॉकी अकादमी को 8-0 से परास्त किया।

चौथा मैच

प्रतियोगिता के अंतर्गत चौथा मैच अपरांह 03.30 बजे सिटीजन हॉकी इलेवन विरूद्ध राउण्डग्लास पंजाब हॉकी क्लब अकादमी के मध्य हुआ। जिसमें राउण्डग्लास पंजाब हॉकी क्लब अकादमी ने 19-0 से सिटीजन हॉकी इलेवन को हराया।

मंगलवार, 5 अक्टूबर को होने वाले मुकाबले

प्रतियोगिता के अंतर्गत दूसरे दिन 5 अक्टूबर को कुल चार मुकाबले खेले जायेगें। प्रातःकाल 7.00 बजे से मुकाबले प्रारंभ होंगे। अंतिम मैच दोपहर 3.15 बजे खेला जायेगा। कल होने वाले मुकाबले का विवरण निम्न प्रकार हैः-

पहला मैच प्रातः 7.00 बजे ध्यानचंद हॉकी अकादमी विरूद्ध साई अकादमी, दूसरा मैच 8.45 बजे गुमानहिरा राईजर्स अकादमी विरूद्ध एसजीपीसी हॉकी अकादमी, तीसरा मैच प्रातः 10.15 बजे हिम अकादमी विरूद्ध वादीपत्ती राजा हॉकी अकादमी तथा चौथा मैच 03.30 बजे हरियाणा हॉकी अकादमी विरूद्ध तमिलनाडू हॉकी अकादमी के मध्य खेला जायेगा।

--------

प्रभारी

प्रचार प्रसार

अंडर-23 नेशनल एथलेटिक्स चैम्पियनशिप-नई दिल्ली, एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ी अभिषेक और दिक्षा ने 800 मीटर में जीते दो रजत पदक



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

अंडर-23 नेशनल एथलेटिक्स चैम्पियनशिप-नई दिल्ली

----

एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ी अभिषेक और दिक्षा ने 800 मीटर में जीते दो रजत पदक

----

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने दी बधाई



भोपाल, दिनांक 29 सितम्बर, 2021

प्रथम राष्ट्रीय अंडर-23 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप जो कि 27 से 29 सितम्बर, 2021 तक नई दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेली जा रही है। जिसमें अकादमी के खिलाड़ियों ने 800 मीटर दौड़ में दोहरी सफलता अर्जित की है। अकादमी के खिलाड़ी अभिषेक ठाकुर एवं के.एम. दिक्षा ने एक-एक रजत पदक अर्जित किया। पहली बार आयोजित राष्ट्रीय अंडर-23 एथलेटिक्स प्रतियोगिता में देश के चोटी के खिलाड़ी भागीदारी कर रहे है।

मध्य प्रदेश राज्य खेल अकादमी के दोनों खिलाड़ियों की सफलता पर प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने बधाई और शुभकामनाएं दी है। आज ख्ेाले गए फायनल मुकाबले में परिणाम इस प्रकार रहेः-

800 मीटर पुरूषः-

1. सोमनाथ चौहान, हरियाणा ने 1ः53.75 सेकेण्ड में दौड़ पूरी कर स्वर्ण पदक अर्जित किया।

2. अभिषेक ठाकुर, मध्य प्रदेश राज्य खेल अकादमी ने 1ः53.86 सेकेण्ड में दौड़ पूरी कर रजत पदक अर्जित किया।

3. देवेन्द्र कुमार, हरियाणा ने 1ः53.87 सेकेण्ड में दौड़ पूरी कर कांस्य पदक अर्जित किया।

800 मीटर महिलाः-

1. चन्दा, दिल्ली ने 2ः03.40 सेकेण्ड में दौड़ पूरी कर स्वर्ण पदक अर्जित किया।

2. के.एम. दिक्षा, मध्य प्रदेश राज्य खेल अकादमी ने 2ः04.62 सेकेण्ड का समय निकाल कर रजत पदक अर्जित किया।

3. राधा चौधरी, दिल्ली ने 2ः06.00 सेकेण्ड का समय निकाल कर कांस्य पदक अर्जित किया।



--------

प्रभारी

प्रचार प्रसार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महिला हॉकी खिलाड़ियों को 31-31 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि से किया सम्मानित



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महिला हॉकी खिलाड़ियों को 31-31 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि से किया सम्मानित

----

खेल मंत्री मान.यशोधरा राजे सिंधिया ने विश्व स्तरीय अधोसंरचना, उत्कृष्ट प्रशिक्षण और सशक्त नेतृत्व को बताया मप्र की सफलता का आधार

----

आईओए अध्यक्ष नरिंदर ध्रुव बत्रा ने मध्यप्रदेश हॉकी अकादमी को बताया भारतीय हॉकी के लिए बड़ा सपोर्ट



भोपाल, दिनांक 28 सितम्बर, 2021

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने वादे के मुताबिक टोक्यो ओलंपिक-2020 कि भारतीय महिला टीम के खिलाड़ियों को मंगलवार को मिंटो हाल में आयोजित गरिमामय सम्मान समारोह में 31-31 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने भारतीय हॉकी और अन्य खेलों को आगे बढ़ाने के लिए हरसंभव मदद का वादा भी किया। खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष श्री नरिंदर ध्रुव बत्रा का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश हॉकी सहित किसी भी खेल आयोजन के लिए हमेशा तैयार है। इस अवसर पर श्री बत्रा ने मध्यप्रदेश की खेल संरचना और यहां की सुविधाओं की प्रशंसा की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सबसे पहले खिलाड़ी बेटियों और आईओए अध्यक्ष श्री बत्रा का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया। अपने उद्बोधन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारी बेटियों ने हॉकी में कमाल कर दिया। हमारी टीम भले ही चौथे स्थान पर रही, लेकिन उनका प्रदर्शन देश को गौरवान्वित करने वाला रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जब मैं मैच देख रहा था और आपकी आंखों में आंसू देखे तभी मैंने तय कर लिया था कि इन बेटियों को भोपाल में लाकर सम्मानित करूंगा। आज हमारे लिए यह गर्व की बात है कि आईओए अध्यक्ष श्री बत्रा के विशिष्ट आतिथ्य में आप सभी का सम्मान करने को मिला। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश एक समय बीमारू राज्य कहा जाता था, लेकिन अब यह विकसित होता जा रहा है। खेलों में मध्यप्रदेश शीर्ष राज्यों में आ गया है। हमारे पास ऐसी खेलमंत्री है जो अंगूठी में नगीने जैसी है। उनकी प्रदेश के खेलों को आगे बढ़ाने की जीवटता देखते ही बनती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि श्री बत्रा जी ने मध्यप्रदेश में खेलों की उपलब्धियों को देखा ही है। हमने खेलो इंडिया की मेजबानी मांगी है और अब हम राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी भी करने को तैयार है। आप हमें बताते जाए और मध्यप्रदेश आपके साथ है। खेलों में किसी भी चीज की मदद के लिए मध्यप्रदेश सरकार कमी नहीं आने देगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हॉकी की बेटियों के बारे में बताया कि वे किन परिस्थिितियों से दो-चार होकर इस मुकाम पर पहुंची है। हमारी बेटियां इन विषम परिस्थितियों से लड़कर ओलंपिक में परचम फहराकर आई है। श्री चौहान ने कहा कि मैं आप सभी के जज्बे का स्वागत करता हूं। आपके जज्बे, समर्पण, देशभक्ति और जीवटता से देश गौरवान्वित हुआ है। आज आपके प्रदर्शन से लोगों ने अपने बच्चों को खेलों में भेजना शुरू कर दिया है। यह दृष्टिकोण आपकी वजह से ही बदला है।

लीडरशिप ने दी हॉकी को बड़ी उपलब्धि: खेलमंत्री सिंधिया

खेलमंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री का खेलों के प्रति प्रेम ही रहा है कि मध्यप्रदेश में महिला हॉकी अकादमी की स्थापना हो सकी। हमारी अकादमी में विश्व स्तरीय सुविधाएं हैं और खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम में प्रतिनिधित्व कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी खिलाड़ियों ने साबित कर दिखाया कि कड़ी मेहनत और लगन से इस मुकाम पर पहुंचा जा सकता हैं। इन सभी के पीछे एक लीडरशिप काम करती है और वह टीम की कप्तान सुश्री रानी रामपाल ने कर दिखाई। वैसी ही लीडरशिप मध्यप्रदेश सरकार में हमारे मुख्यमं़त्री माननीय शिवराज सिंह जी की है। उनके नेतृत्व में ही मध्यप्रदेश ने खेलों में नया मुकाम हासिल किया है। मुझे उम्मीद है कि हमारी हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक में जिस तरह से प्रदर्शन किया है उससे आने वाले ओलंपिक में पदक जीतने की संभावनाएं बढ़ गई है। खेलमंत्री सिंधिया ने कहा कि भारतीय खेलों में माननीय बत्रा जी की लीडरशिप में देश ने ओलंपिक में रिकॉर्ड 7 पदक जीते। यह उनकी लीडरशिप और दूरदर्शिता का ही कमाल है। मध्यप्रदेश हमेशा से हॉकी का गढ़ रहा है। भोपाल हॉकी की नर्सरी रहा है। हमारे पास पूरे प्रदेश में 11 एस्ट्रो टर्फ है एवं चार और तैयार होने वाले हैं। हमारे पास पूरे प्रदेश में 29 हॉकी फीडर सेंटर हैं, जहां बच्चे अभ्यास करते हैं। इन्हीं फीडर सेंटर से आने वाले समय में और भी खिलाड़ी देश को मिलेंगे। मध्यप्रदेश हॉकी की किसी भी स्तर की मेजबानी के लिए हमेशा तैयार है।

मप्र हॉकी अकादमी हमारे लिए बड़ा सपोर्ट: श्री बत्रा

आईओए अध्यक्ष श्री बत्रा ने कहा कि मध्यप्रदेश में खेलों को भरपूर बढ़ावा दिया जा रहा है। यहां विशेष रूप से महिला खिलाड़ियों को खेलों में बढ़ावा दिए जाने के लिए जिस तरह के प्रयास किए जा रहे हैं वे सराहनीय है। इसके लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान तथा खेल मं़त्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया और उनकी पूरी टीम बधाई की पात्र है। मध्यप्रदेश सरकार ने हमें वादा किया है कि महिला खेलों पर काम करेंगे। मप्र में लंबे समय तक खेलों के अभ्यास के लिए शिविर के आयोजन का भी प्रस्ताव दिया है। हम निकट भविष्य में इन संभावनाओं पर विचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मप्र में सभी खेलों में अपार संभावनाएं हैं। मप्र हॉकी अकादमी हमारे लिए एक बड़ा सपोर्ट का काम कर रही है। यहां से हमें राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी मिल रहे हैं। यह हमारे लिए गर्व का विषय है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और खेलमंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया का खेलों के प्रति प्रेम हमने देखा है। इसके लिए मप्र सरकार और खेल विभाग की पूरी टीम प्रशंसा की पात्र है। उन्होंने सम्मान समारोह के बारे में कहा कि खिलाड़ी अपने खेल के बदले यही सम्मान चाहता है, जो मप्र सरकार कर रही है। यह उनके मनोबल को बढ़ाता है। पुरूष हॉकी टीम के खिलाड़ी मप्र के विवेक सागर प्रसाद को सरकार ने जिस तरह से प्रोत्साहित किया वह देश भर के लिए मिसाल है। मैं मप्र सरकार का आभारी हूं।

मप्र हॉकी अकादमी ने देश में उदाहरण स्थापित किया: सुश्री रानी रामपाल

टोक्यो ओलंपिक में अपने नेतृत्व में टीम को सेमीफाइनल तक पहुंचाने वाली सुश्री रानी रामपाल ने कहा कि मध्यप्रदेश की हॉकी अकादमी ने देश में एक उदाहरण स्थापित किया है। यह अकादमी विश्व स्तरीय है और सभी सुविधाएं भी यहां मौजूद है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और खेलमंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी ने मप्र के खेलों को नई दिशा दी है। मुख्यमंत्री जी महिला खिलाड़ियों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। मध्यप्रदेश में खेलमंत्री एक महिला है और उनका खेलों के प्रति विजन वाकई लाजवाब है। उनकी दूरदर्शिता ही मप्र के खेलों को आगे बढ़ा रही है। टोक्यो ओलंपिक के अनुभव को शेयर करते हुए सुश्री रानी ने कहा कि एक समय था जब भारतीय टीम दूसरी टीमों से खेलती थी तो एक डर मन में रहता था। अब वह डर नहीं रहा। हमने लास्ट के तीन मैचों में एक ही लक्ष्य रखा था आखिरी पलों तक लड़ना है। हमने इसी पर काम किया और सफलता हासिल की। उन्होंने कहा कि शायद इसी बात को देखकर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हमें आज यहां बुलाया है।

संचालक खेल ने किया आभार व्यक्त

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री रवि कुमार गुप्ता ने समारोह में उपस्थित सभी अतिथियों और महिला टीम का आभार व्यक्त किया। उन्होंने मध्यप्रदेश के खेलों के बारे में जानकारी भी दी।

मप्र ओलंपिक संघ के पदाधिकारी रहे मंचासीन

सम्मान समारोह में मप्र ओलंपिक संघ के अध्यक्ष श्री रमेश मेंदोला, सचिव श्री दिग्विजय सिंह, हॉकी इंडिया के अध्यक्ष राजिंदर सिंह, हॉकी इंडिया की सीईओ एलीना नॉर्मन एवं हॉकी टीम की सभी सदस्य मंचासीन रहे।

श्री बत्रा ने भेंट किए स्मृति चिह्न

आईओए के अध्यक्ष श्री नरिंदर ध्रुव बत्रा ने सम्मान समारोह के अंत में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, खेलमं़त्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया को स्मृति चिह्न प्रदान किए।

हॉकी टीम ने मुख्यमंत्री को भेंट की टी-शर्ट

भारतीय महिला हॉकी टीम ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सभी खिलाड़ियों की हस्ताक्षर की हुई टी-शर्ट भेंट की। इस दौरान खेलमंत्री यशोधरा राजे सिंधिया विशेष रूप से उपस्थित रही। सम्मान समारोह की शुरूआत वंदे मातरम् और मप्र गान का गायन सुश्री सुहासिनी जोशी ने किया।

मुख्यमंत्री ने अपने निवास पर किया लंच का आयोजन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान भारतीय महिला खिलाड़ियों के लिए के लिए अपने निवास पर दोपहर भोजन का आयोजन किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने महिला हॉकी टीम की सदस्यों के साथ स्मार्ट सिटी क्षेत्र में पौधरोपण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रतिदिन एक पौधा रोपते हैं। इसी क्रम में मंगलवार को उन्होंने महिला टीम की खिलाड़ियों के साथ पीपल का पौधा लगाया।

एनआईसी के माध्यम से प्रदेशभर में प्रसारण

भारतीय महिला हॉकी टीम के सम्मान समारोह का सीधा प्रसारण एनआईसी के माध्यम से मध्यप्रदेश के सभी जिलों में किया गया। इस दौरान जिला स्तर पर सभी जिला खेल अधिकारी और जिले के प्रमुख खिलाड़ी भी उपस्थित रहे।

आईओए अध्यक्ष श्री बत्रा का भव्य स्वागत

भारतीय ओलंपिक संघ आईओए के अध्यक्ष श्री नरिंदर ध्रुव बत्रा का सुबह भोपाल विमानतल पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया। संचालक खेल और युवा कल्याण श्री रवि कुमार गुप्ता ने पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका आत्मीय स्वागत किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में खिलाड़ी एवं खेल संघों के पदाधिकारी मौजूद रहे।

--------

प्रभारी

प्रचार प्रसार

मुख्यमंत्री श्री चौहान 28 सितंबर को भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ियों को करेंगे सम्मानित



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, मध्यप्रदेश

तात्याटोपे स्टेडियम, भोपाल



समाचार



मुख्यमंत्री श्री चौहान 28 सितंबर को भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ियों को करेंगे सम्मानित



खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया की अध्यक्षता में प्रत्येक खिलाड़ी को 31 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि मिलेगी



मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने वादे के मुताबिक 28 सितंबर को टोक्यो ओलंपिक 2020 कि भारतीय महिला टीम के खिलाड़ियों को सम्मानित करते हुए प्रत्येक खिलाड़ी को 31 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान करेंगे। खेल मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया की अध्यक्षता में मंगलवार को दोपहर 12 बजे मिंटो हॉल में आयोजित इस कार्यक्रम में हॉकी फेडरेशन ऑफ इंडिया और इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री नरेंद्र ध्रुव बत्रा विशिष्ट अतिथि होंगे ।इसके अलावा हॉकी इंडिया के अध्यक्ष श्री ज्ञानेंद्रओ निगोमबम हॉकी इंडिया की सीईओ सुश्री एलीना नार्मन सचिव श्री राजेंद्र सिंह तथा महिला हॉकी टीम के प्रशिक्षक श्री तुषार खांडेकर भी विशेष रूप से उपस्थित होंगे।



खेल मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान खेल और खिलाड़ियों को प्रोत्साहित और सम्मानित करने में तत्पर रहते हैं। टोक्यो ओलंपिक 2020 में महिला हॉकी टीम के शानदार ऐतिहासिक प्रदर्शन ने देश और दुनिया का दिल जीत लिया था। खिलाड़ियों के प्रदर्शन से हमेशा की तरह मुख्यमंत्री श्री चौहान भी प्रभावित हुए उन्होंने जब भारतीय महिला हॉकी टीम टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन के बावजूद चौथे स्थान पर रही तभी श्री चौहान ने इन बेटियों को सम्मानित करने की घोषणा कर दी थी।



खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने बताया कि प्रदेश के लिए यह हमेशा ही गौरव की बात रही है की 2016 के रियो ओलंपिक में ही मध्य प्रदेश राज्य महिला हॉकी अकादमी ग्वालियर मे प्रशिक्षण प्राप्त सात खिलाड़ियों ने भारतीय हॉकी टीम में अपनी छाप विश्व मंच पर छोड़ी थी .2020 के टोक्यो ओलंपिक में भी मध्य प्रदेश राज्य महिला हॉकी अकादमी से प्रशिक्षित पांच खिलाड़ियों ने देश का प्रतिनिधित्व किया। इसमें सुशीला चानू, रीना खोखर ,मोनिका ,रजनी और वंदना कटारिया शामिल है।

श्रीमती सिंधिया ने बताया कि प्रदेश में हॉकी को पुनर्जीवित करने के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने वर्ष 2006 में ग्वालियर में राज्य महिला हॉकी अकादमी की स्थापना की थी ।यहां देश के चुनिंदा खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। विश्व स्तरीय सर्व सुविधा युक्त इस आधुनिक अकादमी ने कई खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय मंच दिया है।





भारतीय महिला हॉकी टीम के सदस्य



सुश्री रानी रामपाल (कप्तान) ,सविता पूनिया ,दीप ग्रेस एक्का, निशा ,गुरजीत कौर ,सलीमा टेटे ,उदिता ,मोनिका, निक्की प्रधान ,नेहा ,पी सुशीला चानू, वंदना कटारिया, नवनीत कौर, नवजोत कौर, शर्मिला देवी, लालरेमसियामी, ई.रजनी ,रीना खोकर और नमिता टोप्पो



भारतीय टीम का प्रदर्शन



भारतीय महिला हॉकी टीम ने पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल तक का सफर तय कर ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की। कांस्य पदक के मुकाबले में भारतीय टीम को बेहद करीबी अंतर से इंग्लैंड से 3- 4 से हार का सामना करना पड़ा था ।इससे पहले भारत ने क्वार्टर फाइनल में ओलंपिक और विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया था। इस मुकाबले में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से पराजित किया था लीग मुकाबलों में भारतीय महिला हॉकी टीम का प्रदर्शन सराहनीय रहा था।



प्रभारी प्रचार-प्रसार

संचालनालय खेल और युवा कल्याण म.प्र.

यांकटन, अमेरिका में आयोजित विश्व सीनियर आर्चरी प्रतियोगिता में म.प्र. राज्य आर्चरी अकादमी की खिलाड़ी मुस्कान किरार ने कम्पाउण्ड टीम इवेन्ट में भारत को दिलाया रजत पदक



View





संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

यांकटन, अमेरिका में आयोजित विश्व सीनियर आर्चरी प्रतियोगिता में म.प्र. राज्य आर्चरी अकादमी की खिलाड़ी मुस्कान किरार ने कम्पाउण्ड टीम इवेन्ट में भारत को दिलाया रजत पदक

---

फायनल मुकाबले में कोलम्बिया की टीम के विरूद्ध भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए मुस्कान किरार ने सर्वाधिक 80 में से 78 अंक अर्जित किए

---

मान. खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने मुस्कान को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर देश के लिए रजत पदक अर्जित करने पर बधाई दी



भोपाल, दिनांक 25 सितम्बर, 2021

यांकटन, अमेरिका में 19 से 26 सितम्बर, 2021 तक आयोजित सीनियर वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप में महिला कम्पाउण्ड टीम इवेन्ट में मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी जबलपुर की खिलाड़ी मुस्कान किरार ने कोलम्बिया के विरूद्ध फायनल मुकाबले में दमदार प्रदर्शन किया। मुस्कान टॉप स्कोरर रही। भारत यह मुकाबला कोलम्बिया से हार गया। कोलम्बिया ने भारत को 229 के मुकाबले 224 अंकों से हराया।

भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए मुस्कान किरार ने 80 में से 78 अंक अर्जित किए।

भारत की तरफ से इस टीम इवेन्ट में मुस्कान किरार (जबलपुर, म.प्र.), प्रिया गुर्जर (राजस्थान) और ज्योति (आन्ध्रप्रदेश) भारतीय टीम की सदस्या थी। फायनल मुकाबले में कोलम्बिया ने भारत को 229 के मुकाबले 224 अंकों से हराया। भारत की तरफ से मुस्कान किरार ने 80 में से 78, प्रिया ने 80 में से 74 और ज्योति ने 80 में से 72 अंक अर्जित किए थे। बहुत ही संघर्षपूर्ण मुकाबले में भारतीय टीम कोलम्बिया से हार गई।

प्रतियोगिता में भारतीय टीम का प्रदर्शन

1. भारत विरूद्ध ग्रेट ब्रिटेन, क्वार्टर फायनल

र्क्वाटर फायनल मुकाबले में भारतीय टीम ने ग्रेट ब्रिटेन को 02 अंकों से हराया था। फायनल स्कोर 144 भारत, 142 ब्रिटेन।

2. सेमी फायनल मुकाबला भारत विरूद्ध यूएसए (न्ै।)

सेमी फायनल मुकाबले में भारतीय टीम ने यूएसए की सशक्त टीम को मात्र एक अंक से हराया था। भारत 226, यूएसए 225 अंक रहा था। मुस्कान किरार ने इस पूरी प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन किया। फायनल मुकाबले में भारत की तरफ से टॉप स्कोरर रही।

मान. खेल मंत्री ने दी मुस्कान को बधाई

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर भारत के लिए रजत अर्जित करने के लिए मुस्कान किरार को दूरभाष पर बधाई दी। उन्होंने म.प्र. राज्य तीरंदारी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक एवं भारतीय टीम के यूएसए में प्रशिक्षक रिचपाल सिंह सलारिया को भी बधाई दी है। उन्होंने मुस्कान को और अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया है। उन्हांेने विश्व सीनियर आर्चरी चैम्पियनशिप में अर्जित इस उपलब्धि को बड़ी उपलब्धि बताया।

मुस्कान किरार की उपलब्धियां

मुस्कान किरार मूलतः जबलपुर की निवासी है। मुस्कान को वर्ष 2018 में राज्य शासन ने एकलव्य पुरस्कार तथा वर्ष 2019 में विक्रम पुरस्कार से सम्मानित किया था। मुस्कान किरार ने एशियन गेम्स 2018 में रजत पदक अर्जित किया था। एशियन आर्चरी चैम्पियनशिप बैंकाक थाईलैण्ड में टीम सिल्वर। वर्ल्ड चैम्पियनशिप नीदरलैण्ड में कांस्य पदक अर्जित किया था। मुस्कान अब तक 14 अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर चुकी है। इन प्रतियोगिताओं में मुस्कान ने एक स्वर्ण, छह रजत और तीन कांस्य पदक सहित भारत को कुल 10 पदक दिलाए हैं।

---------------





प्रभारी

प्रचार प्रसार

क्यूबन प्रशिक्षक देंगे बॉक्सिंग अकादमी खिलाड़ियों को ट्रेनिंग खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने की बॉक्सिंग अकादमी की समीक्षा



View

क्यूबन प्रशिक्षक देंगे बॉक्सिंग अकादमी खिलाड़ियों को ट्रेनिंग

खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने की बॉक्सिंग अकादमी की समीक्षा



भोपाल : बुधवार, सितम्बर 15, 2021, 19:41 IST





खेल मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने मध्यप्रदेश राज्य बॉक्सिंग अकादमी की समीक्षा बैठक में निर्देश दिये कि अकादमी के खिलाड़ियों के बेहतर प्रदर्शन को देखते हुए अंतर्राष्ट्रीय प्रशिक्षक को पन्द्रह दिनों के लिये संबद्ध करें। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी अकादमी में क्यूबा के कोच प्रशिक्षण दे चुके हैं और हमारे खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था। श्रीमती सिंधिया ने कहा कि एशियन गेम्स में एक साल का वक्त है और अकादमी के खिलाड़ियों के प्रदर्शन में कोई कमी न हो, इसलिये पुन: क्यूबा से नये कोच को अकादमी के साथ संबद्ध करने की प्रक्रिया करें। खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया बुधवार को टी.टी. नगर स्टेडियम में म.प्र. राज्य बॉक्सिंग अकादमी की समीक्षा कर रही थीं। खेल मंत्री प्रति सप्ताह विभिन्न अकादमियों की भविष्य में होने वाले एशियन गेम्स की तैयारियों की लगातार समीक्षा कर रही हैं।



खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने बॉक्सिंग प्रशिक्षक श्री रोशन लाल से खिलाड़ियों के डाइट, किट, बॉक्सिंग ग्लब्स, शूज आदि के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने न्यूट्रीशनिस्ट सुश्री आराधना से वर्चुअल माध्यम से खिलाड़ियों को दिये जाने वाले प्रोटीन सप्लीमेंट की जानकारी ली।



श्रीमती सिंधिया ने कहा कि प्रशिक्षक यह सुनिश्चित करें कि जब खिलाड़ी किसी प्रतियोगिता के लिये जाते हैं, तो वे अपने साथ अपना डाइट सप्लीमेंट अवश्य ले जायें। उन्होंने प्रशिक्षक को निर्देश दिये कि वे अपने खेल कैलेण्डर न्यूट्रीशनिस्ट के साथ भी साझा करें, जिससे वे खिलाड़ियों के वजन के हिसाब से उनकी डाइट को मेंटेन रख सकेंगी। बैठक में प्रमुख सचिव खेल श्री गुलशन बामरा, संचालक खेल श्री रवि कुमार गुप्ता तथा अन्य अधिकारी मौजूद थे।



बिन्दु सुनील

म.प्र. बॉक्सिंग अकादमी के खिलाड़ी अमन विष्ट ने देश को दिलाया कांस्य पदक



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

एशियन यूथ बॉक्सिंग चैम्पियनशिप- दुबई

----

म.प्र. बॉक्सिंग अकादमी के खिलाड़ी अमन विष्ट ने देश को दिलाया कांस्य पदक

----

अमन ने की खेल संचालक से भेंट



भोपाल, दिनांक 02 सितम्बर, 2021

मध्य प्रदेश मार्शल आर्ट बॉक्सिंग अकादमी के बॉक्सर अमन सिंह विष्ट ने दुबई में 21 से 31 अगस्त, 2021 तक आयोजित एशियन यूथ बॉक्सिंग चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करते हुए देश को कांस्य पदक दिलाया।

दुबई से भोपाल लौटे बॉक्सिंग खिलाड़ी अमन बिष्ट ने आज टी. टी. नगर स्टेडियम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री जैन ने पुष्प गुच्छ से अमन बिष्ट का स्वागत करते हुए उन्हें दुबई में भारत का परचम फहराने के लिए शाबाशी और बधाई देकर प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर देश का गौरव बढ़ा रहे हैं। इस अवसर पर बॉक्सिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री रोशनलाल भी उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि अमन बिष्ट मध्य प्रदेश के एक मात्र खिलाड़ी हैं जिनका एशियन यूथ बॉक्सिंग चैंपियनशिप के लिए 92$ किलो भार वर्ग में भारतीय बॉक्सिंग टीम में चयन हुआ। पिछले दिनों सोनीपत में संपन्न राष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन कर स्वर्ण पदक जीतने पर उनका एशियन चैंपियनशिप के लिए चयन हुआ। म. प्र. बॉक्सिंग अकादमी के चीफ कोच श्री रोशन लाल को 13 सदस्यीय भारतीय दल का कोच बनाया गया था।

--------------

महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

ओलिंपियन श्री विवेक सागर बने क्रिस्प के स्पोर्टस प्रमोटिंग ब्रांड एम्बेसडर



View





जनसम्पर्क संचालनालय

मध्यप्रदेश शासन

समाचार

ओलिंपियन श्री विवेक सागर बने क्रिस्प के स्पोर्टस प्रमोटिंग ब्रांड एम्बेसडर

-------

श्री विवेक ने क्रिस्प के DMIT सॉफ्टवेयर का किया शुभारंभ

भोपाल : 2 सितम्बर, 12021



क्या हमें अपनी स्वाभाविक जन्मजात प्रतिभाओं, क्षमताओं और शक्तियों की जानकारी है? क्या हम अपनी प्रतिभाओं के प्रति सजग है? सेंटर फॉर रिर्सच एण्ड इंडस्ट्रियल स्टाफ परफॉरमेस (क्रिस्प) द्वारा ऐसे ही एक सॉफ्टवेयर तैयार किया गया है जिसकी मदद से फिंगर प्रिंट के द्वारा व्यक्तिव विशलेषण किया जा सकता है। गुरूवार को प्रदेश के ओलिंपिक हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर ने श्यामला हिल्स स्थित क्रिस्प संस्थान में डरमैटोगलाइफिक्स मल्टिपल इंटेलीजेन्स टेस्ट (DMIT) सॉफ्टवेयर का शुभारंभ किया। इस अवसर पर श्री विवके सागर का फिगंर प्रिंट के माध्यम से ब्रेन मेंपिग भी किया गया। ओलिंपियन श्री विवेक सागर के सम्मान में गुरूवार को आयोजित कार्यक्रम में क्रिस्प संस्थान ने उन्हें स्पोटर्स प्रमोटिंग ब्रांड एम्बेसडर घोषित किया।

सम्मान हमेशा मोटिवेट करता है

ओलिंपियन हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर ने कहा कि खिलाड़ियों के लिए सम्मान हमेशा प्रोत्साहित करता है। हर क्षेत्र में शुरूआत में मुश्किलें आती है, लेकिन परिवार का सहयोग, प्रोत्साहन और खुद में कुछ कर गुजरने का जूनून सफलता की राह दिखाता है। श्री विवेक ने कहा कि क्रिस्प संस्थान द्वारा तैयार की गई नई आधुनिक वैज्ञानिक तकनीक (DMIT) अब प्रदेश में नए टैलेंट को निखारने में मददगार साबित होगी। वर्तमान में प्रदेश खेलों के क्षेत्र में आगे है और खेल विभाग में खिलाड़ियों को बेहतरीन सुविधाओं के साथ आधुनिक तकनीकों से लैस हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध है। क्रिस्प द्वारा शुरू किए गए (DMIT) सॉफ्टवेयर से छोटी उम्र के बच्चों को खेल में रूचि और उनकी क्या क्वालिटी है यह पता लग सकेगा। यह सॉफ्टवेयर टेलेंट सर्च में भी काफी मददगार साबित होगा।



स्पोटर्स एक बड़ी इंडस्ट्री है

क्रिस्प सोसाइटी के अध्यक्ष डॉ. श्रीकांन्त पाटिल ने कहा कि स्पोटर्स एक बड़ी इंडस्ट्री है। भारत युवाओं का देश है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश की अवधारणा को पूरा करने में युवा शक्ति का सकारात्मक सहयोग आवश्यक है। उन्होंने ओलिंपियन श्री विवेक सागर को सम्मानित करते हुए कहा कि विवेक आज यूथ ऑइकन बन गए है। उनकी लगन और मेहनत ने उन्हें इस मुकाम तक पहुँचाया है। श्री पाटील ने कहा कि क्रिस्प संस्थान द्वारा तैयार DMIT सॉफ्टवेयर विभिन्न प्रकार के एनालिसिस करता है। इस तकनीक से फिगंर प्रिंट की मदद से हमारे मस्तिष्क को जाना जा सकता है।

डी एम आई टी

क्रिस्प की मेनेजर डॉ. संस्कृति मिश्रा ने बताया कि डरमैटोग्लाइफिक्स मल्टिपल इंटलीजेन्स एनालिसिस एक विज्ञान है, जिसमें हाथों के फिगंर प्रिंट का अध्ययन किया जाता है। उन्होंने बताया कि पहले इस विधा का प्रयोग अपराध विज्ञान के लिए किया जाता था। इसके बाद इस अध्ययन का प्रयोग शारीरिक और मानसिक रोग की पहचान करने के लिए किया जाने लगा। डा. मिश्रा ने बताया कि इस दौरान ये पाया गया कि फिगंर प्रिंट का संबंध हमारे मस्तिष्क से होता है, फिगंर प्रिंट तथा मस्तिष्क का विकास भ्रूण अवस्था में माता के गर्भ में ही 10वें से 12वें सप्ताह में हो जाता है। शोध में यह भी पाया गया कि जिस तरह की आकृतियाँ व्यक्ति के मस्तिष्क के विभिन्न भागों पर है, ठीक उसी प्रकार की एक समान छाप व्यक्ति की उगँलियों पर फिगंर प्रिंट के रूप में उपलब्ध है, जिसे न्यूरो मैगनेटिक इफेक्ट कहा जाता है।

_______

टी.टी. नगर स्टेडियम में यूक्रेनियन कोच से ट्रेनिंग लेकर शरद कुमार ने देश को दिलाया कांस्य पदक



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

भोपाल की अंतिम ट्रेनिंग ने किया टोक्यो पैरालिंपिक में शरद कुमार की सफलता का मार्ग प्रशस्त

टी.टी. नगर स्टेडियम में यूक्रेनियन कोच से ट्रेनिंग लेकर शरद कुमार ने देश को दिलाया कांस्य पदक



भोपाल, दिनांक 31 अगस्त, 2021

टोक्यो पैरालिंपिक में भारतीय एथेलेटिक्स टीम का प्रतिनिधित्व कर देश को कांस्य पदक दिलाने वाले बिहार के खिलाड़ी शरद कुमार की भोपाल में हुई अन्तिम ट्रेनिंग ने उनकी सफलता का मार्ग प्रशस्त किया। पैरा एथलीट शरद कुमार ने टोक्यो पैरालिंपिक में भागीदारी से पूर्व एक महीने ट.ीटी. नगर स्टेडियम में यूक्रेनियन कोच निकितिन के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग की और लॉन्ग जंप की बारीकियां सीखी। उनकी कड़ी मेहनत रंग लाई और उन्होंने टोक्यो पैरालिंपिक में देश को कांस्य पदक दिलाकर विश्व में भारत का गौरव बढ़ाया।



वर्ल्ड क्लास फेसिलिटी

टोक्यो पैरालिंपिक में रवाना होने से पूर्व शरद कुमार ने संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की तब खेल संचालक श्री पवन जैन ने शरद कुमार को पैरालिंपिक में देश के लिए पदक जीतने की शुभ कामनाएं देते हुए उनसे पूछा था कि आप ट्रेनिंग के लिए पिछले एक महीने यहां रहे, आपने क्या महसूस किया और मध्य प्रदेश में कैसी खेल सुविधाएं हैं? शरद कुमार ने बताया था कि मैं दिल्ली में अभ्यास कर रहा था। लेकिन भोपाल के मौसम और यहां की वर्ल्ड क्लास स्पोर्टस फेसिलिटी के बारे में कई खिलाडियों से सुन रखा था और यहां इतनी अच्छी खेल सुविधाएं देखकर मुझे और यूक्रेनियन कोच को काफी आश्चर्य हुआ। टी. टी. नगर स्टेडियम का नया ट्रैक वर्ल्ड के बेस्ट ट्रैक में शुमार है। यहां का जिम्नेशियम और थेरेपी रूम में उच्च स्तरीय सुविधाएं हैं। यहां जिस प्रकार एटलीट को डाइट सर्व की जाती है वैसी इंडिया में कहीं नहीं की जाती है। यहां का टेंप्रेचर भी टोक्यो से मिलता जुलता है जो मेरे लिए मददगार है। यहां मुझे खेल संचालक सहित समूचे स्टॉफ का सहयोग मिला। मैं लकी हूं कि मुझे ऐसी जगह ट्रेनिंग करने का अवसर मिला।

मध्यप्रदेश में खेलों के विकास और खिलाड़ियों को मिल रही उच्च स्तरीय खेल सुविधाओं को देखकर शरद कुमार काफी प्रभावित हुए थे। उन्होंने प्रदेश के खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जा रही वर्ल्ड क्लास स्पोर्ट्स फेसिलिटी के लिए प्रदेश की खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया के प्रयासों की भी सराहना करते हुए उन्हें ट्रेनिंग की अनुमति देने के लिए कृतज्ञता प्रकट की थी। साथ ही राजधानी भोपाल में की गई ट्रेनिंग के दौरान खेल विभाग से मिले सहयोग और उनके लिए की गई व्यवस्थाओं की प्रशंसा करते हुए खेल विभाग का आभार भी जताया था ।

कई रिकार्ड हैं शरद के नाम

शरद कुमार बिहार के मूल निवासी हैं। उनके अनुसार जब वह दो साल के थे उसी समय वह बाएं पैर से पोलिया के शिकार हो गए थे। तीन साल की उम्र में ही उनका नामांकन दार्जिलिंग के सेंट पॉल आवासीय स्कूल में कर दिया गया। शरद कुमार ने पुरुषों की ऊंची कूद स्पर्धा में 2018 एशियाई पैरा खेलों में दो नए रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता था। इसी तरह विश्व चैंपियनशिप में शरद कुमार ने ऊंची कूद में 1.90 मीटर की कूद के साथ रिकार्ड बनाया था। वर्ष 2016 के रियो पैरालंपिक में शरद कुमार छटवें स्थान पर रहे।

एशियन पैरा गेम्स वर्ष 2014 और 2018 में दो स्वर्ण तथा आइपीसी वर्ल्ड चैंपियनशिप वर्ष 2017 में उन्होंने देश को रजत पदक दिलाया।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

मध्य प्रदेश के सर्वोच्च खेल अलंकरण पुरस्कार 2020 की घोषणा



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

मध्य प्रदेश के सर्वोच्च खेल अलंकरण पुरस्कार 2020 की घोषणा

---

हॉकी स्टॉर विवेक सागर को र्स्वोच्च विक्रम पुरस्कार

---

श्री अभय छजलानी को मिलेगा लाईफ टाइम अचीव्हमेंट अवार्ड

भोपाल, दिनांक 28 अगस्त, 2021

खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा मध्य प्रदेश के सर्वोच्च खेल पुरस्कारों के लिए गठित चयन समिति की अनुशंसा और प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया के अनुमोदन उपरांत आज राज्य स्तरीय खेल पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई। संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने राज्य स्तरीय खेल अलंकरण पुरस्कारों की जानकारी देते हुए बताया कि वर्ष 2020 के लिए राज्य शासन द्वारा 13 एकलव्य, 10 विक्रम, 03 विश्वामित्र, 01 स्व. श्री प्रभाष जोशी और 01 लाईफ टाइम अचीव्हमेंट पुरस्कार घोषित किए गए हैं। श्री जैन ने बताया कि वर्ष 2020 के लिए लाईफ टाईम अचीव्हमेंट पुरस्कार पद्मश्री श्री अभय छजलानी को दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के ओलम्पिक हॉकी स्टॉर खिलाड़ी श्री विवेक सागर को राज्य के सर्वोत्तम विक्रम पुरस्कार से नवाजा जायेगा।

संचालक श्री पवन जैन ने बताया कि वर्ष 2020 के राज्य स्तरीय खेल पुरस्कारों के लिए एकलव्य के लिए 110 आवेदन, विक्रम पुरस्कार के 95, विश्वामित्र पुरस्कार के लिए 34, स्व. श्री प्रभाष जोशी पुरस्कार के 03 तथा लाईफ टाईम अचीव्हमेंट पुरस्कार के लिए 21 आवेदन प्राप्त हुए थे।

यह खेल हस्तियां होंगी सम्मानित

एकलव्य पुरस्कारः-

व्यक्तिगत खेल में- सुषमा वर्मा क्याकिंग-कैनोइंग सीहोर, तुषिता सिंह सॉफ्ट टेनिस भोपाल, स्पर्श खरे वूशु जबलपुर, अर्जुन सिंह घुड़सवारी भोपाल, सुनील डावर एथलेटिक्स बड़वानी, गौरांशी शर्मा बैडमिंटन (दिव्यांग) भोपाल, राममिलन यादव सेलिंग टीकमगढ़, अंकित शर्मा फेंसिंग, ग्वालियर, अनुराधा अहिरवार तीरंदाजी भोपाल, प्रीति रजक शूटिंग होशंगाबाद एवं शशांक पटेल ताईक्वांडो भोपाल।

दलीय खेल में- साधना सेंगर हॉकी होशंगाबाद।

ओलंपिक/एशियन गेम्स एवं राष्ट्रीय खेल में नहीं खेले जाने वाले खेल में - धु्रवराज कुर्रे पावर लिफ्टिंग भोपाल को एकलव्य पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।

विक्रम पुरस्कार:-

व्यक्तिगत खेल में- विश्वजीत सिंह कैनो-स्लॉलम होशंगाबाद, सुनिधि चौहान शूटिंग भोपाल, निधि नन्हेट कराते बालाघाट, परिधि जोशी घुड़सवारी इन्दौर, मंजू बम्बोरिया बॉक्सिंग उज्जैन, एकता यादव सेलिंग भोपाल।

दलीय खेल में- विवेक सागर प्रसाद हॉकी होशंगाबाद, हर्षवर्धन तोमर बास्केटबॉल ग्वालियर।

ओलंपिक/एशियन गेम्स एवं राष्ट्रीय खेल में नहीं खेले जाने वाले खेल - मल्लखम्ब में पूजा मालवीय, उज्जैन तथा

दिव्यांग श्रेणी में सुश्री प्राची यादव पैरा कैनो, ग्वालियर के नाम की घोषणा की गई है।

विश्वामित्र पुरस्कार:-

व्यक्तिगत खेल में- श्री वीरेन्द्र डबास, पैरा स्वीमिंग एवं पैरा एथलेटिक्स, ग्वालियर, श्री रिचपाल सिंह सलारिया, तीरंदाजी जबलपुर को तथा दलीय खेल में - डॉ. हबीब हसन को वर्ष 2020 का विश्वामित्र पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।

लाईफ टाईम अचीव्हमेंट पुरस्कार:-

श्री अभय छजलानी, पद्मश्री तथा पूर्व अध्यक्ष इन्दौर टेबल टेनिस संघ को वर्ष 2020 के लाईफ टाइम पुरस्कार से नवाजा जायेगा।

स्व. प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार:-

वर्ष 2020 के स्व. प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार से उज्जैन की मल्लखम्ब खिलाड़ी सुश्री वैष्णवी कहार को नवाजा जायेगा।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

टैलेंट सर्च में प्रदेश के 62 हजार 178 खिलाड़ियों ने ऑनलाइन कराया रजिस्ट्रेशन



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

टैलेंट सर्च में प्रदेश के 62 हजार 178 खिलाड़ियों ने ऑनलाइन कराया रजिस्ट्रेशन

----

एथलेटिक्स खेल में सर्वाधिक 21,769 खिलाड़ियों का पंजीयन



भोपाल, दिनांक 24 अगस्त, 2021

टोक्यो ओलंपिक-2020 में सात पदक जीतने के बाद देश में खेलों में भागीदारी को लेकर उत्साह दोगुना हो गया है। मध्यप्रदेश में भी पूरा माहौल खेलमय हो गया है। खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा स्कूल शिक्षा एवं आदिम जाति विभाग के सहयोग से खेल प्रतिभाओं को तलाशने और उन्हें तराशने के लिए टैलेंट सर्च अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के अंतर्गत प्रदेश में 62 हजार से अधिक खिलाड़ियों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि टैलेन्ट सर्च अभियान के अंतर्गत 23 अगस्त, 2021 की रात्रि तक प्रदेश के 62 हजार 178 खिलाड़ियों ने अपनी-अपनी पसंद के खेलों में ऑनलाइन रजिस्टेªशन कराया है।

टोक्यो ओलम्पिक के स्वर्ण पदक विजेता नीरज चौपड़ा से प्रभावित होकर टैलेन्ट सर्च में प्रदेश भर से हुए ऑनलाइन रजिस्टेªशन में एथलेटिक्स खेल को पहली प्राथमिकता देते हुए एथलेटिक्स में 21 हजार 769 खिलाड़ियों ने पंजीयन कराया। दूसरे क्रम पर क्रिकेट खेल को वरीयता दी गई और 16 हजार 742 खिलाड़ियों ने रजिस्टेªशन कराया। बैडमिंटन खेल में 5 हजार 799, व्हॉलीबाल में 3 हजार 315 और हॉकी में 2 हजार 183 खिलाड़ियों ने अपना पंजीयन कराया। इसी तरह अन्य खेलों में खिलाड़ियों ने ऑनलाइन रजिस्टेªेशन कराया।

रजिस्टेªशन में छिंदवाड़ा प्रथम

टैलेन्ट सर्च के अंर्तगत प्रदेश के 53 जिलों में सर्वाधिक रजिस्टेªशन 7,056 छिंदवाड़ा जिले में हुआ। जबकि 3,028 खिलाड़ियों के पंजीयन के साथ खण्डवा दूसरे स्थान पर रहा। इंदौर जिला 2,285, सिवनी 2,020 और रतलाम जिला 1,896 खिलाड़ियों के पंजीयन के साथ क्रमशः तीसरे, चौथे और पांचवे स्थान पर रहा। टैलेन्ट सर्च के लिए कब और कहाँ आना है इस संबंध में आवश्यक जानकारी के लिए खिलाड़ियों को एसएमएस के माध्यम से सूचना दी जायेगी।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

भोपाल में पहली बार सात देशों के वाटर स्पोर्ट्स खिलाड़ी दिखायेंगे अपना हुनर



View

भोपाल में पहली बार सात देशों के वाटर स्पोर्ट्स खिलाड़ी दिखायेंगे अपना हुनर

नवम्बर में होगी BIMSTEC यूथ वाटर स्पोर्ट्स प्रतियोगिता

खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया की अध्यक्षता में हुई उच्च-स्तरीय बैठक



भोपाल के बड़े तालाब में पहली बार सात देशों के वाटर स्पोर्ट्स खिलाड़ी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। नवम्बर माह में म.प्र. राज्य वाटर स्पोर्ट्स अकादमी में बिम्सटेक (BIMSTEC) यूथ वाटर स्पोर्ट्स प्रतियोगिता का आयोजन होगा। इस संबंध में खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया की अध्यक्षता में राज्य-स्तरीय क्रियान्वयन समिति की उच्च-स्तरीय बैठक सम्पन्न हुई।

खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने बताया कि BIMSTEC वाटर स्पोर्ट्स प्रतियोगिता में सात देश नेपाल, भूटान, म्यांमार, थाईलैण्ड, बांग्लादेश, श्रीलंका एवं भारत देश भाग लेंगे। इसमें याटिंग, कयाकिंग-केनोइंग तथा रोइंग की प्रतियोगिताएँ होंगी। उन्होंने कहा कि वाटर स्पोर्ट्स में भोपाल की अपनी एक अलग पहचान है और यहाँ पर कई अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताएँ पूर्व में आयोजित की गई हैं। वर्ष 2003 में एशियन कयाकिंग-केनोइंग, ओपन अंतर्राष्ट्रीय वाटर स्पोर्ट्स प्रतियोगिता, जिसमें 13 देशों ने भागदारी की थी। श्रीमती सिंधिया ने बताया कि पूर्व में यह आयोजन मार्च-2020 को निर्धारित था, कोरोना के कारण इसे स्थगित किया गया था।

प्रमुख सचिव खेल एवं युवा कल्याण श्री गुलशन बामरा ने जानकारी दी कि BIMSTEC यूथ वाटर स्पोर्ट्स प्रतियोगिता में सात देशों के लगभग 142 खिलाड़ी शिरकत करेंगे। इसके अतिरिक्त लगभग 42 सपोर्टिंग स्टॉफ भी शामिल होंगे। प्रत्येक देश से याटिंग में 4 पुरुष एवं 4 महिला तथा कयाकिंग-केनोइंग तथा रोइंग में 3-3 पुरुष एवं महिला (प्रत्येक खेल) प्रतिभागी होंगे।

बैठक में विदेशी खिलाड़ियों के आवास एवं भोजन व्यवस्था, खिलाड़ियों, तकनीकी ऑफिसर, रेफरी, जज, प्रशिक्षकों, सहयोगी स्टॉफ के भत्ते एवं मानदेय, सुरक्षा आदि विषयों पर विस्तृत चर्चा हुई। इस अवसर पर अवर सचिव (BIMSTEC) विदेश मंत्रालय, श्री राकेश तिवारी, प्रमुख सचिव नगरीय विकास श्री मनीष सिंह, कलेक्टर भोपाल श्री अविनाश लवानिया, उप महानिरीक्षक भोपाल श्री इरशाद वली सहित अन्य अधिकारी और प्रशिक्षक मौजूद थे।

BIMSTEC

बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर मल्टी-सेक्टोरल टेक्निकल एण्ड इकोनॉमिक कॉर्पोरेशन (BIMSTEC) की स्थापना वर्ष 1997 में की गई थी, जिसमें भारत, श्रीलंका, नेपाल, भूटान, थाइलैण्ड, म्यांमार और बांग्लादेश शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि चौथे BIMSTEC समिट में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सभी प्रतिनिधियों को भारत में वाटर स्पोर्ट्स मीट के लिये आमंत्रित किया था।

35वीं हैदराबाद सेलिंग चैंपियनशिप-2021, म. प्र. वॉटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी के खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश को दिलाए एक स्वर्ण और दो रजत पदक



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

35वीं हैदराबाद सेलिंग चैंपियनशिप-2021

----

म. प्र. वॉटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी के खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश को दिलाए एक स्वर्ण और दो रजत पदक

----

खेल मंत्री ने पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी

भोपाल, दिनांक 19 अगस्त, 2021

हैदराबाद के हुसैन सागर में 12 से 19 अगस्त, 2021 तक आयोजित 35वीं हैदराबाद सेलिंग चैंपियनशिप में मध्य प्रदेश राज्य वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एक स्वर्ण और दो रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाए। चैंपियनशिप के लेजर 4.7 इवेंट में अकादमी की सेलिंग खिलाड़ी रितिका दांगी ने स्वर्ण और नेहा ठाकुर ने रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाया। चैंपियनशिप के लेजर रेडियल इवेंट में अकादमी के खिलाड़ी राम मिलन यादव ने मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। प्रतियोगिता में रितिका दांगी और नेहा ठाकुर ने एशियन गेम्स के पहले राउंड का ट्रायल जीत लिया।

गौरतलब है कि एशियन गेम्स में भारतीय टीम का चयन करने के लिए तीन राउंड सिलेक्शन ट्रायल खेले जाएंगे।

पदक विजेता खिलाड़ियों को नौसेना प्रमुख एवं याटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष एडमिरल कर्मवीर सिंह द्वारा मैडल प्रदान कर पुरुस्कृत किया गया।

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने हैदराबाद सेलिंग चैंपियनशिप में एशियन गेम्स के पहले राउंड का ट्रायल जीतने और मध्य प्रदेश को स्वर्ण और रजत पदक दिलाने वाली खिलाड़ी क्रमशः रितिका दांगी और नेहा ठाकुर के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए उन्हें बधाई दी है। उन्होंने रजत पदक विजेता खिलाड़ी राममिलन यादव को भी बधाई दी है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने ओलंपिक के महीने में मध्य प्रदेश सेलिंग अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा विभिन्न इवेंट्स में किए गए शानदार प्रदर्शन के लिए तीनों पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई और शुभकामनाएं दी है।

चैंपियनशिप में वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन अवॉर्डी श्री जीएल यादव और प्रशिक्षक अनिल शर्मा के मार्गदर्शन में अकादमी के 10 खिलाड़ियों ने भागीदारी की।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

पोलैंड में भारतीय तीरंदाजी टीम ने फहराया तिरंगा, फ्रांस को 5-1 से हराकर भारत बना कैडेट यूथ वर्ल्ड आर्चरी चैंपियनशिप का विजेता



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

पोलैंड में भारतीय तीरंदाजी टीम ने फहराया तिरंगा

---

फ्रांस को 5-1 से हराकर भारत बना कैडेट यूथ वर्ल्ड आर्चरी चैंपियनशिप का विजेता

---

स्वंतत्रता दिवस पर भारतीय तीरंदाजी टीम की जीत से मिली दोहरी खुशी-खेल मंत्री



भोपाल, दिनांक 16 अगस्त, 2021

कैडेट यूथ वर्ल्ड आर्चरी चैंपियनशिप में भारतीय तीरंदाजी टीम के खिलाड़ियों ने स्वतंत्रता दिवस पर स्वर्ण पदक जीतकर पोलैंड में देश का परचम फहरा दिया। पोलैंड के रॉकला सिटी में खेली गई कैडेट/यूथ विश्व तीरंदाजी प्रतियोगिता के अन्तिम दिन 15 अगस्त को फाइनल के रिकर्व टीम इवेंट में भारत ने फ्रांस को 5-1 से परास्त किया और विजेता का गौरव हासिल किया।

भारतीय तीरंदाजी टीम में शामिल अमित कुमार ने 80 में से 72 तथा सर्विसेस के विशाल चंगमय और विक्की कुशाल ने 73-73 अंक हासिल किए। इसके अलावा कैडेट यूथ वर्ल्ड आर्चरी चैंपियनशिप के रिकर्व कैडेट मिक्स टीम इवेन्ट में भारत ने 6-2 से जापान को हराकर स्वर्ण पदक जीता। जबकि रिकर्व कैडेट पुरूष की व्यक्तिगत स्पर्धा में भारतीय टीम के खिलाड़ी विशाल चंगमय ने 6-4 से कजाकिस्तान को हराकर देश को कांस्य पदक दिलाया।

खेल मंत्री ने बधाई दी

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कैडेट यूथ वर्ल्ड आर्चरी चैंपियनशिप में भारत और फ्रांस के बीच खेले गए फाइनल मैच को लाइव देखा। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए स्वर्ण पदक विजेता भारतीय तीरंदाजी टीम के खिलाडियों के शानदार प्रदर्शन की सराहना की। खेल मंत्री ने भारतीय तीरंदाजी टीम के कोच तथा मध्य प्रदेश तीरंदाजी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री रिचपाल सिंह सलारिया और अमित कुमार से फोन पर बात की। उन्होंने भारतीय टीम के कोच सहित सभी खिलाड़ियों को बधाई देते हुए कहा कि स्वंतत्रता दिवस पर भारतीय तीरंदाजी टीम की जीत से दोहरी खुशी मिली है। हमारे खिलाड़ियों ने पोलैंड में तिंरगा फहराकर देश का मान बढ़ाया है जिस पर हमें गर्व है।

अमित का बहुमूल्य योगदान

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने देश को स्वर्ण पदक दिलाकर देश का परचम फहराने वाली भारतीय तीरंदाजी टीम के खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि देश को स्वर्ण पदक दिलाने में मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी के होनहार खिलाड़ी अमित कुमार का बहुमूल्य योगदान रहा है। खेल संचालक ने भारतीय तीरंदाजी टीम के और मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री रिचपाल सिंह सलारिया को बधाई देते हुए कहा कि श्री सलारिया के नेतृत्व में पोलेंड गई भारतीय तीरंदाजी टीम ने देश को दो स्वर्ण और एक कांस्य पदक दिलाया है, यह देश के लिए गौरव की बात है।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

प्रतिभावान खिलाड़ियों के लिए 24 अगस्त से पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा प्रतिभा चयन कार्यक्रम -खेल संचालक



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

प्रतिभावान खिलाड़ियों के लिए 24 अगस्त से पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा प्रतिभा चयन कार्यक्रम -खेल संचालक

वीडियों कांफ्रेस में खेल, स्कूल शिक्षा और आदिम जाति विभाग के अधिकारियों को दिशा-निर्देश

भोपाल, दिनांक 14 अगस्त, 2021

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने कहा है कि मध्य प्रदेश में खेल प्रतिभाओं को तलाशने के लिए पूरे प्रदेश में प्रतिभा चयन कार्यक्रम (टेलेंट सर्च) अभियान के रूप में चलाया जाएगा। खेल संचालक आज वीडियो कांफ्रेंसिंग में अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

टैलेंट सर्च के संबंध में आज टी.टी. नगर स्टेडियम के सभागार में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आयोजित की गई जिसमें संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने प्रतिभा चयन कार्यक्रम के संबंध में अधिकारियों को जरुरी दिशा-निर्देश दिए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में आदिम जाति विभाग की डिप्टी कमिश्नर सुश्री रीता सिंह, स्कूल शिक्षा विभाग के उप संचालक श्री आलोक खरे और संयुक्त संचालक खेल डॉ. विनोद प्रधान ने भी अधिकारियों का मार्गदर्शन किया। वीडियो कांफ्रेंस में प्रदेश के सभी जिला खेल अधिकारी, स्कूल शिक्षा और आदिम जाति विभाग के अधिकारी शामिल हुए।

खेल प्रतिभाओं को खोजने के लिए प्रदेश में व्यापक अभियान

खेल संचालक श्री पवन जैन ने बताया कि शहरों के साथ ही ग्रामीण और कस्बाई इलाकों में भविष्य की खेल प्रतिभाओं को तलाशकर तराशने के लिए मध्यप्रदेश में ‘‘टेलेंट सर्च 2021’’ नाम से व्यापक अभियान प्रारंभ किया गया है। इसके तहत कम से कम 2,500 बालक-बालिकाओं का चयन कर उन्हें अत्याधुनिक संसाधनों और प्रशिक्षकों की मौजूदगी में खेल विभाग द्वारा संचालित अकादमियों में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

अभियान के तहत चयनित खिलाड़ी लगभग 80 प्रतिशत राज्य के और शेष 20 प्रतिशत अन्य राज्यों के होंगे। अन्य राज्यों के खिलाड़ियों का चयन वरीयता (मेरिट) के आधार भी किया जाता है। इस अभियान में खेल एवं युवा कल्याण विभाग, स्कूल शिक्षा विभाग और आदिम जाति कल्याण विभाग की मदद से कार्य कर रहा है। अभियान के तहत 18 खेलों में श्रेष्ठ प्रशिक्षण के जरिए भविष्य के खेल सितारे तैयार करने के लिए 12 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बालक-बालिकाओं का चयन सभी 52 जिलों से किया जाएगा। विशेष उपलब्धि हासिल करने के मामलों में खिलाड़ियों की उम्र 18 वर्ष से अधिक की भी हो सकती है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में खेल संचालक ने बताया कि प्रतिभा चयन कार्यक्रम के तहत पंजीयन (रजिस्ट्रेशन) का कार्य 09 अगस्त को प्रारंभ हुआ है, जो 21 अगस्त तक चलेगा। पंजीयन ऑनलाइन किया जा रहा है, लेकिन विशेष मामलों में ऑफलाइन भी किया जा सकेगा। प्रतिभावान खिलाड़ी एथलेटिक्स, शूटिंग, वॉटर स्पोर्ट्स (कयाकिंग-केनोइंग, रोइंग, सेलिंग, स्लालॉम), कराते, फेंसिंग, बॉक्सिंग, कुश्ती, ताइक्वांडो, जूडो, घुड़सवारी, पुरुष हॉकी, ट्रायथलान, महिला हॉकी, बेडमिंटन, तीरंदाजी, पुरुष क्रिकेट, योग और मलखंभ में अपना भविष्य बनाने के लिए इस अभियान में शामिल हो सकेंगे। चयन की प्रक्रिया निर्धारित मापदंडों के अनुरूप और कोविड संबंधी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए की जा रही है। पंजीयन के बाद 24 अगस्त से चयन प्रक्रिया शुरू होगी और यह जिला, संभाग और फिर राज्य स्तर पर होेगी। माना जा रहा है कि कोरोना की तीसरी लहर संबंधी कोई समस्या नहीं आयी, तो पूरी प्रक्रिया 15 सितंबर तक पूरी कर ली जाएगी। अभियान के तहत अब तक 14 हजार पंजीयन हो चुके हैं और माना जा रहा है कि यह संख्या 50 हजार तक पहुंच जाएगी।

खेल संचालक श्री जैन ने खेलों में कैरियर का उल्लेख करते हुए बताया कि विक्रम पुरस्कार प्राप्त खिलाड़ियों को शासकीय सेवा में नियुक्ति प्रदान की जाती है। उन्होंने कहा कि हाल ही में संपन्न टोक्यो ओलंपिक खेलों में मध्यप्रदेश की हॉकी अकादमी से जुड़े दो खिलाड़ी विवेक सागर और नीलाकांता तथा महिला हॉकी में पांच खिलाड़ियों के अलावा शूटिंग में भी इस राज्य के खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व कर शानदार प्रदर्शन किया है। मध्य प्रदेश निवासी विवेक सागर को तो राज्य सरकार ने एक करोड़ रुपयों की धनराशि के अलावा उप पुलिस अधीक्षक (डीएसपी) पद पर पदस्थ किया है। महिला हॉकी राष्ट्रीय टीम की सदस्यों को भी 31-31 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। श्री जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान ने हाल ही में निर्देश दिए हैं कि राज्य में खेल प्रतिभाओं को तलाशने और तराशने का कार्य और बेहतर ढंग से किया जाए। राज्य सरकार इस कार्य में धन और संसाधनों की कमी आड़े नहीं आने देगी। इसके मद्देनजर खेल एवं युवा कल्याण विभाग प्रतिभाओं को तलाशने पर और विशेष ध्यान देकर कार्य कर रहा है। इस अभियान के तहत कम से कम 2500 खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा और उन्हें अनेक सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

अधिकारियो को दिशा-निर्देश

जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारियों (डीएसओ) को उनके जिले में रजिस्टर हो रहे खिलाड़ियों की संख्या देखने के लिये पृथक से आई.डी. उपलब्ध कराई जा रही है।

खिलाड़ियों के आनलाईन रजिस्ट्रेशन के उपरान्त उन्हें किस दिनांक को जिला मुख्यालय पर फिजिकल फिटनेस टेस्ट देने आना है, इसकी उन्हें एस.एम.एस.द्वारा सूचना दी जायेगी। डीएसओ को अवगत कराना होगा कि उस खिलाड़ी का जिला मुख्यालय पर किस ग्राउण्ड में फिजिकल फिटनेस टेस्ट होगा। खिलाड़ी को स्थान की जानकारी मुख्यालय स्तर से दी जाये ताकि यदि कोई खिलाड़ी कॉल सेंटर को फोन लगाये तो उनके पास यह जानकारी होना चाहिए कि जिले में टेलेन्ट सर्च कहां हो रहा है। डीएसओ को प्रतिदिन लगभग 100 खिलाड़ियों का फिटनेस टेस्ट करना है। अतः उक्त दिवसों में 01 दिवस पूर्व मैदानी व्यवस्था पूर्ण कर ली जावे।

मैदान में आवश्यकतानुसार टेन्ट, लाईट, माईक, टेबल-कुर्सी, चिकित्सा एवं आयोजन स्थल पर पेयजल सहित अन्य व्यवस्था की जाए।

स्कूल शिक्षा और आदिम जाति कल्याण विभाग के सहयोग से ब्लाक से जिला स्तर तक खिलाड़ियों के आने-जाने एवं भोजन की व्यवस्था की जाएगी। फिजिकल फिटनेस टेस्ट के परिणाम को तत्काल माईक्रोसॉफ्ट एक्सेल में दर्ज कर उसी दिन मुख्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जावेगा। (एक्सेल शीट की डिटेल मुख्यालय स्तर से उपलब्ध कराई जावेगी)।

फिजिकल फिटनेस टेस्ट के परिणामों के आधार पर मुख्यालय स्तर से खेल अकादमियों में उपलब्ध रिक्त सीट के निर्धारित अनुपात अनुसार मेरिट लिस्ट तैयार की जावेगी जिसके अनुसार खेलवार खिलाड़ियों को संभाग स्तर पर स्किल टेस्ट के लिये बुलवाया जायेगा। अधिकृत राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता के प्रतिभागी एवं पदक विजेता खिलाड़ी एवं अकादमी के पूर्व में प्रवेशित ऐसे खिलाड़ी जिन्हें वर्तमान में प्रथम एवं द्वितीय चरण में नहीं बुलाया गया है। ऐसे खिलाड़ी संभाग स्तर पर स्किल टेस्ट के लिये सीधे पात्र होंगे। ऐसे खिलाड़ियों के लिये आयु में बाध्यता नहीं होगी। जिला स्तर पर कुछ खिलाड़ी ऐसे भी आ सकते हैं, जिन्होंने ऑन लाईन रजिस्ट्रेशन फार्म नहीं भरा है, ऐसे खिलाड़ियों का स्थल पर रजिस्ट्रेशन कराने का दायित्व डीएसओ का होगा। टेलेन्ट सर्च के समय वर्षा के कारण मैदान इस लायक न रहे जहां 50 मी. एवं 600 मी. रन न हो पाये ऐसी स्थिति में दूसरा विकल्प रखना होगा ताकि शेष टेस्ट इण्डोर में करवा लिये जायें। यदि वर्षा समाप्त हो जाये तो उसी दिन 50 मी. एवं 600 मी. रन करवा लिया जाये अन्यथा इन दो टेस्ट के लिये आगामी कोई दिवस सुनिश्चित किया जाये।

हॉकी खेल की चयन ट्रॉयल

हॉकी का सेलेक्शन ट्रॉयल 08 जोेन-ग्वालियर, शिवपुरी, जबलपुर, दमोह, इन्दौर, मंदसौर, होशंगाबाद एवं भोपाल में किया जावेगा, जिसमें प्रदेश में चल रहे हॉकी फीडर सेंटर के खिलाड़ियों एवं अन्य खिलाड़ियों को टेलेन्ट सर्च के लिये आमंत्रित किया जावेगा। यह टेलेन्ट सर्च 24 अगस्त, 2021 से प्रारंभ किया जा सकता है। जिन जिलों में हॉकी के फीडर सेंटर चल रहे हैं उनके जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी फीडर सेंटर के इच्छुक खिलाड़ियों का 18 अगस्त के पूर्व रजिस्ट्रेशन सुनिश्चित करें। जोन अनुसार तिथियाँ मुख्य प्रशिक्षकों से चर्चा अनुसार तय की जावेगी।

जोन का चयन इस आधार पर किया गया है जहां हॉकी के एस्ट्रोटर्फ उपलब्ध हैं।

जोनवार इन जिलों के प्रतिभागी भाग लेंगे

01 ग्वालियरः- राज्य महिला हॉकी खेल परिसर ग्वालियर, मुरैना एवं ग्वालियर

02 शिवपुरीः- शिवपुरी खेल परिसर, गुना एवं शिवपुरी

03 जबलपुरः- रानीताल स्टेडियम जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट एवं उमरिया

04 दमोहः- हॉकी टर्फ स्टेडियम दमोह, सागर, छतरपुर एवं सतना

05 इन्दौरः- एम्ब्रॉड हायर सेकेण्ड्री स्कूल इन्दौर, धार, बड़वानी एवं खरगोन।

06 मंदसौरः- हॉकी टर्फ स्टेडियम मंदसौर, उज्जैन, शाजापुर, देवास, रतलाम एवं नीमच

07 होशंगाबादः- हॉकी टर्फ स्टेडियम होशंगाबाद, बैतूल, हरदा एवं रायसेन

08 भोपालः- मेजर ध्यानचंद हॉकी स्टेडियम सी.आर.सी. परिसर,भोपाल, सीहोर, राजगढ़ एवं विदिशा।

महिला एवं पुरूष हॉकी अकादमी में उपलब्ध रिक्त सीट से 3 गुना खिलाड़ियों का चयन 8 जोन के खिलाड़ियों से किया जावेगा। इनका राज्य स्तर पर आवश्यकतानुसार 7 से 10 दिवस का कैम्प लगाकर अंतिम चयन किया जावेगा। राज्य स्तर पर महिला हॉकी खिलाड़ियों के चयन का कैम्प ग्वालियर एवं पुरूष हॉकी खिलाड़ियों के चयन का कैम्प भोपाल में सितम्बर प्रथम सप्ताह में आयोजित किया जावेगा।

कुश्ती खेल की चयन ट्रॉयल

इस वर्ष का टेलेन्ट सर्च का आयोजन प्रदेश के उन जिलों में किया जायेगा, जहां कुश्ती खेल प्रचलन में है।

टेलेन्ट सर्च में प्रदेश के उन्ही खिलाड़ियों को शामिल किया जायेगा, जिन्होंने कम से कम अधिकृत राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में प्रतिभागिता की हो। इस वर्ष के टेलेन्ट सर्च में कुश्ती अकादमी में कुल सीट का 20 प्रतिशत प्रदेश के बाहर के विगत दो वर्ष के पदक विजेता सब जूनियर, जूनियर खिलाड़ियों को शामिल किया जावेगा।

यह टेलेन्ट सर्च प्रदेश के मुख्यतः इन्दौर, उज्जैन, ग्वालियर, जबलपुर, सागर एवं भोपाल संभाग में किया जावेगा क्योंकि इन संभागों के जिलों में कुश्ती के खिलाड़ियों की अधिकता है। शेष ऐसे संभागों के जिलों के कुश्ती खिलाड़ी जिनके संभाग स्तरीय चयन ट्रॉयल उनके संभाग में नहीं हो रहा हो वह अपनी सुविधानुसार निकटतम संभाग में आयोजित हो रही चयन ट्रॉयल में शामिल हो सकते हैं। रजिस्ट्रेशन उपरान्त संबंधित जिले में इनका फिजिकल फिटनेस टेस्ट निर्धारित तिथि पर किया जावेगा। इसके पश्चात संभाग स्तरीय चयन उपरोक्तानुसार 06 संभागों में किया जावेगा।

कुश्ती अकादमी की उपलब्ध रिक्त सीट के विरूद्ध 4 गुना खिलाड़ियों का चयन राज्य स्तरीय शिविर के लिये किया जावेगा। यह शिविर लगभग 05 दिवस का लगाया जा सकता है।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया श्री विवेक सागर सहित अन्य खेल प्रतिभाओं का सम्मान



View

ओलंपिक हॉकी खिलाड़ी विवेक सागर के परिवार को पक्का मकान दिलवाएगी प्रदेश सरकार - मुख्यमंत्री श्री चौहान

विवेक सागर होंगे मध्यप्रदेश शासन में डीएसपी-मुख्यमंत्री श्री चौहान

अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया श्री विवेक सागर सहित अन्य खेल प्रतिभाओं का सम्मान

भोपाल, 12 अगस्त , 2021

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश सरकार ओलंपिक हॉकी खिलाड़ी विवेक सागर के परिवार को पक्का मकान दिलवाएगी। श्री विवेक सागर का परिवार जिस नगर या ग्राम में मकान चाहेगा, वहीं उपलब्ध करवाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विवेक सागर को मध्यप्रदेश शासन में डी.एस.पी. (उप पुलिस अधीक्षक) का पद देने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मान. श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया है, वे हमारी प्रेरणा हैं। राज्यों को इस दिशा में रूचि लेकर खिलाड़ियों को आवश्यक सुविधाएं दिलवाना हैं, जिससे वे स्वर्णिम इतिहास रच सकें। टोक्यो ओलंपिक में भारत को हॉकी में मिला कांस्य पदक सिर्फ पदक नहीं हैं बल्कि यह हॉकी का पुनर्जागरण है। आज मध्यप्रदेश की माटी के लाल इटारसी के निवासी श्री विवेक सागर के ओलंपिक में श्रेष्ठ प्रदर्शन से हम सभी गर्व से भरे हुए हैं। मध्यप्रदेश का मंत्रीमंडल श्री विवेक सागर का स्वागत और सम्मान कर रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस पर आज मिंटो हाल सभागार में मध्यप्रदेश के टोक्यो ओलंपिक- 2020 के पदक विजेता और प्रतिभागियों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर भारतीय हॉकी टीम के सदस्य श्री विवेक सागर सहित अन्य खेल प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री विवेक सागर को अपने हाथों से ओलंपिक का कांस्य पदक पहनाया और खुशी से अभिभूत होकर अपने सीने से लगाया।

खेलों के विकास के लिए उठायेंगे हर जरूरी कदम

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कार्यक्रम में अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर को शाल और सम्मान निधि देकर सम्मानित किया। श्री विवेक सागर को एक करोड़ रूपये की सम्मान निधि प्रदान की गई। इसके साथ ही भारतीय हॉकी टीम के सहायक प्रशिक्षक श्री शिवेन्द्र सिंह को 25 लाख रूपये की सम्मान निधि देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिद, जुनून और जज़्बा हो तो आसानी से सफलता मिलती है। आप खिलाड़ियों को भरपूर सुविधाएं दीजिए फिर देखियें वे कैसे चमत्कार करते हैं। श्री विवेक सागर एक साधारण परिवार के सदस्य हैं। उनके पिता शिक्षक हैं। खेल में रूचि रखने वाले बच्चों के माता-पिता बच्चों को पढ़ाई के साथ खेलने का भी अवसर दें। इससे खेल प्रतिभाएं प्रोत्साहित होंगी। मध्यप्रदेश में विश्व स्तरीय खेल संस्थान विकसित होंगे। मध्य प्रदेश राज्य को विश्व स्तरीय बताते हुए उन्होंने कहा कि शूटिंग अकादमी भी अद्भुत है। खेलों के विकास के लिए पर्याप्त बजट की व्यवस्था की गई है। भविष्य में भी सभी आवश्यक कदम निरंतर उठाये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खेल मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया और खेल विभाग की टीम सफलताओं के लिए बधाई की पात्र है। मध्यप्रदेश के खिलाड़ी परिश्रम के साथ खेल अभ्यास कर रहे हैं। आने वाले समय में हम अनेक खेलों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गोल्ड मैडल हासिल करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज हमने हॉकी में दुनिया के सामने अपनी श्रेष्ठता सिद्ध कर दिखाई है। महिला हॉकी में भी भारत का भविष्य उज्जवल है। ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम चौथे नम्बर पर रही। वे आखरी मैच हारी जरूरी लेकिन अच्छे खेल प्रदर्शन से देशवासियों का दिल जीत लिया। मध्यप्रदेश सरकार महिला हॉकी टीम की प्रत्येक खिलाड़ी को 31-31 लाख रूपये देकर सम्मानित किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में हॉकी पुनर्जागरण के प्रति तीन पौधे भी लगाये गये हैं।

प्रशिक्षण में मिली भरपूर मदद

सम्मान कार्यक्रम में हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर ने कहा कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खेल प्रेम का परिचय दिया है। आज प्राप्त सम्मान के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री श्री चौहान का आभार व्यक्त किया। श्री विवेक सागर ने बताया कि उन्हें हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत ने कहा था कि खोने के लिए हमारे पास कुछ नहीं है। मुझे मित्रों और परिवार के सदस्यों का पूरा सहयोग रहा। मध्यप्रदेश की खेल अकादमी में उन्होंने वर्ष 2013 में ज्वाइन किया था। यहां अच्छे प्रशिक्षक, डाइट, उच्च स्तरीय खेल सामग्री और उपकरण की सुविधा मिली। अन्य लोगों ने तो प्रेरित किया ही लेकिन किसी भी खिलाड़ी के लिए स्वप्रेरणा का भी अपना महत्व है। अनुशासन, कड़ी मेहनत और सभी के प्रति सम्मान भाव रखने से सफलता मिलती है। श्री विवेक सागर ने खेल मंत्री तथा उन्हें हॉकी में लाने वाले श्री गजेंद्र पटेल और खेल अकादमी के समस्त हॉकी प्रशिक्षक एवं स्टाफ सदस्यों का भी आभार माना।

सफलता के लंबे सफर में मुख्यमंत्री श्री चौहान का मिला साथ-खेलमंत्री

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि दिसम्बर 2005 में उन्हें मान. मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खेल विभाग का जिम्मा दिया था। तब उन्होंने यह भी कहा था, कि मुझे ओलंपिक मैडल चाहिए। वर्ष 2006 से 2021 तक के लंबे सफर में मुख्यमंत्री श्री चौहान सफलता का आधार बने रहे। वे पूरे प्रयासों से परिचित हैं। खेल विभाग का बजट बढ़ाने से लेकर खिलाड़ियों के प्रोत्साहन तक हर कदम में मुख्यमंत्री श्री चौहान का साथ रहा है। हम कई वर्ष से ओलंपिक के द्वार पर पदक प्राप्ति के लिए दस्तक दे रहे थे। श्री विवेक सागर ने इस द्वार को खोला है।

सांसद और मध्यप्रदेश ओलंपिक संघ के उपाध्यक्ष श्री वी डी शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश में 18 खेल अकादमी हैं। खेलों के उन्नयन के लिए सभी कदम उठाये गये हैं। प्रधानमंत्री मान. श्री नरेन्द्र मोदी जी और मध्यप्रदेश के मान. मुख्यमंत्री श्री चौहान जी ने खिलाड़ियों की हिम्मत बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। विधान सभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि यदि बीज को खाद और पानी मिले तो पौधा और वृक्ष बनने में देर नहीं लगती। यही बात खिलाड़ियों के साथ भी लागू होती है। मध्यप्रदेश की खेल प्रतिभाएं आने वाले वर्षों में और अधिक सफलताएं प्राप्त करेंगी। कार्यक्रम में मंत्रीमंडल के अनेक सदस्यों के साथ ही मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी, खेल प्रशिक्षक और बड़ी संख्या में खेल प्रेमी उपस्थित थे।

ये प्रतिभाएं हुईं सम्मानित

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर के साथ ही उनके पिता श्री रोहित प्रसाद और उनकी माता श्रीमती कमला देवी का भी सम्मान किया। खेल एवं युवक कल्याण विभाग ने प्रतिभावान खिलाड़ियों और प्रशिक्षकों के सम्मान का भी निर्णय लिया था। इस क्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पूर्व ओलंपिक खिलाड़ी और प्रख्यात हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के सुपुत्र श्री अशोक कुमार का भी सम्मान किया। श्री अशोक कुमार ने श्री विवेक सागर को भी प्रशिक्षण दिया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भारतीय पुरूष हॉकी टीम के सहायक प्रशिक्षक श्री शिवेन्द्र सिंह तथा भारतीय शूटिंग टीम में शामिल श्री एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर को भी सम्मानित किया। खेल विभाग द्वारा संचालित शूटिंग अकादमी में प्रशिक्षणरत मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के निवासी श्री एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने टोक्यो ओलंपिक में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर को दस लाख रूपये की सम्मान निधि प्रदान की।

पैरा ओलंपिक में भी मध्यप्रदेश के खिलाड़ी

टोक्यो में इसी वर्ष हो रहे पैरा ओलंपिक में भी मध्यप्रदेश में प्रशिक्षित दो प्रतिभाएं हिस्सा ले रही हैं। कयाकिंग-कैनोइंग में भिंड जिले की सुश्री प्राची यादव एवं हाईजम्प में श्री शरद कुमार हिस्सा लेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन दोनों खिलाड़ियों का भी सम्मान किया।

संचालक खेल श्री पवन कुमार जैन ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह प्रदान किए और सभी आमंत्रितों का आभार व्यक्त करते हुए बताया कि मध्यप्रदेश में प्रशिक्षित पांच हॉकी खिलाड़ी टोक्यो ओलम्पिक की भारतीय महिला हॉकी टीम में शामिल हुई हैं। यह ओलंपिक कोरोना काल के बाद खुशियां लेकर आया है। प्रदेश में आगामी 24 अगस्त से टेलेंट सर्च शुरू किया जा रहा है। इससे अनेक खेल प्रतिभाएं सामने आयेंगी। कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के खेल परिदृश्य पर केंद्रित एक लघु फिल्म भी दिखाई गई।

प्रदेश के खिलाड़ियों का स्मरण

सम्मान कार्यक्रम में उपस्थित खेल संगठनों के पदाधिकारियों और खेल प्रेमियों ने भोपाल और मध्यप्रदेश से जुड़े अनेक ओलंपिक खिलाड़ियों को याद किया। इनमें वर्ष 1975 में ओलंपिक में भारत को पदक दिलवाने वाले श्री असलम शेर खान, वर्ष 1984 लॉस एंजिल्स के ओलम्पिक में भारतीय टीम के सदस्य श्री जलाल उद्दीन और वर्ष 2000 सिडनी ओलम्पिक में भारतीय टीम के खिलाड़ी श्री समीर दाद तथा भारतीय महिला हॉकी टीम में कप्तान रहीं अर्जुन अवार्डी स्व. श्रीमती सुनीता चंद्रा भी शामिल हैं।

--------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर के साथ रोपा नीम और कदम का पौधा



View

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर के साथ रोपा नीम और कदम का पौधा

भोपाल, दिनांक 12 अगस्त, 2021

मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज स्मार्ट पार्क में अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर के साथ नीम और कदम के पौधे लगाए। इस अवसर पर खेल एवं युवा कल्याण, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया भी उपस्थित थीं। उन्होंने भी पौधा लगाया।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार हॉकी के विकास के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी। हॉकी खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए हर संभव सहयोग करेगी। श्री विवेक सागर मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले के शिवनगर चांदोन ग्राम के निवासी हैं। इनका परिवार इटारसी में रहता है, अपनी मेहनत के बलबूते इन्होंने भारतीय हॉकी टीम की विजय में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में भारत को कांस्य पदक मिला। यह सिर्फ पदक नहीं बल्कि हॉकी का पुनर्जागरण है। श्री विवेक सागर की उम्र अभी सिर्फ 21 वर्ष है। निश्चित ही वे एक दिन गोल्ड मेडल भी जीतेंगे। उन्हें बहुत बधाई और शुभकामनाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया और उनकी टीम को भी इस उपलब्धि के लिए बधाई दी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खेल विभाग ने हॉकी सहित अन्य खेलों के विकास के लिए अद्भुत और अनुकरणीय कार्य किया है। खेलों के उत्थान का कार्य निरंतर चलता रहेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि महिला हॉकी खिलाड़ियों को भी प्रोत्साहित किया जाएगा। भारतीय महिला हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में चौथा स्थान अर्जित किया है। यह भी कम सम्मान की बात नहीं। भारतीय महिला हॉकी टीम की प्रत्येक खिलाड़ी को 31-31 लाख की राशि सम्मान स्वरूप दी जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाडी श्री विवेक सागर को किया सम्मानित



View

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाडी श्री विवेक सागर को किया सम्मानित

भोपाल, दिनांक 12 अगस्त, 2021

मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मुख्यमंत्री निवास में अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाडी श्री विवेक सागर को शाल और श्रीफल से सम्मानित किया। इस अवसर पर खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया भी उपस्थित थीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा श्री विवेक सागर पर मध्यप्रदेश को गर्व है। उन्होंने प्रतिभाशाली हॉकी खिलाड़ी को उनके प्रतिनिधित्व के साथ टोक्यो ओलंपिक में मिली विजय और भारतीय हॉकी टीम को कांस्य पदक मिलने पर बधाई दी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए श्री विवेक सागर को मिठाई भी खिलाई। इस अवसर पर राजधानी की युवा चित्रकार सुश्री स्मृति श्रीवास्तव ने प्रतिभावान अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर की बनाई तस्वीर मुख्यमंत्री श्री चौहान और श्री विवेक सागर को भेंट की।

मैं पदक का कलर चेंज करना चाहूंगा-ओलम्पियन विवेक सागर



View

मैं पदक का कलर चेंज करना चाहूंगा-ओलम्पियन विवेक सागर

भोपाल, दिनांक 12 अगस्त, 2021

टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर विश्व में देश का परचम फहराने वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम के स्टॉर खिलाड़ी विवेक सागर आज सुबह राजा भोज विमानतल भोपाल पहुंचे। भोपाल विमानतल पर उनका पुष्प हार पहनाकर गर्मजोशी और ढ़ोल-ढमाकों के साथ भव्य स्वागत किया गया। विवेक सागर के स्वागत के लिए एयर पोर्ट पहुंची खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया उस वक्त भावुक हो उठी जब उन्हें विवेक सागर ने टोक्यो ओलंपिक में जीता मैडल उनके हाथ में सौपा। खेल मंत्री ने मैडल को पहले अपने मस्तक से लगाया फिर मैडल विवेक के गले में पहनाकर वे भावुक हो गई और उनकी आंखे खुशी से नम हो गईं। जब विवेक सागर से पूछा गया कि अगली बार स्वर्ण पदक लाएंगे तो विवेक सागर का कहना था कि जी हां, मैं मैडल का कलर चेंज करना चाहूंगा। उनकी इस बात पर खेल मंत्री ने खुशी व्यक्त करते हुए करतल ध्वनि से विवेक की बात का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि अब शुरुआत तो हो गई है। विवेक सागर ने आसमान को छू लिया है। दूसरे खिलाडियों के लिए विवेक सागर रोल मॉडल बन गए हैं। अन्य खिलाड़ियों को चाहिए कि वे भी विवेक सागर की तरह पदक जीतकर आसमान को छूएं। उन्होंने कहा कि विवेक सागर ने यह साबित कर दिखाया है कि मध्य प्रदेश भी ओलंपिक मैडल जीत सकता है।

इस अवसर पर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, संयुक्त संचालक डॉ. विनोद प्रधान और श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी, खेल प्रशिक्षक और खिलाड़ी मौजूद थे।

युवा होनहार खिलाड़ी विवेक सागर ने बताए सफलता के मंत्र



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

युवा होनहार खिलाड़ी विवेक सागर ने बताए सफलता के मंत्र

भोपाल, दिनांक 12 अगस्त, 2021

टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम के युवा एवं होनहार खिलाड़ी विवेक सागर ने कहा है कि सिर्फ हॉकी ही नहीं, किसी भी क्षेत्र में सफलता के ये तीन ही मंत्र है, अनुशासन, कठिन परिश्रम और सम्मान। मिन्टों हॉल में आयोजित अपने सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए विवेक सागर ने खिलाड़ियों को यह मंत्र दिए।

समारोह में मान. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य सरकार की ओर से एक करोड़ रुपए की सम्मान निधि विवेक सागर को प्रदान की। विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णुदत्त शर्मा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया सहित मंत्रीमंडल के सदस्यगण और खेल जगत से जुड़ी हस्तियां भी इस अवसर पर मौजूद थीं।

ओलंपिक में शामिल होने के बाद पहली बार यहां आए राज्य के होशंगाबाद जिले के इटारसी निवासी 21 वर्षीय विवेक सागर ने कहा कि अनुशासन के बगैर सफलता प्राप्त नहीं की जा सकती है। अनुशासन सिर्फ मैदान में ही नहीं, किसी भी व्यक्ति के जीवन में आवश्यक है। मैदान में तो खिलाड़ी कुछ ही घंटे रहता है, इसलिए उसे अपने जीवन में अनुशासन को महत्वपूर्ण अंग बनाना चाहिए।

विवेक ने कहा कि इसके अलावा कठिन परिश्रम का कोई विकल्प नहीं है। किसी भी क्षेत्र में लगातार कठिन परिश्रम की दम पर आगे बढ़ा जा सकता है। इसी तरह सभी को सम्मान देना भी जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। विवेक के अनुसार वे अपनी हॉकी और खेल से जुड़े सभी लोगों का सम्मान करते हैं। इन तीनों की बदौलत ही वे आगे बढ़े हैं।

विवेक सागर ने कहा कि आगे बढ़ने के लिए आत्मविश्वास भी आवश्यक है। आगे बढ़ने का जज्बा होना चाहिए। हमारी जो भी कौशल (स्किल) है, उसे श्रेष्ठतम बनाने का हरदम प्रयास करना चाहिए। युवा हॉकी खिलाड़ी ने यूरोपियन खिलाड़ियों की तुलना में उनके छोटे कद का उदाहरण देते हुए कहा कि मैने इस तरह की चीज कभी भी हावी नहीं होने दी। हमें अपनी योग्यता पर विश्वास रखते हुए आगे बढ़ना चाहिए।

जूनियर भारतीय हॉकी टीम की कप्तानी कर चुके विवेक सागर ने कार्यक्रम में मौजूद खिलाड़ियों से कहा कि वे भी इसी तरह सफलता हासिल कर सकते हैं। वे सब पूर्ण विश्वास के साथ अपने लक्ष्य की ओर आगे बढ़ें, उन्हें सफलता अवश्य मिलेगी। विवेक ने बताया कि वे स्वयं एक छोटे से गांव और सामान्य परिवार से आते हैं। विवेक अपने शुरूआती दौर के प्रशिक्षकों का स्मरण करना भी नहीं भूले और उन्होंने सभी का शुक्रिया अदा किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान करेंगे विवेक सागर को सम्मानित, मिंटो हॉल में सम्मान समारोह



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

मुख्यमंत्री श्री चौहान करेंगे विवेक सागर को सम्मानित

----

मिंटो हॉल में सम्मान समारोह

भोपाल, दिनांक 11 अगस्त, 2021

मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में गुरुवार 12 अगस्त को दोपहर 12ः30 बजे मिंटो हॉल भोपाल में टोक्यो ओलम्पिक-2020 के पदक विजेता ओलंपिक हॉकी खिलाड़ी विवेक सागर सहित अन्य प्रतिभागियों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया है। समारोह की अध्यक्षता खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया करेंगी। कार्यक्रम में मुख्य सचिव, मध्य प्रदेश शासन श्री इकबाल सिंह बैंस विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे।

समारोह में मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान ओलम्पियन हॉकी खिलाड़ी विवेक सागर को सम्मान स्वरूप एक करोड़ रुपए की राशि का चेक प्रदान कर सम्मानित करेंगे। समारोह में भारतीय हॉकी टीम के सहायक प्रशिक्षक श्री शिवेन्द्र सिंह, श्री अशोक ध्यानचंद, शूटिंग खिलाड़ी ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर, पैरा कयाकिंग खिलाड़ी प्राची यादव एवं श्री शरद कुमार को भी सम्मानित किया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि टोक्यो ओलंपिक 2020 में भारतीय हॉकी टीम के सदस्य के रूप में शामिल श्री विवेक सागर ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अर्जेंटीना के विरुद्ध गोल किया था जिसके फलस्वरूप भारतीय टीम सेमीफाइनल में पहुंच सकी। ओलम्पिक में भारतीय पुरूष हॉकी टीम को कांस्य पदक प्राप्त हुआ।

मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले के ग्राम चांदौन निवासी शिक्षक श्री रोहित प्रसाद के बेटे श्री विवेक सागर मध्यम वर्गीय परिवार से हैं। वर्ष 2018 में फोर नेशंस टूर्नामेंट, कॉमनवेल्थ गेम्स, चौम्पियन ट्रॉफी, यूथ ओलम्पिक, न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज, एशियन गेम्स तथा वर्ष 2019 में अजलान शाह हॉकी टूर्नामेंट, आस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज और फाइनल सीरीज भुवनेश्वर जैसी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। विवेक सागर को यूथ ओलम्पिक में बेस्ट स्कोरर और फाइनल सीरीज भुवनेश्वर में बेस्ट जूनियर प्लेयर अवॉर्ड से भी नवाजा गया। एशियाड 2018 में भारत को कांस्य पदक दिलाने वाली भारतीय टीम में शामिल मिडफील्डर हॉकी खिलाड़ी विवेक 62 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं, जिन्हे वर्ष 2018 में मध्य प्रदेश शासन द्वारा एकलव्य अवार्ड से सम्मानित किया गया है। विवेक सागर वर्तमान में पेट्रोलियम स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड में कार्यरत हैं।

इसी प्रकार टोक्यो ओलम्पिक 2020 की भारतीय हॉकी टीम के सहायक प्रशिक्षक श्री शिवेन्द्र सिंह ग्वालियर, मध्य प्रदेेश के है जिन्होंने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर भारत को कांस्य पदक दिलाने में महती भूमिका निभाई। एयर इंडिया में सीनियर मैनेजर के पद पर कार्यरत शिवेन्द्र सिंह ने लंदन ओलम्पिक 2012 में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने कामनवेल्थ गेम्स-2010 दिल्ली में रजत पदक, एशिया कप 2004 में स्वर्ण पदक, सुल्तान अजलॉन शाह कप 2010 मलेशिया में स्वर्ण, चैम्पियन चैलेंज-2007 बेल्जियम और 2009 साल्टा तथा एशियन गेम्स 2010 में एक-एक कांस्य पदक देश को दिलाया।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

सीनियर वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप-यांगटन, तीरंदाजी अकादमी की खिलाड़ी मुस्कान किरार यूएसए में करेंगी भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

सीनियर वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप-यांगटन

----

तीरंदाजी अकादमी की खिलाड़ी मुस्कान किरार यूएसए में करेंगी भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व

----

खेलमंत्री ने दी बधाई और शुभकामनाएं

भोपाल, दिनांक 04 अगस्त, 2021

यूएसए के यांगटन में 19 से 26 सितम्बर, 2021 तक होने जा रही सीनियर वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप में मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी, जबलपुर की खिलाड़ी मुस्कान किरार भारतीय तीरंदाजी टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी। भारतीय टीम में मुस्कान के चयन होने पर खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए मुस्कान किरार को बधाई दी है। उन्होंने सीनियर वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने और देश के लिए पदक जीतने के लिए प्रोत्साहित करते हुए मुस्कान को शुभकामनाएं दी हैं।

उल्लेखनीय है कि हरियाणा के सोनीपत में 2 से 5 अगस्त, 2021 तक सीनियर वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप के लिए खेले जा रहे ट्रायल में मुस्कान किरार द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन के आधार पर उनका भारतीय तीरंदाजी टीम में चयन हुआ है और वे मध्य प्रदेश की एक मात्र चयनित खिलाड़ी हैं। तीन पुरूष और तीन महिला खिलाड़ियों की भारतीय तीरंदाजी टीम में दिल्ली के अभिषेक वर्मा, पंजाब के संगमप्रीत और हरियाणा के रिषभ यादव तथा महिला खिलाड़ियों में मुस्कान किरार के अलावा पेट्रोलियम स्पोट्र्स प्रमोशन बोर्ड की ज्योति सुरेखा और राजस्थान की प्रिया गुर्जर शामिल हैं।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने भी मुस्कान किरार को सीनियर वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी हैं।

मुस्कान की उपलब्धियां

मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी जबलपुर में वर्ष 2016 से तीरंदाजी खेल में प्रतिभा निखार रही मुस्कान किरार दो बार की एशिया कप चैम्पियन है। उन्होंने दो स्वर्ण, 6 रजत और 3 कांस्य सहित 11 पदक देश को दिलाए हैं। मुस्कान ने वर्ष 2019 में बैंकाक थाइलैंड में आयोजित 21वीं एशियन आर्चरी चैंपियनशिप के कंपाउंड टीम इवेंट में देश को रजत पदक दिलाया। इसी वर्ष नीदरलैंड में आयोजित वर्ल्ड चैंपियनशिप के कंपाउंड टीम इवेंट में देश को कांस्य पदक दिलाया। उन्होंने वर्ष 2018 में एशिया कप स्टेज 1 में व्यक्तिगत स्पर्धा में एक स्वर्ण और टीम स्पर्धा में एक कांस्य पदक भारत को दिलाया। इसी तरह वर्ष 2019 में बैंकाक थाइलैंड में आयोजित एशिया कप स्टेज-1 की व्यक्तिगत स्पर्धा में एक स्वर्ण और टीम स्पर्धा में एक रजत तथा मिक्स टीम स्पर्धा में एक कांस्य पदक देश को दिलाया। उन्होंने वर्ल्ड कप और एशिया कप में देश को चार रजत पदक दिलाए हैं।

मुस्कान किरार खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा जबलपुर में संचालित तीरंदाजी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक एवं तकनीकी सलाहकार श्री रिचपाल सिंह सलारिया से तीरंदाजी खेल का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

घुड़सवारी अकादमी के खिलाड़ी प्रणय खरे की इक्वेस्ट्रीयन प्रीमियर लीग में गोल्डन हेट्रिक, खेल मंत्री ने बधाई दी



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

घुड़सवारी अकादमी के खिलाड़ी प्रणय खरे की इक्वेस्ट्रीयन प्रीमियर लीग में गोल्डन हेट्रिक

---

बैंगलुरु में ई.पी.एल. इवेंट में प्रणय ने जीते तीन स्वर्ण

---

खेल मंत्री ने बधाई दी

भोपाल, दिनांक 29 जुलाई, 2021

मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के प्रतिभावान खिलाड़ी प्रणय खरे ने बैंगलुरू स्थित एंबेसी इंटरनेशनल राइडिंग स्कूल द्वारा 24 एवं 25 जुलाई, 2021 तक आयोजित दो दिवसीय इक्वेस्ट्रीयन प्रीमियर लीग के तीन अलग-अलग इवेन्ट में शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन स्वर्ण पदक अर्जित किए। इक्वेस्ट्रीयन प्रीमियर लीग में प्रणय खरे के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रणय खरे को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी सहित अन्य एक्सीलेंस अकादमियों के माध्यम से खिलाड़ियों को उच्च स्तरीय खेल सुविधाएं और हॉय परफारमेंस टेªनिंग उपलब्ध कराई जा रही है। इसी का परिणाम है कि हमारे खिलाड़ी राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं और देश एवं प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं।

बैंगलुरू में आयोजित इक्वेस्ट्रीयन प्रीमियर लीग के पहले दिन प्रणय खरे ने 1.20 मीटर जम्पिंग इवेंट में वनीला स्काई अश्व पर प्रदर्शन करते हुए सभी राइडरों को पीछे छोड़कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। प्रतियोगिता के दूसरे दिन 1.15 मीटर जम्पिंग इवेंट में प्रणय खरे ने अरले अश्व पर शानदार प्रदर्शन करते हुए दूसरा स्वर्ण पदक अर्जित किया। इसी दिन आयोजित 1.30 मीटर जम्पिंग इवेंट में भी प्रणय ने अपना उत्कृष्ठ प्रदर्शन जारी रखते हुए स्वर्ण पदक अर्जित किया। उन्होंने वनीला स्काई अश्व पर प्रदर्शन करते हुए यह पदक अर्जित किया।

प्रणय खरे की उपलब्धियां

म.प्र. घुड़सवारी अकादमी में वर्ष 2013 से प्रशिक्षणरत प्रणय खरे ने अंतर्राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिताओं में तीन स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य सहित पांच पदक देश को दिलाए हैं। उन्होंने सीनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिताओं में दो स्वर्ण, छह रजत और दो कांस्य सहित दस पदक तथा जूनियर राष्ट्रीय घुड़वारी प्रतियोगिताओं में सत्रह स्वर्ण, छह रजत और तीन कांस्य सहित कुल छब्बीस पदक मध्य प्रदेश को दिलाए हैं। इसके अलावा प्रणय खरे ने हार्स शो एवं ईपीएल में 58 स्वर्ण, 47 रजत और 36 कांस्य सहित 141 पदक अर्जित किए हैं। प्रणय मध्य प्रदेश के खेल पुरस्कार एकलव्य और विक्रम पुरस्कार प्राप्त खिलाड़ी हैं। वे घुड़सवारी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ के मार्गदर्शन में घुड़सवारी का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।

2022 एशियन गेम्स ट्रायल की तैयारी के लिए प्रणय इन दिनों बैंगलुरू में एफईआई वर्ल्ड जम्पिंग चैलेंज चैम्पियन एवं कोच श्री नितिन गुप्ता के मार्गदर्शन में कठिन परिश्रम कर रहे हैं। प्रणय खरे का स्वप्न है कि वे एशियन गेम्स में भारत के लिए पदक जीतें और देश का नाम रोशन करंे।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

ओलम्पिक में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे खिलाड़ियों के उत्साहवर्धन के लिए चीयर फॉर इंडिया कार्यक्रम आयोजित



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

टोक्यो ओलंपिक 2020 का आगाज

---

ओलम्पिक में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे खिलाड़ियों के उत्साहवर्धन के लिए चीयर फॉर इंडिया कार्यक्रम आयोजित

---

नेशनल स्टेडियम नई दिल्ली से चीयर फॉर इंडिया कार्यक्रम का सीधा प्रसारण



भोपाल, दिनांक 23 जुलाई, 2021

विश्व के सबसे बड़े खेल महाकुंभ ओलंपिक का आज शुभारंभ हुआ। टोक्यो ओलंपिक 2020 में भागीदारी कर रहे 127 भारतीय खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन कर उन्हें शुभकामनाएं देने के उद्देश्य से दिल्ली स्थित मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में चीयर फॉर इंडिया कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री मान. श्री अनुराग ठाकुर, खेल राज्य मंत्री मान. श्री निसिथ प्रमाणिक सहित ओलंपियन एवं अंतर्राष्ट्रीय खिलाडियों ने उपस्थित रहकर भारतीय खिलाड़ियों की हौसला अफजाई की और उन्हें शुभकामनाएं देते हुए कहा चीयर फॉर इंडिया।

कार्यक्रम का दूरदर्शन पर सीधा प्रसारण किया गया। इस कार्यक्रम से जुड़कर प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने भी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के खिलाड़ियों ने यह साबित कर दिखाया है कि अच्छे प्रशिक्षक, अत्याधुनिक उपकरण और उच्च स्तरीय खेल सुविधाएं मिले तो ग्रामीण परिवेश में पलने बढ़ने वाली प्रतिभाएं भी अपने हुनर का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रर्दशन कर देश का गौरव बढ़ा सकती हैं। खेल मंत्री ने कहा कि हम सब मिलकर भारतीय खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करें। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस वर्ष ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ी देश के लिए ज्यादा से ज्यादा पदक अर्जित करेंगे।

दूरदर्शन द्वारा चीयर फॉर इंडिया कार्यक्रम का टी.टी. नगर स्टेडियम से लाइव टेलीकास्ट किया गया। कार्यक्रम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन सहित विभागीय अधिकारी, खेल प्रशिक्षक और खिलाड़ियों ने शामिल होकर ओलंपिक में भागीदारी कर रहे भारतीय खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया।

भारतीय दल का उत्साहवर्धन करने के लिए आयोजित चीयर फॉर इंडिया कार्यक्रम में देश भर से कई ओलंपियन, अर्जुन एवं द्रोणाचार्य अवॉर्डी खेल प्रशिक्षक, अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी तथा गणमान्य व्यक्ति वर्चुअल रूप से शामिल हुए।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

प्रदेश की खेल प्रतिभाओं के चयन हेतु एक अगस्त से प्रारंभ होगा प्रतिभा चयन कार्यक्रम



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

प्रदेश की खेल प्रतिभाओं के चयन हेतु एक अगस्त से प्रारंभ होगा प्रतिभा चयन कार्यक्रम

---

खेल विभाग द्वारा शिक्षा एवं आदिम जाति विभाग के सहयोग से किया जाएगा टेलेन्ट सर्च

---

वीडियो कांफ्रेंसिंग में अधिकारियों को खेल संचालक ने दिए दिशा-निर्देश



भोपाल, दिनांक 22 जुलाई, 2021

सुदूरवर्ती ग्रामीण अंचलों, कस्बों और जिला स्तर पर दबी-छुपी खेल प्रतिभाओं का चयन करने और उन्हें राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर प्रदान करने के लिए प्रदेश में एक अगस्त, 2021 से प्रतिभा चयन कार्यक्रम प्रारंभ किया जाएगा। खेल विभाग द्वारा स्कूल शिक्षा और आदिम जाति कल्याण विभाग के समन्वित प्रयासों से जिला, संभाग एवं राज्य स्तर पर होने वाले टेलेंट सर्च, (प्रतिभा चयन कार्यक्रम) के संबंध में आज एनआईसी के माध्यम से वीडियो कांफ्रेंसिंग आयोजित की गई। वीडियो कांफ्रेंसिंग में प्रदेश के समस्त जिलों के पुलिस अधीक्षकों, जिला खेल अधिकारी, स्कूल शिक्षा और आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारियों को संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, आयुक्त स्कूल शिक्षा श्रीमती जयश्री कियावत, डिप्टी कमिश्नर आदिम जाति सुश्री रीता सिंह एवं उप संचालक स्कूल शिक्षा श्री आलोक खरे द्वारा दिशा-निर्देश दिए गए। इस अवसर पर संयुक्त संचालक खेल डॉ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

स्थान निर्धारित करें

वीडियो कांफ्रंेसिंग में खेल संचालक श्री पवन जैन ने जिला पुलिस अधीक्षकों, जिला खेल अधिकारियों और स्कूल शिक्षा एवं आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारियों से जिलों की खेल गतिविधियों के संबंध में विस्तार से चर्चा की और कहा कि टेलेन्ट सर्च के लिए सुविधाजनक स्थल (मैदान) का चयन करें। प्रथम चरण में जिला स्तर पर खिलाड़ियों का फिजिकल टेस्ट (शारीरिक परीक्षण) एवं संभाग स्तर पर स्किल टेस्ट (कौशल परीक्षण) किया जायेगा। उन्होंने बताया कि टेलेन्ट सर्च के लिए जिलों को आवश्यक सामग्री, धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी।

व्यापक प्रचार-प्रसार करें

वीडियो कांफ्रेंसिंग में खेल संचालक श्री पवन जैन ने बताया कि 1 से 10 अगस्त तक जिला स्तर पर तथा 11 से 20 अगस्त, 2021 तक संभाग स्तर पर टेलेन्ट सर्च कार्यक्रम स्कूल शिक्षा और आदिम जाति कल्याण विभाग के सहयोग से संचालित किया जाएगा। उन्होंने टेलेन्ट सर्च से पूर्व जिला स्तर पर गठित समिति की बैठक आयोजित करने और आवश्यक तैयारी पूर्ण करने के लिए निर्देशित करते हुए कहा कि अधिक से अधिक खेल प्रतिभाआंे की पहचान के लिए टेलेन्ट सर्च कार्यक्रम का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार किया जाए। उन्होंने बताया कि टेलेन्ट सर्च के लिए भारतीय ख्ेाल प्राधिकरण (साई) सहित अन्य राज्यों के नार्म्स को शामिल करते हुए तैयार किए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रतिभा चयन कार्यक्रम संचालित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि टेलेन्ट सर्च से संबंधित जरूरी पैम्पलेट एवं लघु वृत्तचित्र आदि सामग्री जिलों को शीघ्र उपलब्ध कराई जाएगी।

जिलों में होंगे एक्सीलेन्स सेंटर

खेल संचालक श्री पवन जैन ने शिवपुरी, सागर, सतना, उज्जैन, धार, होशंगाबाद, छिंदवाड़ा, जबलपुर, विदिशा, पन्ना आदि जिलों में उपलब्ध खेल अधोसंरचनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश के अन्य जिलों को एक्सीलेन्स सेन्टर के रूप में विकसित किया जाएगा ताकि चयनित खेल प्रतिभाओं को इसका लाभ मिल सके।

कोई प्रतिभा छूटने न पाए

आयुक्त स्कूल शिक्षा श्रीमती जयश्री कियावत ने टेलेन्ट सर्च कार्यक्रम को खेल प्रतिभाओं के लिए एक स्वर्णिम अवसर बताते हुए अधिकारियों से कहा कि प्रदेश के सभी स्कूलों में प्रतिभा चयन कार्यक्रम की जानकारी पहंुचाने के लिए सोशल मीडिया, प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया का सहयोग लिया जाए। साथ ही सूचना के सभी माध्यमों का उपयोग किया जाये ताकि कोई भी प्रतिभा टेलेन्ट सर्च कार्यक्रम में शामिल होने से वंचित न रहे। उन्होंने बताया कि 26 जुलाई से स्कूल खुलंेगे और स्कूलों में पैम्पलेट लगाकर बच्चों को टेलेन्ट सर्च की जानकारी दी जाए।

मिलकर कार्य करें

आदिम जाति विभाग की डिप्टी कमिश्नर सुश्री रीता सिंह ने विभागीय अधिकारियों से कहा कि सुदूरवर्ती अंचलों में अनेक प्रतिभाएं हैं और इन खेल प्रतिभाओं को सामने लाने के लिए सभी अधिकारी टीम भावना से कार्य कर खेल विभाग के टेलेन्ट सर्च कार्यक्रम को परिणामदायी बनाएं।

संयुक्त संचालक खेल डॉ. विनोद प्रधान ने बताया कि टेलेन्ट सर्च के लिए खिलाड़ियों के रजिस्टेªशन हेतु गूगल फार्म की लिंक सभी जिलों को भेजी जा रही हैं।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह ने टी. टी. नगर स्टेडियम के समीप स्मार्ट सिटी में किया वृक्षारोपण



View





संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह ने टी. टी. नगर स्टेडियम के समीप स्मार्ट सिटी में किया वृक्षारोपण

----

संभागायुक्त श्री कियावत, खेल संचालक श्री जैन सहित अधिकारियों और खिलाड़ियों ने भी लगाए पौधे



भोपाल, दिनांक 20 जुलाई, 2021

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री तथा भोपाल जिले के प्रभारी मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने आज टी.टी. नगर स्टेडियम से लगी स्मार्ट सिटी की रिक्त भूमि में वृक्षारोपण किया। इस अवसर पर भोपाल संभाग के आयुक्त श्री कवींद्र कियावत, स्मार्ट सिटी के सीईओ श्री आदित्य सिंह, संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन कुमार जैन सहित अन्य अधिकारियों के साथ ही खेल प्रशिक्षकों और बड़ी संख्या में खिलाड़ियों ने पौधरोपण किया। वृक्षारोपण स्मार्ट सिटी भोपाल और खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा संयुक्त रूप से करवाया गया। वृक्ष गुरुद्वारा दाता बंदी छोड़ किला ग्वालियर द्वारा उपलब्ध करवाये गये हैं।

टी. टी. नगर स्टेडियम परिसर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि यहाँ लगभग 10-10 फीट के वृक्ष लगाये जा रहे हैं। भोपाल को हरा-भरा रखने के लिये सतत वृक्षारोपण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान स्वयं प्रतिदिन एक पौधा लगा रहे हैं। उन्होंने बताया कि भवन अनुज्ञा के साथ वृक्षारोपण की शर्त भी रखी गयी है। श्री सिंह ने कहा कि वृक्षों की शुद्ध हवा से वातावरण स्वच्छ और प्रदूषण मुक्त रहता है। इनके कारण भू-जल स्तर भी बढ़ता है। स्मार्ट सिटी के प्लाट नं. 44-बी में 4-4 मीटर की दूरी पर लगभग करीब डेढ़ हजार वृक्ष लगाये जायेंगे। यहाँ पर करंज, नीम, मौलश्री सहित विभिन्न प्रजाति के पौधे लगाये जायेंगे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन कुमार जैन ने कहा कि कोरोना काल ने हमें सिखाया है कि खेल, योग और ऑक्सीजन कितना जरूरी है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण की शुद्धता और हरियाली बेहतर स्वास्थ्य के लिए अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने स्वच्छ पर्यावरण और हरियाली बढ़ाने की जरूरत बताते हुए कहा कि ‘‘सांसे हो रही कम, आओ पौधे लगाएं हम’’ की परिकल्पना को साकार करने के लिए पौधरोपण किया जा रहा है। उन्होंने पेड़ों का महत्व रेखांकित करते हुए कहा कि ’मैंने चिड़िया पाली, एक दिन उड़ गई, फिर गिलहरी पाली वह भी चली गई, फिर मैंने एक पेड़ लगाया और दोनों वापस आ गए’।

उन्होंने बताया कि खेल विभाग की पहल पर गुरुद्वारा दाता बंदी छोड़ किला, संस्था ग्वालियर द्वारा पौधरोपण के लिए करीब दो हजार निःशुल्क पौधे उपलब्ध कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ग्रीन बेल्ट को विकसित करने के लिए खेल विभाग तत्परता से सहयोग करेगा।

वृक्षारोपण कार्यक्रम के अंतर्गत आज नीम, शीशम, पीपल, करंज, जामुन, आम, अर्जुन, सिल्वर रॉक मोरछली, अशोक, पुत्रजीवा आदि प्रजाति के पौधे लगाए गए।

इससे पूर्व नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने टी.टी. नगर स्टेडियम से साइकिल दल को झंडी दिखाकर रवाना किया।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

विश्व तीरंदाजी प्रतियोगिता में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे अकादमी के खिलाड़ी अमित कुमार



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

विश्व तीरंदाजी प्रतियोगिता में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे अकादमी के खिलाड़ी अमित कुमार

----

खेल मंत्री ने अमित को बधाई और शुभकामनाएं दी



भोपाल, दिनांक 14 जुलाई, 2021

पोलैंड के रॉकला सिटी में 9 से 15 अगस्त, 2021 तक आयोजित कैडेट विश्व तीरंदाजी प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी जबलपुर के प्रतिभावान खिलाड़ी अमित कुमार भारतीय तीरंदाजी टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे।

अमित कुमार के भारतीय तीरंदाजी टीम में चयन होने पर प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए अमित कुमार को बधाई दी है। उन्होंने अमित को विश्व तीरंदाजी प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करने और देश के लिए पदक जीतने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी हैं।

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी जबलपुर में वर्ष 2016 से प्रशिक्षणरत अमित कुमार अकादमी के प्रशिक्षक श्री रिछपाल सिंह सलारिया से तीरंदाजी खेल की बारीकियां सीख रहे हैं। अमित ने वर्ष 2018 में पुणे महाराष्ट्र में आयोजित सीनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता के टीम इवेंट में मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया। इसी वर्ष विजयवाड़ा आंध्र प्रदेश में आयोजित मिनी राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता की व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण तथा मिक्स टीम इवेंट में मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। उन्होंने मार्च, 2021 में देहरादून उत्तराखंड में आयोजित जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता की व्यक्तिगत स्पर्धा में कांस्य एवं मिक्स टीम स्पर्धा में मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

तीन दिवसीय स्व श्री रत्नेश गुरु बैडमिंटन इंटर क्लब टूर्नामेंट का समापन पीएचक्यू एलीट ने विजेता और पीएचक्यू सुप्रीम ने जीता उप विजेता का खिताब नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने किया पुरस्कार वितरण



View



संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

तीन दिवसीय स्व श्री रत्नेश गुरु बैडमिंटन इंटर क्लब टूर्नामेंट का समापन

पीएचक्यू एलीट ने विजेता और पीएचक्यू सुप्रीम ने जीता उप विजेता का खिताब

नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने किया पुरस्कार वितरण

भोपाल, दिनांक 12 जुलाई, 2021

टी. टी. नगर स्टेडियम के बैडमिंटन हाल में खेले जा रहे स्व श्री रत्नेश गुरु बैडमिंटन इंटर क्लब टूर्नामेंट का आज समापन हुआ। टूर्नामेंट में पीएचक्यू एलीट ए ने विजेता और पीएचक्यू सुप्रीम बी ने उप विजेता का खिताब हासिल किया। बेस्ट जोड़ी का अवार्ड संजय दुबे और कुलवंत पुरी ने जीता। प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री मान श्री भूपेन्द्र सिंह ने टी.टी. नगर स्टेडियम में आयोजित तीन दिवसीय स्व श्री रत्नेश गुरु स्मृति इंटर क्लब बैडमिंटन टूर्नामेंट के समापन कार्यक्रम में विजेता एवं उप विजेता टीमों को पुरस्कृत किया। टूर्नामेंट में पीएचक्यू एलीट-ए विजेता और पीएचक्यू सुप्रीम-बी उप विजेता रही। पी एच क्यू एलीट ए नें पी एच क्यू सुप्रीम बी को 3-0 से हराया।

मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने मैन ऑफ सीरीज का पुरस्कार संयुक्त रूप से श्री संजय दुबे और श्री कुलवंत सिंह पुरी की जोड़ी को दिया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री सिंह ने कहा कि दोनों टीमों ने बड़े उत्साह और स्टेमिना के साथ खेला। उन्होंने विजेता और उप विजेता टीम को बधाई दी।

संचालक खेल एवं युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि ख्यातिलब्ध खिलाड़ी स्व. श्री रत्नेश गुरु की स्मृति में यह टूर्नामेंट 10 से 12 जुलाई तक आयोजित किया गया था। उन्होंने कहा कि यह टूर्नामेंट कोविड काल में खिलाडियों की निराशा को दूर करने का यह प्रयास है। क्रिकेट के बाद बैडमिंटन दुनिया का सबसे लोकप्रिय खेल है। खेल संचालक ने बताया कि कोरोना काल के बाद राजधानी भोपाल स्थित टी टी नगर स्टेडियम के नवीन (रिनोवेट) बैडमिंटन कोर्ट में आयोजित यह पहला टूर्नामेंट था।

कार्यक्रम में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एस टी एफ श्री विपिन महेश्वरी, प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे, स्व श्री रत्नेश गुरु की धर्म पत्नी श्रीमती भारती गुरु, स्व रत्नेश गुरु के भाई योगाचार्य पवन गुरु, कुश्ती अकादमी के चीफ कोच द्रोणाचार्य अवॉर्डी श्री महासिंह राव विशेष रूप से उपस्थित थे। लाल परेड ग्राउंड स्पोर्टस क्लब के पदाधिकारियों द्वारा अतिथिगणों को स्मृति चिन्ह भेंट किए गए।

प्रारम्भ में अतिथियों का स्वागत खेल संचालक श्री पवन जैन, श्री विपिन माहेश्वरी, श्री हिलाल जाफरी, सुश्री रश्मि मालवीय आदि ने किया तथा अंत में एडीजी एसटीएफ एवं लाल परेड ग्राउंड स्पोर्ट्स क्लब के अध्यक्ष श्री विपिन माहेश्वरी ने आभार व्यक्त किया।

आज के परिणाम

मनु व्यास/हिलाल जाफरी

विरूद्ध

राजेश गुप्ता/ पवन भदौरिया 21-13, 21-12

अमित बिंदल/ पंकज जैन

विरूद्ध

दिनेश नागिया/विकास सिंह 21-12, 21-15

अमित साहू/पवन वाधवा

विरूद्ध

साईं कृष्णाध्कमल कोटवानी 21-11, 21-14

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

जिला खेल अधिकारी श्री राजपूत एवं श्रीमती मकसूदा मिर्जा को दी गई भावपूर्ण विदाई



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

जिला खेल अधिकारी श्री राजपूत एवं श्रीमती मकसूदा मिर्जा को दी गई भावपूर्ण विदाई

मधुर स्मृतियां अपने साथ लेकर जाएं सेवा निवृत अधिकारी - खेल संचालक श्री जैन



भोपाल, दिनांक 11 जुलाई, 2021

खेल और युवा कल्याण संचालनालय टी.टी. नगर स्टेडियम भोपाल में आज जिला खेल अधिकारी जबलपुर श्री संतोष राजपूत एवं जिला खेल अधिकारी सिवनी श्रीमती मकसूदा मिर्जा को सेवा निवृत होने पर भावपूर्ण विदाई दी गई।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने दोनों अधिकारियों को पुष्पगुच्छ, शाल, श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।

उल्लेखनीय है कि श्री संतोष सिंह राजपूत ने 30 अगस्त, 1983 को गुना से तथा श्रीमति मकसूदा मिर्जा ने 1 सितंबर, 1983 को सिवनी में जिला खेल अधिकारी के पद से शासकीय सेवा की शुरुआत की।

सेवाकाल में बनाए रिश्ते टूटते नहीं

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि अधिकारी-कर्मचारी का स्थानांतरण और रिटायरमेंट एक शासकीय प्रक्रिया है, जिससे प्रत्येक शासकीय सेवक को रूबरू होना पड़ता है। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त हो जाने से शासकीय सेवा में बने रिश्ते न टूटते हैं न छूटते हैं। श्री जैन ने दोनों अधिकारियों को सुखद और दीर्घायु जीवन के लिए अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यहां से आप मधुर स्मृतियां लेकर जाएं। कार्यक्रम को संयुक्त संचालक द्वय डॉ. विनोद प्रधान और बी.एस. यादव, जिला खेल अधिकारी जोंस चाको ने भी संबोधित किया और श्री राजपूत एवं श्रीमती मिर्जा द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों का उल्लेख करते हुए कई संस्मरण सुनाए और दोनों अधिकारियों के उज्जवल भविष्य की कामना की।

अपने सम्मान के प्रत्युत्तर में दोनों अधिकारियों ने विभाग द्वारा प्राप्त सहयोग के लिए सभी का आभार व्यक्त किया।

कार्यक्रम में खेल संचालनालय के अन्य अधिकारी और विभिन्न जिलों से ऑनलाइन जुड़े जिला खेल अधिकारियों तथा कार्यक्रम में उपस्थित हॉकी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन एवं द्रोणाचार्य अवॉर्डी श्री राजिंदर सिंह, हॉकी प्रशिक्षक ओलंपियन श्री समीर दाद, सेलिंग के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन अवॉर्डी श्री जी एल यादव, घुड़सवारी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ, कयाकिंग केनोइंग के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन पीजूष बरोई, फेसिंग अकादमी के प्रशिक्षक श्री विजय सिंह, जूडो प्रशिक्षक श्रीमति कमला रावत सहित अन्य प्रशिक्षको ने भी सेवानिवृत्त दोनों अधिकारियों को उनके दीर्घायु एवं सुखमय जीवन के लिए शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम का संचालन जिला खेल अधिकारी रायसेन श्री जलज चतुर्वेदी ने किया।

---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र. तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल समाचार रोड टू टोक्यो ओलंपिक के तहत टॉक शो का आयोजन --- स्पोट्र्स साइंस के विषय विशेषज्ञों ने किया खिलाड़ियों का मार्गदर्शन



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

रोड टू टोक्यो ओलंपिक के तहत टॉक शो का आयोजन

---

स्पोट्र्स साइंस के विषय विशेषज्ञों ने किया खिलाड़ियों का मार्गदर्शन



भोपाल, दिनांक 09 जुलाई, 2021

ओलंपिक में भागीदारी कर रहे खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देनेऔर प्रदेश में खेलों का वातावरण बनाने के उद्देश्य से खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया के निर्देशानुसार खेल विभाग द्वारा लगातार टॉक-शो का आयोजन किया जा रहा है। टॉक-शो में स्टाॅर खिलाड़ियों, खेल प्रशिक्षकों, खेल हस्तियों सहित विषय विशेषज्ञों को शामिल कर इन के अनुभवों से खिलाड़ियों को रूबरू कराया जाता है। इसी श्रंृखला में आज टी.टी. नगर स्टेडियम में टॉक-शो आयोजित किया गया जिसमें ‘‘रोल ऑफ स्पोर्ट्स साइंस इन स्पोर्ट्स परफारमेंस’’ विषय पर विशेषज्ञों द्वारा वर्चुअल जुड़े करीब तीन सौ खिलाड़ियों, युवा समन्वयकों और खेल प्रशिक्षकों को खेलो में स्पोट्र्स साइंस के महत्व से अवगत कराया।

टाॅक-शो में सिंगापुर से ऑनलाइन जुड़ी चीफ सायक्लोजिस्ट सुश्री संजना किरण ने कहा कि खिलाड़ियों को उनकी पसंद के खेलों में ही प्रोत्साहित करना चाहिए ताकि वे इस खेल में महारत हासिल कर लक्ष्य प्राप्त कर सकेें। पुणे से जुड़ी चीफ न्यूट्रीशनिस्ट सुश्री आराधना शर्मा ने खिलाड़ियों से कहा कि वे अपनी डाईट में प्रोटीन सहित अन्य फूड सप्लिमेंट्स का सावधानीपूर्वक उपयोग करें ताकि डोपिंग के खतरे से बचा जा सकें। टाॅक-शो में टी.टी. नगर स्टेडियम स्थित स्पोर्टस साइंस सेंटर भोपाल के प्रभारी डॉ. जींस थॉमस मैथ्यू ने कहा कि खेलों के क्षेत्र में स्पोट्र्स साइंस का सबसे महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने खिलाड़ियों की शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि खिलाड़ी को अपनी शिक्षा पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है। शिक्षित खिलाड़ी न्यूटिशियन और स्पोट्र्स साइंस का महत्व समझकर बेहतर खिलाड़ी के रूप में अपनी अलग पहचान बनाएगा।

सीनियर स्पोट्र्स फिजियो थेरेपिस्ट डाॅ. नितिन कंसल, न्यूट्रिशनिस्ट सुश्री सुल्तान आफरीन, फिजिकल टेªनर श्री विजेन्द्र पाॅल सिंह तथा सायक्लोजिस्ट सुश्री दिशा मुसद्दी ने भी टाॅक-शो में वर्चुअल रूप से जुड़े खिलाड़ियों, युवा समन्वयकों और प्रशिक्षकों को स्पोट्र्स साइंस संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी से अवगत कराया और उनके द्वारा पूछे सवालों का संतोषजनक जवाब भी दिया। टाॅक-शो में संयुक्त संचालक डाॅ. विनोद प्रधान, प्रभारी उप संचालक एवं जिला खेल अधिकारी भोपाल श्री जोंस चाको, सहायक संचालक श्री प्रदीप अस्टैया एवं श्री के.के. खरे आदि ने भी भागीदारी कर खिलाड़ियों का मार्गदर्शन किया। प्रसिद्ध उद्घोषक श्री प्रशांत सेंगर ने कार्यक्रम का संचालन किया।

------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

नियमित प्रशिक्षण के लिए प्रथम चरण में आयेंगे अकादमी के 127 खिलाड़ी



View

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.

तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल

समाचार

नियमित प्रशिक्षण के लिए प्रथम चरण में आयेंगे अकादमी के 127 खिलाड़ी

खेल संचालक ने खिलाड़ियों और उनके अभिभावकों से की चर्चा

पेरेंट्स कोच वर्चुअल मीटिंग आयोजित

भोपाल, दिनांक 4 जुलाई, 2021

आगामी खेल प्रतियोगिताओं को ध्यान में रखते हुए प्रथम चरण में विभिन्न खेल अकादमियों के 127 खिलाड़ियों को नियमित प्रशिक्षण के लिए बुलाया गया है। यह खिलाड़ी सोमवार 5 जुलाई, 2021 से भोपाल पहुंचेंगे। इससे पूर्व आज पेरेंट्स एवं कोच की एक वर्चुअल मीटिंग आयोजित की गई, जिसमें संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने खिलाड़ियों और उनके अभिभावकों से विस्तार से चर्चा की। वर्चुअल मीटिंग में सिंगापुर से जुड़ी चीफ साइकोलॉजिस्ट सुश्री संजना किरण और टी. टी. नगर स्टेडियम स्थित फीजियो साइंस सेन्टर के चीफ डॉ. जीन्स थॉमस मैथ्यू ने कोरोना संक्रमण से बचाव के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी से खिलाड़ियों और उनके अभिभावकों को अवगत कराया।

अकादमी के खिलाड़ियों का नियमित प्रशिक्षण

मीटिंग में खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि माह जुलाई में ओलंपिक 2020 तथा आगामी खेलो इंडिया यूथ गेम्स एवं अन्य प्रस्तावित अंतर्राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं

में भागीदारी करने वाले खिलाड़ियों की तैयारी को ध्यान में रखते हुए खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी से चर्चा के बाद अकादमी के बोर्डिंग खिलाड़ियों को नियमित प्रशिक्षण के लिए चरणबद्ध तरीके से बुलाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में विभिन्न खेल अकादमियों के 127 खिलाड़ियों को नियमित प्रशिक्षण के लिए बुलाया गया है।

खिलाड़ियों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता

खेल संचालक श्री पवन जैन ने खिलाड़ियों के अभिभावकों को आश्वस्त करते हुए कहा कि खिलाड़ियों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता है जिसे ध्यान में रखते हुए को भी प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करते हुए सभी जरुरी व्यवस्थाएं की गई है। खेल संचालक ने बताया कि कोविड प्रोटोकॉल के सुरक्षा मानकों के अंतर्गत कोच एवं खिलाड़ियों के लिए दिशा निर्देश जारी किए गए हैं जिनका सभी को गंभीरता से पालन करना होगा। उन्होंने खिलाड़ियों से कहा कि वे अनुशासन में रहकर प्रशिक्षण हासिल करें। उन्होंने खिलाड़ियों से यह भी कहा कि वे अपनी वेक्सिनेशन और आरटीपीसीआर रिपोर्ट साथ लाएं।

डरे नहीं सावधानी बरतें

सिंगापुर से ऑनलाइन जुड़ी चीफ साइकोलॉजिस्ट संजना किरण ने खिलाड़ियों से कहा कोविड महामारी खत्म नहीं हुई है और इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। इससे डरें नहीं बल्कि गंभीरता पूर्वक कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें और सुरक्षित रहें।

डॉ. जीन्स थामस मैथ्यू ने कोविड प्रोटोकॉल के संबंध में तैयार दिशा-निर्देशों से खिलाड़ियों और उनके अभिभावकों को विस्तार से अवगत कराया।

वर्चुअल मीटिंग में समस्त खेल अकादमिओ के प्रशिक्षकों, अधिकारियों, खिलाड़ी और उनके अभिभावकों सहित करीब दो सौ से अधिक लोगों ने भाग लिया।



---------------



महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी

खेलों को अनलॉक करने के लिए खेल संचालक ने की प्रशिक्षकों से चर्चा



View

खेलों को अनलॉक करने के लिए खेल संचालक ने की प्रशिक्षकों से चर्चा



प्रथम चरण में खेल अकादमियों के राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को बुलाया जाएगा





भोपाल 2 जुलाई 2021



कोविड-19 के कारण काफी समय से बंद खेल गतिविधियों को चरणबद्ध तरीके से प्रारंभ करने के लिए खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की मंशानुसार आज टी टी नगर स्टेडियम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन की अध्यक्षता में खेल प्रशिक्षकों और अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान एवं श्री बीएस यादव सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे। सिंगापुर से चीफ साइक्लोजिस्ट सुश्री संजना किरण, इटली से मुख्य प्रशिक्षक शूटिंग श्री मनशेर सिंह के अलावा भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और शिवपुरी में संचालित खेल अकादमियों के प्रशिक्षक और अधिकारियों ने बैठक में ऑनलाइन जुड़कर भागीदारी की।



पांच जुलाई से होगी खिलाड़ियों की वापसी



खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि कोविड की स्थिति को ध्यान में रखते हुए चरणबद्ध तरीके से खेल गतिविधियां प्रारंभ की जाएगी। उन्होंने बताया कि जुलाई एवं अगस्त में प्रस्तावित खेल प्रतियोगिताओं और ट्रायल को ध्यान में रखते हुए नियमित प्रशिक्षण के लिए बोर्डिंग खिलाड़ियों को बुलाया जा रहा है। प्रथम चरण में 5 जुलाई, 2021 से बोर्डिंग खिलाड़ियों को बुलाने का निर्णय लिया गया है। खेल संचालक श्री जैन ने खेल प्रशिक्षकों से बोर्डिंग खिलाड़ियों की संख्या और उनके परफारमेंस की जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि पहले राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पदक विजेता खिलाड़ियों को बुलाया जाएगा।



नॉन कांटेक्ट खेलों से होगी शुरुआत



खेल संचालक श्री पवन जैन ने बताया कि आगामी राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं और उनमें भागीदारी करने वाले खिलाड़ियों को प्रशिक्षण का लाभ दिलाने के उद्देश्य से पहले नॉनकॉन्टैक्ट खेलों की शुरुआत की जाएगी। इसके अंतर्गत फेंसिंग, पुरुष एवं महिला हॉकी, शूटिंग, घुड़सवारी,वाटर स्पोर्ट्स एथलेटिक्स, क्रिकेट और तीरंदाजी खेलों को प्रारंभ किया जाएगा। उन्होंने खेल प्रशिक्षकों से चर्चा कर आवश्यक सुझाव देने का आग्रह किया।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने प्रशिक्षकों द्वारा दिए गए सुझावों के अनुसार आवश्यक कार्यवाही करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि डे बोर्डिंग और बोर्डिंग खिलाड़ियों की ट्रेनिंग का अलग-अलग समय निर्धारित किया जाए। कोविड प्रभावित पूर्व खिलाड़ी से मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट लिया जाए। ट्रेनिंग एरिया में कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन हो यह सुनिश्चित किया जाए।



पेरेंट्स कोच मीटिंग



बैठक में सुश्री संजना किरण ने खिलाड़ियों को बुलाने से पूर्व पेरेंट्स कोच मीटिंग बुलाए जाने का सुझाव दिया। इस पर खेल संचालक ने 4 जुलाई, रविवार को पेरेंट्स कोच मीटिंग बुलाने की कार्रवाई करने के अधिकारियों को निर्देश दिए।

खेल मंत्री ने किया ओलम्पिक सेल्फी प्वाइंट का लोकार्पण



View

खेल मंत्री ने किया ओलम्पिक सेल्फी प्वाइंट का लोकार्पण



भोपाल 1 जुलाई, 2021



टोक्यो ओलंपिक 2020 में भागीदारी कर रहे भारतीय टीम के खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने और मध्य प्रदेश में ओलम्पिक मूवमेंट को प्रचारित करने के लिए रोड टू टोक्यो कैम्पेन के तहत प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने आज भोपाल स्थित अपने निवास पर सेल्फी प्वाइंट का लोकार्पण किया। यह सेल्फी प्वाइंट भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर शहर में मुख्य स्थानों पर लगाए जाएंगे।

वर्ल्ड सेलिंग चैम्पियनशिप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे अकादमी के खिलाड़ी एकलव्य बाथम



View

खेलमंत्री ने एकलव्य को बधाई और शुभकामनाएं दी



मध्य प्रदेश राज्य वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के 12 वर्षीय सेलिंग खिलाड़ी एकलव्य बाथम इटली के रिवाडेल गारडा में 30 जून से 10 जुलाई, 2021 तक आयोजित वर्ल्ड सेलिंग चैम्पियनशिप (विश्व नौकायन प्रतियोगिता) में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे। एकलव्य बाथम वर्ल्ड सेलिंग चैम्पियनशिप में भागीदाीर करने वाले मध्य प्रदेश के एक मात्र खिलाड़ी हैं। तीन बालक और दो बालिका सहित पाँच सदस्यीय खिलाड़ियों की भारतीय टीम में मध्य प्रदेश के अलावा मुम्बई और गोवा के एक-एक और हैदराबाद के दो खिलाड़ी शामिल हैं।

वर्ल्ड सेलिंग चैम्पियनशिप में एकलव्य बाथम के चयन होने पर खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्हें बधाई दी। उन्होंने चैम्पियनशिप में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए एकलव्य को प्रोत्साहित करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी हैं।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने वर्ल्ड सेलिंग चैम्पियनशिप में सफलता अर्जित करने के लिए एकलव्य बाथम को अपनी शुभकामनाएं दी हैं। सेलिंग के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन एवं विश्वामित्र अवार्डी श्री जी.एल. यादव ने बताया कि एकलव्य बाथम विगत चार वर्षों से सेलिंग अकादमी में प्रशिक्षणरत है और वर्तमान में वह नेशनल रैंकिंग में पहले स्थान पर है।

राष्ट्रीय अंतर्राज्यीय सीनियर एथलेटिक्स चैम्पियनशिप-2021 एथलेटिक्स अकादमी की खिलाड़ी बबीता पटेल ने मध्य प्रदेश को दिलाया रजत पदक



View

राष्ट्रीय अंतर्राज्यीय सीनियर एथलेटिक्स चैम्पियनशिप-2021



एथलेटिक्स अकादमी की खिलाड़ी बबीता पटेल ने मध्य प्रदेश को दिलाया रजत पदक



पटियाला, पंजाब में 25 से 29 जून, 2021 तक आयोजित 60वीं राष्ट्रीय अंतर्राज्यीय सीनियर एथलेटिक्स चैम्पिनशिप में मध्य प्रदेश राज्य एथलेटिक्स अकादमी की खिलाड़ी बबीता पटेल ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। बबीता पटेल ने पोल वॉल्ट इवेन्ट में 3.40 मीटर ऊंचा कूदकर यह पदक अर्जित किया।

राष्ट्रीय अंतर्राज्यीय सीनियर एथलेटिक्स चैम्पिनशिप में बबीता पटेल के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने बबीता को बधाई दी है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने कहा कि कोरोना काल के बाद आयोजित प्रतियोगिताओं में अकादमी के खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और प्रदेश का मान बढ़ा रहे है।

ओलंपिक पर खेल विभाग ने किया टॉक शो का आयोजन



View

टॉक शो में ओलंपियन एवं अर्जुन अवॉर्डी प्रशिक्षकों ने की भागीदारी

टॉक शो में ऑनलाइन जुड़कर खिलाड़ियों ने पूछे सवाल



प्रदेश में ओलंपिक के प्रति जन-जागरूकता लाने और खेल का वातावरण तैयार करने के उद्देश्य से आज टी.टी. नगर स्टेडियम भोपाल में एक टॉक शो का आयोजन किया गया। अर्जुन अवॉर्डी हॉकी ओलंपियन श्री सैय्यद जलालुद्दीन ओलंपियन एवं पुरुष हॉकी अकादमी के प्रशिक्षक श्री समीर दाद, साईं भोपाल के मुख्य प्रशिक्षक हॉकी श्री वाई. एस. चौहान, अर्जुन अवॉर्डी एवं मुख्य प्रशिक्षक सेलिंग श्री जी. एल. यादव और अर्जुन अवॉर्डी एवं मुख्य प्रशिक्षक रोइंग कैप्टन दलबीर सिंह तथा जिला खेल अधिकारी भोपाल श्री जोंस चाको ने परिचर्चा में भाग लिया।

टॉक शो से ऑन लाइन जुड़कर अर्जुन एवं द्रोणाचार्य अवॉर्डी और मध्य प्रदेश पुरुष हॉकी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री राजिंदर सिंह, लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्डी एवं म.प्र. राज्य महिला हॉकी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री परमजीत सिंह, डॉ करणी सिंह शूटिंग रेंज दिल्ली के एडमिनिस्ट्रेटर डॉ. जी. पी. गोस्वामी सहित प्रदेश के कई खिलाड़ी और खेल प्रेमियों ने परिचर्चा में हिस्सा लिया। खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की पहल पर आयोजित इस टॉक शो का संचालन श्री दामोदर आर्य ने किया।

कार्यक्रम में श्री सैय्यद जलालुद्दीन ने कहा कि मुझे खुशी है कि खेल विभाग द्वारा टॉक शो का आयोजन किया गया, जिसके माध्यम से खिलाड़ियों और खेल प्रेमियों को इस कार्यक्रम से जुड़ने और ओलंपिक के संबंध में नई-नई जानकारियां जानने और सीखने का अवसर मिला। उन्होंने कहा कि मैं शुक्रगुजार हूं प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी का जिन्होंने भोपाल के ओलंपियन श्री समीर दाद को मध्यप्रदेश राज्य पुरूष हॉकी अकादमी में कोच के रूप में सेवाएं देने का अवसर प्रदान किया। श्री सैय्यद जलालुद्दीन ने ओलंपिक के अपने संस्मरण सुनाते हुए कहा कि खिलाड़ी अपने आप को पहचान कर और अपनी कमियां दूर कर ही बहुत बेहतर कर सकता है। खिलाड़ी को उसकी कमियां उसके कोच ही बता सकते हैं और कोच की जिम्मेदारी है कि वह खिलाड़ी पर नजर बनाएं रखें। उन्होंने कहा कि ओलंपिक में मेडल जीतने वाला खिलाड़ी भी अगले दिन फिर प्रैक्टिस में जुड़ जाता है क्योंकि उसे अगला ओलंपिक जीतना होता है।

परिचर्चा में भाग लेते हुए ओलंपियन श्री समीर दाद ने कहा कि खेल में जीत हार होती है और हार को स्वीकारना और जीते हुए खिलाड़ी से गले मिलना ही खेल भावना है। उन्होंने कहा कि हॉकी में पहले से काफी बदलाव आया है। खिलाड़ी को अपनी फिटनेस और खेल की स्पीड पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

श्री वाई.एस. चौहान ने कहा कि खेल ऐसी विधा है जहां खिलाड़ी को कभी अपने परिवार या दोस्त के खिलाफ भी खेलकर जीत हार का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि ओलंपियन किस्मत वाले तो होते ही हैं साथ ही वे बहुत ही परिश्रमी भी होते हैं जो लक्ष्य बनाकर खेलते हैं।



कार्यक्रम में श्री जी. एल. यादव ने कहा कि अच्छा खिलाड़ी वही होता है जिसमें खेल भावना जन्मजात होती है। ऐसे खिलाड़ी की तो सिर्फ प्रतिभा निखारने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि खेल मंत्री मान .यशोधरा राजे सिंधिया जी की पहल पर भोपाल में स्थापित नेशनल सेलिंग स्कूल के परिणाम हमारे सामने हैं। वाटर स्पोर्ट्स में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हमारे खिलाड़ी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर पदक जीत रहे हैं और मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं। कैप्टन दलबीर सिंह ने बताया कि मध्यप्रदेश में खिलाड़ियों के लिए वे सब सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिनकी आज खिलाड़ियों को जरूरत है। उन्होंने ओलंपिक में भागीदारी करने वाले मध्य प्रदेश के खिलाड़ियों का जिक्र करते हुए इसे बड़ी उपलब्धि बताया।

जिला खेल अधिकारी, भोपाल श्री जोंस चाको के अलावा परिचर्चा में ऑनलाइन जुड़े श्री राजिंदर सिंह, श्री परमजीत सिंह, डॉ जी.पी गोस्वामी आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। अधिकांश वक्ताओं ने मध्य प्रदेश के खिलाड़ियों को मिल रही अंतर्राष्ट्रीय खेल सुविधाओं और उच्च स्तरीय प्रशिक्षण के लिए प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री का धन्यवाद किया।

वर्ष 2021 के खेल पुरस्कारों के लिए ऑनलाइन आवेदन 31 जुलाई तक किए जा सकेंगे



View

इस वर्ष के एकलव्य और विक्रम पुरस्कार में साहसिक खेल शामिल



खेल मंत्री की पहल पर खेल पुरस्कार राशि हुई दोगुनी



प्रदेश के प्रतिभावान खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने और उन्हें पुरस्कृत करने के उद्देश्य से खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की पहल पर राज्य शासन द्वारा नवीन पुरस्कार नियम, 2021 को मंजूरी प्रदान कर दी गई है। इसका मध्य प्रदेश राजपत्र में प्रकाशन भी कर दिया गया है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि वर्ष 2021 के खेल पुरस्कारों ( एकलव्य पुरस्कार, विक्रम पुरस्कार, विश्वामित्र पुरस्कार, लाइफ टाईम एचीव्हमेंट एवं स्व.श्री प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार) के लिए खेल विभाग द्वारा ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई, 2021 निर्धारित की गई है। नवीन पुरस्कार नियम के अनुसार विगत 5 वर्षों में अर्जित खेल उपलब्धियों के आधार पर खेल पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। इस वर्ष विक्रम एवं एकलव्य पुरस्कार के लिए साहसिक खेल (समुद्र, जमीन एवं वायु आधारित) को भी शामिल किया गया है, जिसमें एक एक विक्रम और एकलव्य पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। अब 10 के स्थान पर 12 विक्रम पुरस्कार दिए जाएंगे।

*पुरस्कार राशि में बढ़ोतरी*

वर्ष 2021 के खेल पुरस्कारों में खिलाड़ियों को मिलने वाली पुरस्कार राशि में बढ़ोतरी करते हुए इसे अब दोगुना कर दिया गया है खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की पहल पर अब एकलव्य पुरस्कार के लिए एक लाख रूपये तथा विक्रम, विश्वामित्र, स्व. श्री प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार तथा लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार (प्रत्येक) के लिए दो लाख रूपये प्रदान किए जाएंगे। पूर्व में एकलव्य के लिए 50 हजार तथा शेष पुरस्कारों के लिए एक लाख रूपये की राशि सम्मान स्वरूप प्रदान की जाती थी।



*ऐसे करें आवेदन*



वर्ष 2021 की खेल पुरस्कार संबंधी पात्रता एवं आवश्यक जानकारी खेल विभाग की वेबसाइट www.dsywmp.gov.in पर उपलब्ध है। आवेदक वेबसाइट पर ही ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन उपरांत आवेदन की प्रति जिस पर पंजीयन क्रमांक अंकित हो के साथ खेल प्रमाण पत्र एवं अन्य अभिलेखों की छाया प्रति संबंधित जिले के जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी के कार्यालय अथवा संचालनालय खेल और युवा कल्याण टीटी नगर स्टेडियम भोपाल में 31 जुलाई तक जमा करना अनिवार्य होगा निर्धारित तिथि के पश्चात प्राप्त आवेदन मान्य नहीं किए जाएंगे।

खेल और युवा कल्याण मंत्री ने ऑन लाइन दीक्षांत समारोह में युवाओं को प्रमाण पत्र प्रदान किए



View

खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा है कि युवाओं को रोजगार के अधिकतम अवसर दिलाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार संकल्पित है। खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा डीएसवायडब्ल्यू-आईसीआईसीआई अकादमी के सहयोग से कौशल विकास कार्यक्रम संचालित कर युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है।

खेल और युवा कल्याण मंत्री आज डीएसवायडब्लू-आईसीआईसीआई अकादमी के छठवें दीक्षांत समारोह को ऑनलाइन संबोधित कर रहीं थीं। खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने सभी प्रशिक्षणार्थियों को बधाई देते हुए कहा की रोजगारोन्मुखी कार्यक्रम के अंतर्गत अब तक 8033 बालक और 1688 बालिका सहित कुल 9721 युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए हैं और उन्हें आत्मनिर्भर बनाया गया है। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण के समय भी 126 युवाओं को प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया गया, यह भी एक उपलब्धि है। इसके लिए उन्होंने आईसीआईसीआई फाउंडेशन के सीओओ श्री अनुज अग्रवाल को बधाई देते हुए कहा कि अकादमी द्वारा संचालित कौशल उन्नयन कार्यक्रम के माध्यम से युवाओं को रोजगार के अवसर मिल रहे हैं।

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कौशल उन्नयन कार्यक्रम को और आगे बढ़ाने तथा मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान के आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की संकल्पना में अपना पूर्ण योगदान करने के लिए अपनी शुभकामनाएं दी।

दीक्षांत समारोह में खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया द्वारा अलग-अलग बैच में निःशुल्क प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले 126 युवाओं को ऑन लाइन प्रमाण पत्र वितरित किए गए। इनमें रेफ्रिजरेशन और एयर कंडीशनिंग रिपेयर के 63, इलेक्ट्रिकल और होम अप्लायंसेज रिपेयर के 43 तथा पंप और मोटर रिपेयर के 20 प्रशिक्षणार्थी शामिल थे। दीक्षांत समारोह में दक्षता प्राप्त युवाओं ने अपने अनुभव साझा कर कौशल उन्नयन कार्यक्रम की सराहना की।

ऑनलाइन कार्यक्रम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन सहित विभागीय अधिकारियों और प्रशिक्षणार्थियों ने भाग लिया।

उल्लेखनीय है कि डीएसवायडब्ल्यू-आईसीआईसीआई एकेडमी इंदौर द्वारा वर्ष 2020-21 में 582 बालक और 211 बालिकाओं सहित कुल 793 युवाओं को निशुल्क प्रशिक्षण देकर और रोजगार के अवसर प्रदान कर आत्मनिर्भर गया है। कौशल उन्नयन कार्यक्रम के अंतर्गत वर्तमान में 1200 युवाओं को अलग-अलग विधाओं में निःशुल्क प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जा रहा है। डीएसवायडब्ल्यू-आईसीआईसीआई एकेडमी इंदौर द्वारा कौशल उन्नयन कार्यक्रम के अंतर्गत रेफ्रिजरेशन एवं एयर कंडीशनिंग रिपेयर, सेंट्रल एयर कंडीशनिंग, इलेक्ट्रिकल और होम अप्लायंसेज रिपेयर, पंप और मोटर रिपेयर, ट्रेक्टर मैकेनिकल रिपेयर, पेंट एप्लीकेशन टेक्निक, सेलिंग स्किल्स तथा ऑफिस एडमिनिस्ट्रेशन ट्रेड में युवाओं को ट्रैनिंग दी जा रही है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर खिलाड़ियों, खेल प्रशिक्षकों और अधिकारियों ने सामूहिक योग किया



View

प्रदेश भर से ऑनलाइन जुड़कर खेल प्रशिक्षकों और खिलाड़ियों ने किया योगाभ्यास



अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आज टी. टी. नगर स्टेडियम में प्रातः 6.30 बजे से सामूहिक योग कार्यक्रम आयोजित किया गया।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, अंतर्राष्ट्रीय ताइक्वांडो खिलाड़ी लतिका भंडारी और कयाकिंग केनोइंग खिलाड़ी नमिता चंदेल की उपस्थिति में टी. टी. नगर स्टेडियम में आयोजित इस कार्यक्रम में करीब ढाई सौ से अधिक लोगों ने ऑनलाइन जुड़कर योगाभ्यास किया। योग प्रशिक्षक श्री भारत बांधेवाल ने कोविड प्रोटोकॉल संबधी भारत सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार जिला खेल अधिकारी कर्मचारियों, खेल प्रशिक्षकों और बड़ी संख्या में शामिल खिलाड़ियों को सामूहिक योग कराया।

योग करिए, निरोग रहिए

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सभी को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि बेहतर स्वास्थ्य और निरामय जीवन के लिए योग का अहम रोल है। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति योग को अपनी दिनचर्या और जीवन शैली में शामिल करे और योगाभ्यास कर निरोग रहे।

ग्रुप साउंड हीलिंग

सामूहिक योग कार्यक्रम में योग प्रशिक्षक श्री भारत बांधेवाल ने योग प्रार्थना के बाद सूक्ष्म व्यायाम एवं विभिन्न योगासनों का अभ्यास कराया। योगाभ्यास के दौरान साउंड हीलिंग (ध्वनि स्पंदन प्रक्रिया) भी कराई गई।

योग प्रशिक्षक द्वारा ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, अर्धकटि चक्रासन, त्रिकोणासन, दंडासन, भद्रासन, वज्रासन, अर्द्ध उष्ट्रासन, शशांकासन, उत्तानमंडूकासन, वक्रासन, पवन मुक्तासन, उत्तानपादासन, सेतु बंधासन, अर्द्धहलासन, शवासन, भुजंगासन, शलभासन आदि योगासनों का अभ्यास कराया गया।

इसके अलावा सामूहिक योग में श्वसन क्रिया, नाड़ीशोधन प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम, ध्यान, शीतली प्राणायाम एवं ऊँ उच्चारण कराया गया तथा अंत में शांति पाठ से सामूहिक योग का समापन किया गया।

इस बार म. प्र. से प्रशिक्षित सर्वाधिक खिलाड़ी टोक्यो ओलम्पिक में करेगें भारत का प्रतिनिधित्व



View

म.प्र. हॉकी अकादमी से प्रशिक्षित विवेक सागर प्रसाद तथा नीलाकांता शर्मा हुए भारतीय टीम में चयनित



ओलम्पिक में भागीदारी करने वाले प्रदेश के खिलाड़ियों को खेल मंत्री ने बधाई और शुभकामनाएं दी



खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया द्वारा खेलो के विकास में ली जा रही विशेष रूचि और उनके अथक प्रयासों के चलते खेलों के क्षेत्र में मध्य प्रदेश देश में रोल मॉडल बनकर उभर रहा है। प्रदेश के खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर देश और मध्य प्रदेश को गौरवान्वित कर रहे हैं। इस बार टोक्यो ओलम्पिक में मध्य प्रदेश के सर्वाधिक खिलाड़ी भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे।

ओलम्पिक में भागीदारी करने वाले मध्य प्रदेश से प्रशिक्षित खिलाड़ियों में एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर (शूटिंग), प्राची यादव (पैरा कयाकिंग केनोइंग), विवेक सागर प्रसाद और नीलाकांता शर्मा (पुरूष हॉकी), सुशीला चानू, मोनिका, वन्दना कटारिया (महिला हॉकी) शामिल हैं। इसके अलावा मध्य प्रदेश से प्रशिक्षित रिजर्व खिलाड़ी के रूप में चिंकी यादव एवं सुनिधि चैहान (शूटिंग), रीना खोखर एवं ई. रजनी (महिला हॉकी) का भी चयन किया गया है।

पैरा शूटिंग खिलाड़ी रूबिना फ्रांसिस भी ओलम्पिक में भागीदारी की प्रबल दावेदार हैं । हाल ही में पेरू में आयोजित विश्व पैरा शूटिंग चैम्पियनशिप में रूबिना फ्रांसिस ने रिकार्ड प्रदर्शन कर भारत को स्वर्ण पदक के साथ ओलम्पिक कोटा भी दिलाया है। मध्य प्रदेश में प्रशिक्षित अकादमी के पूर्व खिलाड़ी विभिन्न संस्थानों में कार्यरत हैं और देश का मान बढ़ा रहे हैं।

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि प्रदेश के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभा प्रदर्शन के अधिकतम अवसर दिलाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार कृत संकल्पित है। उन्होंने ओलम्पिक में प्रदेश के सर्वाधिक खिलाड़ियों के चयन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सभी खिलाड़ियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने खिलाड़ियों को तराशने वाले सभी प्रशिक्षकों को भी बधाई दी है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि वर्ष 2006 में प्रारंभ महिला हॉकी अकादमी के माध्यम से खिलाड़ियों को उच्च स्तरीय प्रशिक्षण एवं खेल सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। जिसका परिणाम है कि अकादमी से अंतर्राष्ट्रीय महिला खिलाड़ी तैयार हुई जिनमें से अधिकांश खिलाड़ी पिछले रिओ ओलम्पिक की भारतीय महिला हॉकी टीम में शामिल थी। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार वर्ष 2007-08 में भोपाल में पुरूष हॉकी अकादमी की स्थापना की गई। इस अकादमी के माध्यम से भी कई अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी तैयार हुए। इनमें से नीलाकांता शर्मा और विवेक सागर प्रसाद का ओलम्पिक की भारतीय पुरूष हॉकी टीम में चयन होना मध्य प्रदेश के लिए गौरव की बात है।

पुरूष हॉकी अकादमी भोपाल के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन एवं द्रोणाचार्य अवार्डी श्री राजिन्दर सिंह ने नीलाकांता और विवेक सागर के भारतीय टीम में चयन होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि दोनों प्रतिभावान खिलाड़ी हैं, जिनके प्रदर्शन में दिनों-दिन निखार आया है। उन्होंने भारतीय पुरूष हॉकी टीम को मेडल की दावेदार बताते हुए कहा कि ओलम्पिक में हमारी टीम अच्छा प्रदर्शन करेंगी और पदक जीतकर देश का नाम रौशन करेंगी।

महिला हॉकी अकादमी ग्वालियर के मुख्य प्रशिक्षक एवं लाईफ टाइम एचिव्हमेंट अवार्डी श्री परमजीत सिंह बरार ने कहा कि महिला हॉकी अकादमी ग्वालियर ने देश को अनेक स्टॉर खिलाड़ी दिए हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय महिला हॉकी टीम भी ओलम्पिक में पदक की प्रबल दावेदार है। उन्होंने सभी खिलाड़ियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

विवेक सागर प्रसाद की उपलब्धियां

होशंगाबाद जिले की इटारसी तहसील के ग्राम शिवनगर चांदौन में मध्यम वर्गीय परिवार में जन्में शिक्षक श्री रोहित प्रसाद के बेटे विवेक सागर ने वर्ष 2018 में फोर नेशंस टूर्नामेंट, कॉमनवेल्थ गेम्स, चैम्पियन ट्रोफ़ी, यूथ ओलम्पिक, न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज, एशियन गेम्स तथा वर्ष 2019 में अजलान शाह हॉकी टूर्नामेंट, ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज और फाइनल सीरीज भुवनेश्वर जैसी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। विवेक सागर को यूथ ओलम्पिक में बेस्ट स्कोरर और फाइनल सीरीज भुवनेश्वर में बेस्ट जूनियर प्लेयर अवॉर्ड से भी नवाजा गया। एशियाड 2018 में भारत को कांस्य पदक दिलाने वाली भारतीय टीम में शामिल मिडफिल्डर हॉकी खिलाड़ी विवेक 62 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं, जिन्हे वर्ष 2018 में मध्य प्रदेश शासन द्वारा एकलव्य अवार्ड से सम्मानित किया गया है।

रूबिना फ्रांसिस ने 10 मीटर एयर पिस्टल में नया वर्ल्ड रिकार्ड बनाकर भारत को दिलाया ओलम्पिक कोटा



View

मोटर मेकेनिक की बेटी रूबिना फ्रांसिस ने पैरा वर्ल्ड कप निशानेबाजी में रचा इतिहास



रूबिना फ्रांसिस ने किया देश और प्रदेश को गौरवान्वित-खेल मंत्री



मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की प्रतिभावान पैरा शूटर रूबिना फ्रांसिस ने पैरू के लीमा में 12 से 17 जून 2021 तक आयोजित पैरा वर्ल्ड कप में इतिहास रचते हुए 10 मीटर एयर पिस्टल पैरा वूमेन इवेन्ट में भारत को ओलम्पिक कोटा दिलाया है। रूबिना फ्रांसिस ने पैरा वर्ल्ड कप के फायनल राउण्ड में 238.1 अंकों के साथ नया वर्ल्ड रिकार्ड बनाते हुए स्वर्णिम सफलता अर्जित की और भारत को ओलम्पिक कोटा दिलाया। इससे पहले रूबिना ने क्वालिफिकेशन राउण्ड में 600 में से 555 अंक प्राप्त किए और पांचवा स्थान हासिल कर फायनल में जगह बनाई।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2017 में ओसिजेक में आयोजित पैरा वर्ल्ड कप में टर्की के खिलाड़ी अयसेगुल पेहलीवनलर ने 237.1 अंक अर्जित कर वर्ल्ड रिकार्ड बनाया था।

प्रदेश की बेटी ने रचा इतिहास

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने पैरा वर्ल्ड कप में रूबिना फ्रांसिस के अद्वितीय एवं सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की सराहना करते हुए उन्हें बधाई दी और कहा कि हमें प्रदेश की बेटी रूबिना पर गर्व है। पैरा वर्ल्ड कप में रूबिना ने नए कीर्तिमान के साथ भारत को ओलम्पिक कोटा दिलाकर इतिहास रचा है और देश एवं प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। खेल मंत्री ने रूबिना की इस उपलब्धि पर मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक पदमश्री, अर्जुन एवं द्रोणाचार्य अवार्डी श्री जसपाल राणा, प्रशिक्षक श्री जयवर्धन और सुश्री ओशिन टवानी को भी बधाई दी है।

स्टाॅर खिलाड़ी रूबिना की उपलब्धियां

वर्ष 2017 से मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में शूटिंग ख्ेाल की बारीकियां सीख रही रूबिना ने अंतर्राष्ट्रीय पैरा शूटिंग प्रतियोगिताओं में देश को दो स्वर्ण और एक कांस्य पदक दिलाए हैं। रूबिना ने वर्ष 2017 में बैंकाक में आयोजित वर्ल्ड शूटिंग पैरा स्पोट्र्स चैम्पियनशिप के 10 मीटर एयर पिस्टल वूमेन टीम इवेन्ट में जूनियर वर्ल्ड रिकार्ड बनाते हुए देश को स्वर्ण पदक दिलाया तथा वर्ष 2019 में क्रोएशिया में आयोजित वर्ल्ड शूटिंग पैरा स्पोट्र्स वल्र्ड कप में देश को कांस्य पदक दिलाया। उन्होंने राष्ट्रीय पैरा शूटिंग प्रतियोगिताओं में 10 स्वर्ण, 2 रजत सहित 12 पदक अर्जित कर मध्य प्रदेश को गौरवान्वित किया है।

मध्य प्रदेश सरकार का आभार

रूबिना फ्रांसिस के पिता जबलपुर निवासी श्री साईमन फ्रांसिस मध्यमवर्गीय परिवार से है जो पेशे से मोटर मैकेनिक हैं। उन्होंने बताया कि रूबिना को बचपन से ही शूटिंग खेल में विशेष रूचि रही है। रूबिना के पैरा वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करने और देश को ओलम्पिक कोटा दिलाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए श्री साईमन फ्रांसिस कहते है कि रूबिना ने देश का गौरव बढ़ाया है, ईश्वर ऐसी बेटी सबको दे, जो माता-पिता के साथ ही प्रदेश और देश का नाम रोशन करें। जबलपुर के एक निजी नर्सिंग होम में कार्यरत रूबिना की माता श्रीमती सुनीता फ्रांसिस ने भी बेटी की इस उपलब्धि पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि हमें अपनी बिटिया पर गर्व है। रूबिना के माता-पिता ने बेटी को मिली इस सफलता का श्रेय प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया को देते हुए मध्य प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया है।



वर्ल्ड क्लास शूटिंग अकादमी के सुखद परिणाम

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने पैरा वर्ल्ड कप में रूबिना फ्रांसिस को मिली सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि शूटिंग खेल में भारत को ओलम्पिक का कोटा दिलाने वाले खिलाड़ियों में एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और चिंकी यादव के बाद रूबिना फ्रांसिस तीसरी खिलाड़ी है। उन्होंने कहा कि वर्ल्ड क्लास शूटिंग अकादमी के माध्यम से खिलाड़ियों को मिल रही अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाओं और हाॅय परफारमेंस टेªनिंग का ही परिणाम है कि हमारे खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में शानदार प्रदर्शन कर रहे है और पदक जीतकर देश का नाम रोशन कर रहे हैं।

पुरुष हॉकी अकादमी के खिलाड़ियों को खेल की बारीकियां सिखायेंगे ओलंपियन समीर दाद



View

खेल मंत्री की पहल पर एयर इंडिया ने म प्र राज्य पुरुष हॉकी अकादमी को प्रतिनियुक्ति पर सौंपी ओलंपियन समीर दाद की सेवाएं



ओलंपियन समीर दाद ने की खेल संचालक से भेंट



खेलों के क्षेत्र में मध्य प्रदेश को देश का अग्रणी राज्य बनाने की मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान की मंशा को साकार करने के लिए संकल्पित खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया खेलों के विकास के लिए निरन्तर प्रयासरत हैं। उनके मार्गदर्शन में खेलों को नया स्वरूप देकर प्रतिभाशाली राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों की टीम तैयार करने के लिए खेल विभाग द्वारा एक कार्य योजना को अंतिम रूप दिया गया है। मध्य प्रदेश राज्य पुरुष हॉकी अकादमी में ओलंपियन श्री समीर दाद की कोच के रुप में नियुक्ति भी इसी कार्य योजना का एक हिस्सा है। एयर इंडिया द्वारा श्री समीर दाद की सेवाएं खेल विभाग को प्रतिनियुक्ति पर सौंपने में खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया का महत्वपूर्ण योगदान है।

हॉकी अकादमी के खिलाड़ियों को अब ओलंपियन श्री समीर दाद के मार्गदर्शन में प्रतिभा निखारने और हॉकी खेल की बारीकियां सीखने का अवसर मिलेगा।



*खेल संचालक से भेंट*



ओलंपियन श्री समीर दाद ने सोमवार को मध्य प्रदेश राज्य पुरुष हॉकी अकादमी में कोच के पद पर अपना कार्यभार ग्रहण कर लिया। उन्होंने टी टी नगर स्टेडियम पहुंचकर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री जैन ने समीर दाद का वेलकम करते हुए उन्हें मध्य प्रदेश राज्य पुरुष हॉकी अकादमी का कोच नियुक्त होने पर बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि श्री समीर दाद के अनुभव से मध्य प्रदेश ही नही भारतीय टीम को भी फायदा होगा और कई राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ी तैयार होंगे जो शानदार प्रतिभा का प्रदर्शन कर देश और प्रदेश को गौरवान्वित करेंगे।

श्री समीर दाद के कोच बनने पर संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान और श्री बी एस यादव सहित सभी अधिकारी कर्मचारियों, समस्त हॉकी खिलाड़ियों और खेल प्रेमियों ने श्री समीर दाद को बधाई दी है।



*ओलंपियन खिलाड़ी तैयार करना मेरा लक्ष्य*

हॉकी अकादमी में कोच नियुक्त किए जाने पर ओलंपियन श्री समीर दाद ने खेल और युवा कल्याण मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हॉकी मेरा पेशन है। मेरा लक्ष्य रहेगा कि मध्य प्रदेश के खिलाड़ी ओलम्पिक में भारत का प्रतिनिधित्व करें और खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी की मंशा को साकार करें।

*समीर दाद की मुख्य उपलब्धियां*



वर्ष 1998 में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए एशियन गेम्स बैंकॉक थाईलैंड में स्वर्ण पदक विजेता।

वर्ष 1997 में जूनियर वर्ल्ड कप इंग्लैंड में रजत पदक।

वर्ष 1998 में सीनियर एशिया कप क्वालालमपुर में कांस्य पदक।

वर्ष 1999 में सुल्तान अजनाल शाह क्वालालमपुर, वर्ष 1998 हॉलैंड में सीनियर वर्ल्ड कप तथा वर्ष 2001 स्काटलेंड में आयोजित सीनियर वर्ल्ड कप क्वालीफाय में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व।

वर्ष 2000 में सिडनी ऑस्ट्रेलिया के ओलंपिक गेम्स में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व।

इसके अलावा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर सात टेस्ट सीरीज और 6 फोर एण्ड एट नेशन चैंपियनशिप में भागीदारी।

वर्तमान में श्री समीर दाद एयर इंडिया हॉकी टीम के कोच और एयर इंडिया में सीनियर असिस्टेन्ट जनरल मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं।

वर्ष 2014-15 में श्री समीर दाद राष्ट्रीय जूनियर हॉकी टीम के असिस्टेन्ट कोच भी रह चुके हैं।

मैदानों और खेल परिसरों में फिर लौटेगी रौनक-खेल संचालक श्री पवन जैन



View

प्रदेश में खेलों को अनलाॅक करने के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग में खेल संचालक ने की एस.पी. और डी.एस.ओ. से चर्चा



खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की मंशा अनुसार प्रदेश में खेलों को अनलाॅक करने की दिशा में आज एक वीडियो कांफ्रेंसिंग आयोजित की गई, जिसमें संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने प्रदेश के समस्त जिला पुलिस अधीक्षकों और जिला खेल अधिकारियों से विस्तृत चर्चा की। जिला एवं ब्लॉक स्तर पर खेल गतिविधियों के संचालन हेतु खेल संचालनालय द्वारा तैयार किए गए दिशा-निर्देशों की जिला पुलिस अधीक्षकों और जिला खेल अधिकारियों को जानकारी देते हुए खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि स्थानीय आवश्यकता को ध्यान में रखते हुये इनमें संशोधन कर लागू किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी जिला प्रशासन से समन्वय बनाकर खेलों को अनलाॅक करने के लिए कार्य योजना बनाकर आवश्यक कार्य करें। जिससे खिलाड़ियों को आगामी प्रतियोगिताओं की तैयारी करने का समुचित अवसर मिल सके। उन्होंने फ्रेंच ओपन (टेनिस), एन.बी.ए.(बास्केटबाल), यूरोपियन फुटबाल लीग तथा ओलम्पिक क्वाॅलिफायर, टूर-डे-फ्रांस जैसी प्रतियोगिताओं कि जानकारी देते हुए बताया कि पूरे विश्व में खेलों को अनलाॅक करने की प्रक्रिया प्रचलन में है। खेलों से इम्यूनिटी में बढ़ोत्तरी होती है। अतः सावधानीपूर्वक अनलाॅक किया जाना आवश्यक है।



खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि कोरोना प्रकरणों में लगातार कमी से उम्मीद की जा सकती है कि मैदानों और खेल परिसरों में पुनः रौनक लौटेगी और हमारे खिलाड़ी फिर से उसी ऊर्जा और उत्साह से खेलेंगे। उन्होंने बताया कि राज्य शासन के निर्देशानुसार खेल गतिविधियों को प्रारंभ करने के लिए विभाग द्वारा आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। कोविड प्रोटोकॉल की गाइड लाइन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करते हुए 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के वैक्सीनेशन कराने वाले डे-बोर्डिंग खिलाड़ियों को प्रथम चरण में नाॅन कान्टेक्ट खेलों एथलेटिक्स, बेडमिंटन, टेबल-टेनिस, टेनिस, फेंसिंग, शूटिंग, व्हाॅलीबाल, बिलियर्ड स्नूकर, स्क्वाॅश, गोल्फ और प्रातः एवं सायंकाल वाॅकर खेल में अभ्यास की सशर्त अनुमति दी गई है।

इसी तरह राज्य खेल अकादमी के समस्त स्थानीय खिलाड़ियों को आउटडोर में फिटनेस अभ्यास की अनुमति दी गई है। यह खिलाड़ी भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और शिवपुरी स्थित खेल अकादमी परिसर में कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए शारीरिक अभ्यास कर सकेंगें।



वीडियो कांफ्रेंसिंग में निम्न मुख्य बिन्दुओं पर चर्चा की गईः-

जिलों में खेल गतिविधियो को चरण बद्ध तरीके से अनलाॅक करना।

खेल अकादमी के लिए प्रतिभा चयन की कार्य योजना बनाना।

जिला की खेल अधोसंरचना का रखरखाव एवं उन्नयन।

खेलो इण्डिया योजना अंतर्गत अधोसंरचना निर्माण हेतु प्रस्ताव तैयार करना।

खेलो इण्डिया स्माॅल स्केल स्पोर्ट्स सेन्टर की समीक्षा।

प्रदेश में ओलम्पिक जागरूकता अभियान पर चर्चा।

खेल परिसरों में पौधरोपण ।



वीडियो कांफ्रेंस में खेल संचालक श्री जैन ने जिले के प्रतिभावान खिलाड़ियों को राज्य खेल अकादमियों में प्रवेश दिलाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे टेलेन्ट सर्च में सहयोग कर प्रतिभावान खिलाड़ियों को अवसर प्रदान करें। प्रतिभा चयन कार्यक्रम में जिला खेल अधिकारी उच्च शिक्षा, स्कूल शिक्षा और आदिम जाति विभाग का सहयोग लेकर कार्यवाही सुनिश्चित करेें।



ओलम्पिक खेल के प्रति खिलाड़ियों में जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए खेल मंत्रालय भारत सरकार के निर्देशानुसार प्रदेश में निम्नलिखित कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगेः-



ओलम्पिक में भाग लेने वाले प्रदेश के खिलाड़ियों और अभिभावकों का सम्मान होगा।

आनॅलाइन ओलम्पिक क्विज।

ओलम्पिक सेल्फी पाइंट की स्थापना।

ओलम्पिक डिवेट, डायलाॅग, टाॅक शो और सेमीनार का आयोजन।

ओलम्पिक में भाग लेने वाले भारतीय टीम के खिलाड़ियों का प्रचार-प्रसार।

ओलम्पिक सोशल मीडिया कवरेज।



वीडियो कांफ्रेंस में प्रदेश में उक्त सभी कार्यक्रमों का समन्वित प्रयासों से आयोजन करने पर जोर दिया गया। इसके अलावा खेल संचालक श्री पवन जैन ने सभी अधिकारियों को खेल परिसरों में अभियान चलाकर अधिकतम पौध रोपण के विशेष प्रयास करने के निर्देश दिये। वीडियो कांफ्रेंसिंग में खेल संचालनालय से संयुक्त संचालक डाॅ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

वैक्सीनेशन कराने वाले 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के खिलाड़ी 14 जून से आउटडोर अभ्यास कर सकेंगे



View

भोपाल, ग्वालियर, शिवपुरी एवं जबलपुर स्थित खेल अकादमियों में खेल गतिविधियां प्रारंभ करने के संबंध में दिशा निर्देश जारी



कोविड19 संक्रमण के कारण विगत 2 माह से बंद खेल गतिविधियों को पुनः प्रारंभ करने की खेल विभाग द्वारा कार्यवाही की जा रही है। कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करते हुए संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन द्वारा 14 जून, 2021 से भोपाल, ग्वालियर, शिवपुरी, एवं जबलपुर स्थित खेल अकादमियों में बोर्डिंग एवं डे बोर्डिंग खिलाड़ियों के लिए आउटडोर एक्सरसाइज की अनुमति के लिए जरूरी दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

जारी दिशा निर्देशों के मुताबिक 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने वैक्सीनेशन करा लिया है वह कोविड19 प्रोटोकॉल संबंधी गाइड लाइन का कड़ाई से पालन करते हुए अभ्यास कर सकेंगे। अभ्यास की अनुमति केवल आउटडोर फिटनेस तक ही सीमित रहेगी।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने बताया कि कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार कमी को ध्यान में रखते हुए खेल गतिविधियों की प्रारंभिक शुरुआत 14 जून, 2021 से की जा रही है। प्रथम चरण में एथलेटिक्स, बैडमिंटन, टेनिस, फेसिंग, शूटिंग, व्हालीबॉल, स्क्वाश, बिलियर्ड-स्नूकर एवं टेबल टेनिस खेल की सशर्त अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा मॉर्निंग एवं इवनिंग वॉकर तथा गोल्फ खेल को भी शामिल किया गया है। इस सिलसिले में अधिकारियों और खेल प्रशिक्षकों को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं।



प्रथम चरण में खेल गतिविधियाँ प्रारंभ करने के जारी दिशा निर्देश



खेल परिसर में पे-एण्ड-प्ले योजनान्तर्गत कोविड-19 के खतरे को दृष्टिगत रखते हुए खेल प्रारंभ करने की अनुमति निम्न शर्तो पर प्रदान की जावेगी:-



18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के

खिलाड़ियों को स्टेडियम परिसर में अभ्यास हेतु वेक्सीन का कम से कम एक डोज लगा होना अनिवार्य।

स्टेडियम में प्रवेश हेतु प्रवेश पत्र होना अनिवार्य।

केवल पूर्व खिलाड़ियों को ही प्रवेश दिया जावेगा।

खिलाड़ी को निर्धारित समय में ही प्रवेश और अभ्यास करने की पात्रता होगी।

खेल परिसर में केवल खिलाड़ियों को ही प्रवेश की अनुमति होगी। दर्शकों और अभिभावकों का प्रवेश वर्जित रहेगा।

प्रत्येक खिलाड़ी की प्रत्येक सेशन से पूर्व थर्मल स्क्रीनिंग एवं एसपीओ2 अनिवार्य रहेगी, जिसका रिकार्ड रखा जावेगा।

खिलाड़ी को हर दिन अपना प्रवेश पत्र लाना अनिवार्य होगा। बगैर प्रवेश पत्र के खेल परिसर में प्रवेश नहीं दिया जावेगा।

खेल परिसर में प्रवेश के समय मास्क लगा होना अनिवार्य होगा। अभ्यास के समय मास्क की अनिवार्यतः नहीं रहेगी।

सोशल डिस्टेंसिंग (सामाजिक दूरी) का पालन करना अनिवार्य होगा अर्थात प्रशिक्षण के दौरान दो मीटर की दूरी रखना होगी।

प्रशिक्षण के दौरान उपयोग होने वाले खेल उपकरण को आपस में अदला बदली करके उपयोग नही किया जावेगा।

खिलाड़ी को अपनी व्यक्तिगत किट (प्लेइंग किट, वाटर बाटल, अतिरिक्त टी-शर्ट, टाॅवल, सेनेटाईजर) लाना अनिवार्य होगा।

प्रशिक्षण समाप्त होने के तत्काल बाद खिलाड़ियों को खेल मैदान छोड़कर जाना अनिवार्य होगा।

कोविड 19 के लक्षण दिखायी देने पर खिलाड़ियों को तत्काल इसकी सूचना स्टेडियम प्रशासन को देना अनिवार्य होगा।

सार्वजनिक शौचालय एवं पीने के पानी के स्थान को यथा संभव स्वच्छ रखने का प्रयास किया जावे वहां पर भी सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण ध्यान रखा जाएगा।

खेल संचालक ने की खेल गतिविधियां की समीक्षा वर्चुअल मीटिंग में जिला खेल अधिकारियों को दिशा निर्देश



View

कोविड19 संक्रमण के कारण काफी समय से खेल गतिविधियां बंद है। प्रदेश के जिलों में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने के बाद किस तरह खेल गतिविधियों की शुरुआत की जाय, इस सिलसिले में आज खेल संचालक श्री पवन जैन ने वर्चुअल मीटिंग में जिला खेल अधिकारियों से चर्चा की। मीटिंग में उन्होंने जिलों में उपलब्ध खेल अधोसंरचना खेल मैदान उपकरणों के रखरखाव एवं अद्यतन स्थिति पर अधिकारियों से चर्चा की। इसके अलावा खेलो इंडिया स्माल स्केल स्पोर्ट्स सेंटर तथा जनजातीय कार्य विभाग द्वारा क्रीड़ा परिसरों का उन्नयन एवं नवीन क्रीड़ा परिसरों की स्थापना के संबंध में जरूरी जानकारी हासिल की।

बैठक में संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान और संयुक्त संचालक श्री बीएस यादव ने भी विभागीय प्रगति के संबंध में जिला खेल अधिकारियों से चर्चा की।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि प्रदेश में कोविड संक्रमण की स्थिति में लगातार सुधार को दृष्टिगत रखते हुए राज्य शासन द्वारा अनलॉक की शुरुआत की गई है। उन्होंने जिला खेल अधिकारियों से कहा कि वे अपने अपने जिलों में जिला प्रशासन द्वारा जारी कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करते हुए सीमित संख्या में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को अभ्यास की अनुमति देने की कार्यवाई करें, ताकि वे राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं की तैयारी कर सकें।

खेल संचालक श्री जैन ने जिलों में स्थित खेल अधोसंरचना, मैदानों और फीडर सेंटर के रखरखाव के संबंध में जिला खेल अधिकारियों से चर्चा कर आवश्यक जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि स्कूल प्रारंभ होने के बाद स्कूल शिक्षा और खेल विभाग के समन्वित प्रयासों से भी टैलेंट सर्च सहित अन्य खेल गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए अभी से तैयारी प्रारंभ की जाए। उन्होंने कहा कि सभी डी एस ओ अपने-अपने जिलों में प्रचलित खेलों में से दो खेल का प्राथमिकता से चयन करें ताकि इन खेलों के प्रशिक्षकों की आउट सोर्स से पूर्ति सुनिश्चित की जा सके।

भारत सरकार द्वारा प्रदेश के चार जिलों में खेलो इण्डिया सेंटर के लिए 40 लाख रुपए की मंजूरी



View

इससे पूर्व प्रदेश को छह खेलो इण्डिया सेंटर की मिल चुकी है स्वीकृति

खेलमंत्री के प्रयासों से प्रदेश में खेलों के विकास को मिल रही गति



प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया द्वारा खेलों के विकास में ली जा रही रूचि और सतत प्रयासों के परिणाम स्वरूप भारत सरकार के युवा कार्यक्रम, खेल मंत्रालय, नई दिल्ली द्वारा मध्य प्रदेश को चार जिलों में खेलो इण्डिया सेंटर बनाने के लिए 40 लाख रुपयों की मंजूरी प्रदान की गई है। इसके अन्तर्गत दतिया में रोईंग, मुरैना में एथलेटिक्स, सागर में हॉकी एवं देवास में बैडमिंटन खेल के सेंटर स्थापित किए जाएंगें। इससे पूर्व प्रदेश के छह जिलों में खेलो इंडिया सेंटर की स्वीकृति केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जा चुकी है। इनमें सिवनी, मंदसौर, बैतूल, दमोह होशंगाबाद और शिवपुरी में एक-एक हॉकी का खेलो इंडिया सेंटर शामिल है।

खेलो इंडिया भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके अंतर्गत सभी राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों में 1000 खेलो इण्डिया स्मॉल सेन्टर स्थापित किए जाना है। इस योजना को विकसित करने का निर्णय जून, 2020 में लिया गया था जिसमें मध्य प्रदेश राज्य भी शामिल है। देश में खेलो इण्डिया स्मॉल सेंटर की संख्या 360 हो गई है ।

जमीनी स्तर पर खेल अधोसंरचना की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार द्वारा खेलो इण्डिया सेंटर प्रारंभ किए जा रहे हैं। इस योजना के सम्बन्ध में केन्द्रीय खेल मंत्री मान.श्री किरेन रिजिजू ने बताया कि वर्ष 2028 के ओलंपिक में भारत को शीर्ष 10 देशों में से एक बनाने का हमारा प्रयास है। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए कम उम्र से ही बड़ी संख्या में प्रतिभावान खिलाड़ियों की खोज करना और उनकी पहचान कर प्रतिभा को निखारना है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि जिला स्तरीय खेलो इण्डिया सेंटर्स में अच्छे प्रशिक्षकों, उपकरणों और बेहतर खेल सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कर हम सही समय पर सही खिलाड़ियों को खोजने में सक्षम होंगे।

ओलम्पियन अंकित शर्मा ने की सराहना

संपूर्ण देश में विशेषकर मध्य प्रदेश में स्पोर्ट्स इको सिस्टम को मजबूत करने के लिए भारत सरकार की खेलो इंडिया योजना की सराहना करते हुए रियो ओलम्पियन श्री अंकित शर्मा ने कहा कि खेलों में इस तरह के विकास को देखकर मुझे बहुत खुशी हुई। उन्होंने कहा कि प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी के मार्गदर्शन में मध्य प्रदेश खेलों के विकास के लिए बहुमूल्य कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि खेलो इंडिया योजना से निश्चित ही प्रदेश के अधिकतम खिलाड़ी लाभान्वित होंगे। उन्होंने बताया कि मैं चंबल संभाग से हूं जहॉं पूर्व में कम खेल सुविधाएं थीं परंतु प्रदेश की खेल मंत्री जी के प्रयासों से खेलों के विकास में महत्वपूर्ण कदम उठाए गए, जिससे संभाग में खेलों को बढ़ावा मिला। प्रदेश में स्थापित खेल अकादमियों के माध्यम से अनेक एथलीट उच्च स्तर पर अपना और प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हैं।

स्माल सेन्टर से निकलेंगी खेल प्रतिभाएं

भारत सरकार की खेलो इण्डिया योजना के अंतर्गत प्रत्येक जिले में विभिन्न खेलों के स्मॉल सेंटर बनाए जाएंगे जहां से खेल प्रतिभाएं और स्टार खिलाड़ी उभरेंगे। भारत सरकार की यह योजना उन खिलाड़ियों को भी रोजगार देगी जो वर्तमान में सक्रिय नहीं हैं तथा जो खेल को ही अपना भविष्य और कैरियर बनाना चाहते हैं ।

भारत सरकार द्वारा प्रत्येक सेंटर के लिए वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जावेगी, जिसमें प्रशिक्षकों का मानदेय, उपकरण खरीदी, खेल किट व विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन शामिल होगा ।

खेल अलंकरण पुरस्कारों के आवदेन की तिथि बढ़ाई गई



View

आवेदन अब 15 जून तक किए जा सकेंगे





खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा वर्ष 2020 के एकलव्य पुरस्कार, विक्रम पुरस्कार, विश्वामित्र पुरस्कार, लाइफ टाईम एचीव्हमेंट एवं स्व. श्री प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार हेतु आवदेन करने की अंतिम तिथि अब 15 जून, 2021 तक बढ़ा दी गई है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि वर्ष 2020 के एकलव्य पुरस्कार, विक्रम पुरस्कार, विश्वामित्र पुरस्कार, लाइफ टाईम एचीव्हमेंट एवं स्व.श्री प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार के लिए पूर्व में 30 जून,2020 तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए गए थे, लेकिन कोविड-19 संक्रमण को ध्यान में रखते हुए आवदेन की तिथि में बढ़ोतरी की गई है। जिन खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों एवं खेल हस्तियों ने पूर्व में किन्हीं कारणों के चलते आवेदन नहीं कर पाए वह अपने जिले के जिला खेल और युवा कल्याण कार्यालय अथवा संचालनालय खेल और युवा कल्याण, टी.टी. नगर स्टेडियम भोपाल में ऑफलाईन आवेदन 15 जून, 2021 तक प्रस्तुत कर सकते हैं। ऐसे आवेदक जिन्होंने वर्ष 2020 के अवार्ड हेतु ऑनलाईन आवेदन पूर्व में जमा करा दिए हैं उन्हें दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं है। आवेदन-पत्र विभागीय वेबसाइट www.dsywmp.gov.in

से भी डाउनलोड किया जा सकता है।

खेल संचालक श्री पवन जैन द्वारा प्रदेश के समस्त संभागीय एवं जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारियों को वर्ष 2020 के शिखर खेल अलंकरण पुरस्कारों के संबंध में आवश्यक कार्यवाही करने तथा इसका अपने-अपने जिलों में व्यापक रूप से प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए गए हैं।

खेल प्रशिक्षकों की वर्चुअल मीटिंग आयोजित



View

सभी कोच खिलाड़ी बच्चों के संपर्क में रहें और उनका मनोबल बढ़ायें - खेल संचालक







खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा संचालित समस्त खेल अकादमियों के खेल प्रशिक्षकों की आज वर्चुअल बैठक आयोजित की गई। संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में खेल गतिविधियों और आगामी कार्य योजना पर विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान और श्री बी एस यादव सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।



खेल संचालक श्री पवन जैन ने प्रत्येक खेल प्रशिक्षक से चर्चा कर खिलाड़ियों के वर्क आउट, पढ़ाई, स्वास्थ्य और वेक्सिनेशन के संबंध में जानकारी प्राप्त की।

खेल प्रशिक्षकों द्वारा बताया गया कि वर्तमान में खिलाड़ी अपने अपने घरों पर रहकर ही ऑनलाइन वर्कआउट कर रहे हैं। वर्क आउट संबंधी वीडियो भी एक दूसरे को शेयर कर रहे हैं। इसके साथ ही वे पढ़ाई भी कर रहे हैं।



खेल के साथ पढ़ाई भी महत्वपूर्ण



खेल संचालक श्री जैन ने कहा कि सभी खेल प्रशिक्षक खिलाड़ियों से लगातार संपर्क में रहकर उनसे बात करते रहें और उन्हें मानसिक रूप से सुदृढ़ करने के लिए उनका मनोबल बढ़ाते रहें। फिटनेस ट्रेनर और सायक्लोजिस्ट की बच्चों से बात कराएं ताकि वे मानसिक और शारीरिक रूप से सुदृढ़ रहें। उन्होंने खेलों के साथ-साथ पढ़ाई को भी महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि आगामी 10वीं और 12वीं की परीक्षा की तैयारी के लिए खिलाड़ियों को प्रोत्साहित कर उन्हें हर संभव सहयोग किया जाए। खेल संचालक ने बताया कि सिचुएशन नॉर्मल होने पर टैलेंट सर्च सहित अन्य खेल गतिविधियां संचालित की जाएंगी। उन्होंने टैलेंट सर्च की तैयारी हेतु की जाने वाली आवश्यक कार्यवाही और तैयारी के संबंध में खेल प्रशिक्षकों को मार्गदर्शन दिया।

यह रहे उपस्थित

बैठक में अर्जुन एवं द्रोणाचार्य अवॉर्डी एवं मुख्य प्रशिक्षक हॉकी सर्वश्री राजिंदर सिंह, पिस्टल शूटिंग जसपाल राणा, महिला हॉकी परमजीत सिंह, सेलिंग जी एल यादव, शॉटगन शूटिंग मनशेर सिंह, रोइंग कैप्टन दलबीर सिंह, घुड़सवारी कैप्टन भागीरथ, एथलेटिक्स एस के प्रसाद, कयाकिंग केनोइन कैप्टन पीजूष बरोई, तीरंदाजी रिचपाल सिंह सलारिया, फेंसिंग विजय कुमार के अलावा बॉक्सिंग रोशनलाल, कराते जयदेव शर्मा, शूटिंग श्रीमति सुनीता लाखन, वैभव शर्मा, जयवर्धन सिंह, ओशिन टवानी, सुश्री अपराजिता सिंह, इंद्रजीत सिकदार, कुश्ती श्रीमति रेखा रानी, ताइक्वांडो लतिका भंडारी, जे एस मांड सहित अन्य खेल प्रशिक्षक उपस्थित थे।

वर्चुअल मीटिंग में खेल संचालक ने डीएसओ को दिए दिशा निर्देश



View

खेल सुविधाओं का प्रॉपर मेंटेनेंस किया जाए



परिस्थितियां सामान्य होते ही शुरू की जायेंगी खेल गतिविधियां



संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन आज वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से प्रदेश के समस्त जिला खेल अधिकारियों से रूबरू हुए और खेल गतिविधियों के संबंध में चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने प्रत्येक जिला खेल अधिकारी से चर्चा कर कोविड 19 संक्रमण से प्रभावित अधिकारी, कर्मचारियों तथा उनके परिजनों की कुशलक्षेम पूछी और हौसला अफजाई कर उनका मनोबल बढ़ाया। वर्चुअल मीटिंग में संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान और श्री बीएस यादव ने भी जिला खेल अधिकारियों से विभागीय योजनाओं के संबंध में विस्तृत चर्चा की।



टैलेंट सर्च की तैयारी करें



खेल संचालक श्री पवन जैन ने जिला खेल अधिकारियों से चर्चा कर उनके जिलों में प्रचलित खेलों और प्रतिभावान खिलाड़ियों के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बताया कि प्रदेश में स्थिति सामान्य होने पर खेल गतिविधियां प्रारंभ की जाएगी। राजधानी भोपाल सहित सभी जिलों में टैलेंट सर्च के माध्यम से प्रतिभावान खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा। उन्होंने टैलेंट सर्च के लिए सभी आवश्यक तैयारी प्रारंभ करने के खेल अधिकारियों को निर्देश दिए।



अधिकारी फील्ड विजिट करें



खेल संचालक श्री जैन ने जिला खेल अधिकारियों से कहा कि वे खेल विभाग द्वारा निर्मित समस्त खेल सुविधाओं का प्रॉपर मेंटेनेंस सुनिश्चित करें। खेल अधो संरचनाओं की वास्तविक स्थिति जानने के लिए फील्ड विजिट करें और इसकी जानकारी से संचालनालय को अवगत कराएं।



एनपीएस की कटौती की जाय



खेल संचालक श्री पवन जैन ने कर्मचारियों के ईपीएफ (एम्पलाई प्रोविडेंट फंड) के स्थान पर एनपीएस (नेशनल पेंशन स्कीम) की कटौती करने के संबंध में वित्त विभाग द्वारा जारी आदेश का उल्लेख करते हुए सभी कर्मचारियों के एनपीएस की कटौती करने के जिला खेल अधिकारियों को निर्देश दिए।



स्वास्थ्य और फिटनेस के प्रति जागरूकता बढ़ी



जिला खेल अधिकारियों से कोरोना संक्रमण से प्रभावित अधिकारी, कर्मचारी और उनके परिजनों के संबंध में जानकारी प्राप्त कर कुशल क्षेम पूछकर उनकी हौसला अफजाई की। खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि वैक्सीनेशन और कोविड 19 प्रोटोकॉल का गंभीरता से पालन कर हम इस महामारी को शिकस्त दे सकते हैं। कोरोना काल से सबक लेकर लोगों में स्वास्थ्य और फिटनेस के प्रति जागरूकता बढ़ी है। उन्होंने कहा कि अस्वस्थ होने पर तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें। कोरोना पॉजिटिव होने पर घबराएं नहीं बल्कि इसका उपचार कराएं। बीमारी को शिकस्त देने के लिए अपना मनोबल बनाए रखें।

मध्य प्रदेश वाटर स्पोर्ट्स अकादमी की खिलाड़ी खुशप्रीत ने सेमी फाइनल के लिए किया क्वालीफाई - फाइनल मुकाबला कल



View

एशिया और ओशिनिया ओलंपिक एवं पैरालंपिक क्वालीफायर- जापान-20 21



जापान के टोक्यो में खेले जा रहे एशिया और ओशिनिया ओलंपिक एवं पैरालंपिक क्वालीफायर में मध्य प्रदेश वॉटर स्पोर्ट्स रोइंग अकादमी की खिलाड़ी खुशप्रीत कौर ने शानदार प्रदर्शन करते हुए सेमी फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है। खुशप्रीत कौर ने भारतीय रोइंग टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए वूमेन सिंगल स्कल इवेंट में 9 मिनट 31.66 सेकंड का समय लेकर दो किलो मीटर लंबी दौड़ पूरी की और सेमी फाइनल में जगह बनाई। सेमीफाइनल एवं फाइनल मुकाबले शुक्रवार 7 मई को खेले जाएंगे।

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने खुशप्रीत कौर के सेमी फाइनल में पहुंचने पर प्रसन्नता व्यक्त की है और उन्हें एशिया और ओशिनिया ओलंपिक एवं पैरालंपिक क्वालीफायर में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी हैं।

उल्लेखनीय है कि चार महिला एवं चार पुरुष खिलाड़ियों वाली भारतीय रोइंग टीम में मध्य प्रदेश रोइंग अकादमी की चार महिला खिलाड़ी भागीदारी कर रही हैं जिनमें रुकमणी दांगी और विद्या संकथ (डबल स्कल), खुशप्रीत कौर (सिंगल स्कल) और सोना कीर (रिजर्व खिलाड़ी) शामिल हैं। इनके अलावा आर्मी के चार पुरुष खिलाड़ी भारतीय टीम के चीफ कोच स्माइल बैग तथा कैप्टन दलबीर सिंह राठौर के मार्गदर्शन में भागीदारी कर रहे हैं।



रवाना होने से पूर्व खेल संचालक से भेंट



टोक्यो, जापान रवाना होने से पूर्व वाटर स्पोर्ट्स रोइंग अकादमी की चारों महिला खिलाड़ियों ने अकादमी के मुख्य कोच कैप्टन दलबीर सिंह राठौर के साथ टी टी नगर स्टेडियम पहुंचकर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री पवन जैन ने खिलाड़ियों से एशिया और ओशिनिया ओलंपिक एवं पैरालंपिक क्वालीफायर के लिए की गई तैयारी के संबंध में चर्चा कर आवश्यक जानकारी प्राप्त की और उन्हें उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी।

कोरोना की जंग जीतेंगे हम- हौसला बनाए रखें - यह वक्त भी गुजर जायेगा



View

खेल संचालक ने वर्चुअल मीटिंग में किया जिला खेल अधिकारियों का मार्गदर्शन



कोरोना वायरस से बचाव का कारगर उपाय वेक्सीन है और वैक्सीनेशन के लिए हम सभी को आगे आकर सहयोग करना चाहिए।

यह बात आज संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने प्रदेश के जिला खेल अधिकारियों से वर्चुअल मीटिंग में कही। टी टी नगर स्टेडियम स्थित मेजर ध्यानचंद हाल में आयोजित इस मीटिंग में संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान, सहायक संचालक श्रीमती वाणी साहू और श्री के के खरे भी उपस्थित थे।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने जिला खेल अधिकारियों से कहा कि वे कोरोना संक्रमण के इस दौर में धैर्य रखें। अपने और अपने परिवार तथा स्टाफ का विशेष ध्यान रखें। बीमारी के कारण किसी को अवकाश की जरूरत है तो वह संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान एवं श्री बीएस यादव से संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने स्टाफ को भी ऐसी स्थिति में तुरंत अवकाश स्वीकृत करने के निर्देश जिला खेल अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार ऑफिस में 10% कर्मचारियों की उपस्थिति सुनिश्चित करें।



वेक्सीन कारगर उपाय



वेक्सीन का उपयोग कर कोरोना महामारी से सुरक्षित देशों का उल्लेख करते हुए खेल संचालक श्री पवन जैन ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव का सबसे कारगर उपाय वेक्सीन ही है। वैक्सीनेशन के लिए हम सभी को आगे आकर इस महामारी से देश को निजात दिलाने में सहयोग करना चाहिए। खेल संचालक ने सभी डीएसओ से कहा कि वे अपना, अपने परिवार एवं स्टाफ के सदस्यों, खिलाड़ियों, खेल प्रशिक्षकों का वैक्सीनेशन अवश्य कराएं। साथ ही मिलने जुलने वालों तथा आस पास के सभी पात्र लोगो को वैक्सीनेशन के लिए प्रोत्साहित करें। जिन्होंने पहले एक बार वैक्सीनेशन करा लिया है उन्हें दूसरा डोज भी समय पर अवश्य लगवाना चाहिए।



धैर्य और संयम जरूरी

खेल संचालक श्री जैन ने कहा कि यह समय पैनिक होने का नहीं बल्कि धैर्य पूर्वक स्वयं को और अपने परिवार को सुरक्षित रखने का है । एक दूसरे का मनोबल बढ़ाने और एक दूसरे की मदद करने का है। उन्होंने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि यह वक्त भी गुजर जायेगा और कोरोना से हम जंग अवश्य जीतेंगे। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मास्क पहनकर, सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड-19 के प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कर हम स्वयं को और परिवार को सुरक्षित रख सकते हैं। कोरोना से डरे नहीं बल्कि कोई लक्षण महसूस होने पर तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें और अपना उपचार प्रारंभ करें। नकारात्मक खबरों से दूर रहकर हम अपना मनोबल बनाए रख सकते हैं। उन्होंने कहा कि नियमित व्यायाम और अच्छा आहार हमें सेहतमंद बनाए रखने में मददगार है। इसी तरह योग और प्राणायाम से भी हम अपनी इम्यूनिटी को बढ़ा सकते हैं। इसे अपना रूटीन बनाएं।



कोरोना को ऐसे दी मात

वर्चुअल मीटिंग में खेल संचालक श्री पवन जैन ने कोरोना जैसी गंभीर बीमारी को शिकस्त देने वाले अधिकारियों को शुभकामनाएं दीं और उन्हें अपने अनुभव साझा करने को कहा। संयुक्त संचालक खेल श्री बीएस यादव, जिला खेल अधिकारी रायसेन श्री जलज चतुर्वेदी और जिला खेल अधिकारी रीवा श्री राजेश शाक्य ने अपने अपने अनुभव शेयर किए। उन्होंने बताया कि लक्षण महसूस होने पर तुरंत जांच कराई और रिपोर्ट पॉजिटिव होने पर भी अपना मनोबल बनाए रखा और तुरंत उपचार प्रारंभ किया। चिकित्सीय परामर्श से ही दवाओं का उपयोग किया। सकारात्मक विचारधारा और वातावरण के लिए खेल संचालक की हौसला अफजाई तथा शुभचिंतकों से मिले सम्बल की बदौलत कोरोना को मात देने में सफलता हासिल की है।

मुस्सानह ओपन सेलिंग चैम्पियनशिप ओमान 2021 अकादमी की सेलर एकता यादव और रितिका दांगी ने देश को दिलाया कांस्य पदक



View

खेल मंत्री ने एकता यादव और रितिका दांगी को बधाई दी





ओमान में आयोजित मुस्सानह ओपन सेलिंग चैम्पियनशिप में वॉटर स्पोर्ट्स अकादमी की सेलिंग खिलाड़ी एकता यादव और रितिका दांगी की जोड़ी ने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए देश को कांस्य पदक दिलाया। दोनों खिलाड़ियों ने 49er क्लास वोट इवेंट में शानदार प्रदर्शन करते हुए यह पदक अर्जित किया। चाइना के खिलाड़ी प्रथम और हांगकांग के खिलाड़ी द्वितीय स्थान पर रहे।

मुस्सानह ओपन सेलिंग चैम्पियनशिप में एकता यादव और रितिका दांगी की इस उपलब्धि पर प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्हें बधाई दी है। खेल मंत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में देश को पदक दिलाने वाली दोनों खिलाड़ी बेटियों ने देश और प्रदेश का गौरव बढ़ाया है।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने भी मुस्सानह ओपन सेलिंग चैम्पियनशिप में वॉटर स्पोर्ट्स अकादमी की खिलाड़ी एकता यादव और रितिका दांगी के प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश के खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में लगातार पदक जीतकर प्रदेश को गौरवान्वित कर रहे हैं।

मध्य प्रदेश राज्य वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन अवॉर्डी श्री जी एल यादव ने बताया कि मुस्सानह ओपन सेलिंग चैम्पियनशिप में

अकादमी की खिलाड़ी हर्षिता तोमर ने ओवर ऑल पांचवा स्थान हासिल किया।

फेंसिंग अकादमी के खिलाड़ी टी. साई संकेत शर्मा वर्ल्ड फेंसिंग चैंपियनशिप में करेंगे भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व



View

खेल मंत्री की शुभकामनाएं



इजिप्ट रवाना होने से पूर्व खेल संचालक से भेंट



कायरो इजिप्ट में 11 अप्रैल, 2021 तक आयोजित जूनियर एवं कैडेट वर्ल्ड फेंसिंग चैंपियनशिप में मध्य प्रदेश राज्य फेंसिंग अकादमी के तलवारबाज टी. साई संकेत शर्मा भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे। वे फोइल की व्यक्तिगत स्पर्धा में प्रतिभा प्रदर्शन करेंगे।

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने टी. साई संकेत शर्मा को वर्ल्ड फेंसिंग चैंपियनशिप में उत्कृष्ट प्रतिभा प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए अपनी शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया है कि वर्ल्ड चैंपियनशिप में फेंसिंग अकादमी के खिलाड़ी टी. साई संकेत शर्मा पदक जीतकर देश और प्रदेश का गौरव बढ़ाएंगे।

इजिप्ट रवाना होने से पूर्व टी. साई संकेत शर्मा ने अपने कोच विजय कुमार के साथ टी. टी. नगर स्टेडियम पहुंचकर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री पवन जैन ने टी. साई संकेत शर्मा से वर्ल्ड चैंपियनशिप की तैयारी के संबंध में विस्तार से चर्चा की और उन्हें अच्छे प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी।

घुड़सवारी अकादमी के खिलाड़ी फराज खान और राजू सिंह ने की खेल मंत्री से भेंट



View

राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता के पदक विजेता खिलाडी फराज खान और राजू सिंह भदौरिया ने टी.टी. नगर स्टेडियम मे प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया से सौजन्य भेंट की और उन्हें राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता मे अर्जित उपलब्धि से अवगत कराया। खेल मंत्री ने मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए फराज खान और राजू सिंह भदौरिया को बधाई दी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में हमारे खिलाड़ी लगातार पदक जीतकर प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं। उन्होंने अकादमी के खिलाड़ियों की इस उपलब्धि पर घुड़सवारी अकादमी के प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ को भी बधाई दी। खेल मंत्री ने कहा की प्रदेश के खिलाड़ी राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपनी प्रतिभा का शानदार प्रदर्शन कर रहें हैं और लगातार पदक जीतकर मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं। इस अवसर पर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, संयुक्त संचालक श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

फराज और राजू ने प्रदेश को दिलाए दो स्वर्ण और एक रजत पदक

पिछले दिनों बैंगलुरू के अग्रम राइडिंग क्लब में सम्पन्न राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के खिलाड़ी फराज खान और राजू सिंह भदौरिया ने दो स्वर्ण और एक रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाए। प्रतियोगिता में फराज खान ने हर्लीकेन अश्व पर प्रतिभा प्रदर्शन करते हुए कॉनकार्ड क्रॉस कन्ट्री नेशनल (सीसीएन) वन स्टार सीनियर व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक अर्जित किया। प्रतियोगिता के प्री नोवाइस टीम इवेन्ट में फराज खान ने अजान अश्व और राजू सिंह ने प्रताप अश्व पर प्रदर्शन करते हुए मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया। प्रतियोगिता में राजूसिंह ने प्री नोवाइस क्रॉस कन्ट्री व्यक्तिगत स्पर्धा में प्रताप अश्व पर प्रदर्शन कर रजत पदक अर्जित किया। अकादमी के खिलाड़ी फराज खान, राजू सिंह भदौरिया ने घुड़सवारी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ के मार्गदर्शन में प्रतियोगिता में भागीदारी की।

घुड़सवारों की उपलब्धियां

घुड़सवारी अकादमी में वर्ष 2007 में प्रवेश लेकर खेल की बारीकियां सीख रहे फराज खान ने अंतरराष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिताओं में 4 स्वर्ण, 3 रजत और 4 कांस्य सहित 11 पदक देश को दिलाए हैं। उन्होंने राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में 27 पदक प्रदेश को दिलाए हैं। इनमें 11स्वर्ण, 9 रजत और 7 कांस्य पदक शामिल हैं।

इसी तरह वर्ष 2016 से मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी में प्रशिक्षणरत राजू सिंह भदौरिया ने अंतरराष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिताओं में एक स्वर्ण और एक कांस्य पदक देश को दिलाया है। राजू सिंह ने राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिताओं में 25 पदक प्रदेश को दिलाए हैं जिनमें 11 स्वर्ण, 8 रजत और 6 कांस्य पदक शामिल हैं।

सब जूनियर एवं जूनियर नेशनल ग्रीको रोमन स्टाईल कुश्ती प्रतियोगिता-चण्डीगढ़ कुश्ती अकादमी के खिलाड़ी उदित पटेल ने मध्य प्रदेश को दिलाया कांस्य पदक



View

सब जूनियर एवं जूनियर नेशनल ग्रीको रोमन स्टाईल कुश्ती प्रतियोगिता-चण्डीगढ़



कुश्ती अकादमी के खिलाड़ी उदित पटेल ने मध्य प्रदेश को दिलाया कांस्य पदक



पदक विजेता खिलाड़ी उदित पटेल ने की खेल संचालक से भेंट



चण्डीगढ़ में 25 से 27 मार्च, 2021 तक आयोजित सब जूनियर एवं जूनियर नेशनल ग्रीको रोमन स्टाईल कुश्ती प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य मार्शल आर्ट कुश्ती अकादमी के खिलाड़ी उदित पटेल ने मध्य प्रदेश को कांस्य पदक दिलाया। उदित ने यह पदक जूनियर वर्ग की 60 किलोग्राम भार वर्ग स्पर्धा में प्रदर्शन करते हुए अर्जित किया।

कुश्ती अकादमी के खिलाड़ी उदित पटेल ने आज टी.टी. नगर स्टेडियम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की और उन्हें प्रतियोगिता में अर्जित उपलब्धि से अवगत कराया।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने उदित पटेल को जूनियर नेशनल कुश्ती प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीतने के लिए बधाई दी। उन्होंने प्रतियोगिता में किए प्रदर्शन के संबंध में उदित से चर्चा कर आवश्यक जानकारी प्राप्त की और उन्हें आगामी प्रतियोगिताओं में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर कुश्ती अकादमी के प्रशिक्षक श्री सुमित सेहरावत भी मौजूद थे।

प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश के सब-जूनियर एवं जूनियर वर्ग के 20 खिलाड़ियों ने भाग लिया, इनमें कुश्ती अकादमी के चार खिलाड़ी शामिल थे।

वर्ल्ड कप में म.प्र. शूटिंग अकादमी की खिलाड़ी मनीषा कीर ने ट्रैप टीम वूमेन इवेंट में देश को दिलाया स्वर्ण पदक



View

म. प्र. शूटिंग अकादमी के खिलाड़ियों ने देश को किया गौरवान्वित-खेल मंत्री



दिल्ली में खेली जा रही विश्व शूटिंग प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की स्टॉर खिलाड़ी मनीषा कीर ने ट्रेप टीम वूमेन इवेंट में देश को स्वर्ण पदक दिलाया। टीम में मनीषा के साथ श्रेयसी सिंह और राजेश्वरी कुमारी ने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए गोल्ड मैडल मैच में कजाकिस्तान की खिलाड़ियों को 6-0 के अंतर से परास्त कर स्वर्ण पदक अर्जित किया। क्वालिफिकेशन राउंड में तीनों खिलाड़ियों ने 107-107 का स्कोर करते हुए कुल 321 अंक हासिल किए। जबकि कजाकिस्तान की खिलाड़ी कुल 308 अंक ही जुटा सकीं। इस पदक को मिलाकर विश्व कप में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के खिलाड़ियों ने चार स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य सहित कुल 6 पदक देश को दिलाए हैं। मेजबान भारत 15 स्वर्ण, 9 रजत और 6 कांस्य सहित कुल 30 पदकों के साथ पहले स्थान पर है। जबकि 4 स्वर्ण, 3 रजत और एक कांस्य सहित आठ पदकों के साथ यूएसए दूसरे और दो स्वर्ण, दो कांस्य सहित कुल चार पदकों के साथ इटली तीसरे स्थान पर है।

खिलाड़ी बेटी पर गर्व

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने शूटिंग अकादमी की प्रतिभावान निशानेबाज मनीषा कीर द्वारा वर्ल्ड कप में किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए मनीषा कीर को बधाई दी। उन्होंने कहा कि देश को स्वर्ण पदक दिलाने वाली खिलाड़ी बेटी पर हमें गर्व है। मनीषा कीर ने अपने सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन से यह साबित कर दिखाया है कि कोरोना काल के बाद भी उनके जोश और जुनून में कोई कमी नहीं आई। मुझे खुशी है कि हमारे खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पदक जीत कर देश और प्रदेश का परचम फहरा रहे हैं। उन्होंने वर्ल्ड कप में मनीषा कीर की इस उपलब्धि पर शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री मनशेर सिंह और सहायक प्रशिक्षक इंद्रजीत सिकदार को भी बधाई दी।

मनीषा ने अब तक देश को दिलाए हैं तेरह पदक

भोपाल के समीप स्थित गौरागांव निवासी मनीषा कीर ने वर्ष 2013 में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में प्रवेश लिया और तभी से वे अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री मनशेर सिंह से शॉटगन शूटिंग खेल की बारीकियां सीख रहीं हैं और अपनी प्रतिभा निखार रहीं हैं। शूटिंग में अपना कैरियर बनाने वाली मनीषा ट्रैप इवेंट की प्रतिभावान खिलाड़ी हैं जिन्होंने विश्व जूनियर शूटिंग चैम्पियनशिप कोरिया में ट्रैप इवेन्ट में 125 मे से 115 अंक अर्जित कर विश्व रिकार्ड की बराबरी की है। कुवैत में इसी वर्ष जनवरी में आयोजित प्रथम एशियन ऑनलाईन शूटिंग (शाॅटगन) चैम्पियनशिप में मनीषा ने देश को कांस्य पदक दिलाया। मनीषा कीर ने अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अब तक 3 स्वर्ण, 6 रजत और 4 कांस्य सहित 13 पदक देश को दिलाए हैं। उन्होंने राष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिताओं में 21 स्वर्ण, 6 रजत एवं 6 कांस्य पदक सहित कुल 33 पदक अर्जित कर प्रदेश को गौरवान्वित किया है।

विश्व स्तरीय शूटिंग अकादमी से मिल रहे उत्साहजनक परिणाम

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि राजधानी भोपाल के समीप बिशनखेड़ी स्थित मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी वर्ल्ड क्लास शूटिंग अकादमी है जहां खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएं और हाय परफॉर्मेंस ट्रेनिंग उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी के विशेष प्रयासों से प्रारम्भ एक्सीलेंस शूटिंग अकादमी के उत्साह जनक परिणाम सामने आ रहें हैं। इसी अकादमी ने हमें वर्ल्ड नंबर वन और वर्ल्ड नंबर टू खिलाड़ी दिए हैं।

विश्व कप में तिरंगा लहरा कर लौटे शूटिंग अकादमी के स्टॉर खिलाड़ियों का भव्य स्वागत



View

कोरोना काल के अवसाद से निकलकर हमारे खिलाड़ियों ने रचा इतिहास-खेल संचालक



दिल्ली में आयोजित विश्व कप में तीन स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य सहित पांच पदक देश को दिलाने वाले मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के स्टॉर खिलाड़ी चिंकी यादव, ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और सुनिधि चौहान का आज टी.टी. नगर स्टेडियम में आयोजित स्वागत कार्यक्रम में विभागीय अधिकारियों, खेल प्रशिक्षकों और खिलाड़ियों द्वारा पुष्प मालाओं से आत्मीय स्वागत किया गया। इस अवसर पर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, संयुक्त संचालक डॉ. विनोद प्रधान एवं श्री बी. एस. यादव सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी, खेल प्रशिक्षक और खिलाड़ी उपस्थित थे।

कार्यक्रम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने ऐश्वर्य प्रताप, चिंकी यादव और सुनिधि चौहान को बधाई देते हुए कहा कि विश्व कप में हमारे तीनों युवा खिलाड़ियों ने अनुभवी निशानेबाजों को पीछे छोड़ते हुए पदक जीतकर देश का परचम फहराया है। कोरोना काल के अवसाद से निकलकर हमारे खिलाड़ियों ने इतिहास रचा है।

उन्होंने कहा कि विश्व कप में चिंकी यादव और ऐश्वर्य प्रताप ने अपनी श्रेष्ठता साबित कर टोक्यो ओलंपिक में अपनी भागीदारी का मार्ग प्रशस्त किया है। हम सभी मिलकर यही दुआ करें कि हम इन्हें ओलंपिक में पदक जीतते हुए देखें। उन्होंने इन पंक्तियों के साथ अपनी बात समाप्त की कि ’खिलाड़ी गीत हैं, गालिब की गजल हैं, गंगा हैं, सुनाते जो हमें जन-गण-मन की धुन, वह तिरंगा हैं।’

कार्यक्रम में विश्व की नंबर वन खिलाड़ी चिंकी यादव ने कहा कि हम एथलीट हैं, एथलीट को खुद पर भरोसा होना चाहिए कि जब हमने इतनी मेहनत की है, कई कठिनाइयों से निकले हैं तो हम क्या नहीं कर सकते? उन्होंने कहा कि मैं एक लाइन में कहना चाहूंगी कि ’मैं चलूंगी, दौड़ूंगी, गिरूंगी, फिर उठूंगी और एक दिन फिर इतिहास रचूंगी।’ कार्यक्रम में चिंकी यादव, ऐश्वर्य प्रताप सिंह और सुनिधि चौहान ने अपनी इस उपलब्धि के लिए प्रदेश की खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी का विशेष रूप से धन्यवाद किया जिनके मार्गदर्शन में उन्होंने यह सफलता प्राप्त की। उन्होंने अपने खेल प्रशिक्षकों श्री जसपाल राणा, सुश्री सुमा शिरूर, श्रीमती सुनीता लाखन, श्री वैभव शर्मा, श्री जयवर्धन सिंह, सुश्री ओशिन टवानी और सुश्री अपराजिता सिंह के अलावा सायक्लाजिस्ट सुश्री संजना किरण, चीफ न्यूट्रिशनिस्ट श्रीमती आराधना शर्मा के साथ ही सहयोगी खिलाड़ियों, परिजनों एवं अधिकारी/कर्मचारियों का भी धन्यवाद करते हुए सभी का आभार व्यक्त किया।

इससे पूर्व आज सुबह भोपाल के हबीबगंज रेल्वें स्टेशन पहुंचने पर ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और सुनिधि चौहान का ढ़ोल-ढ़माकों और गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया। सहायक संचालक श्री विकास खराड़कर, डॉ. शिप्रा श्रीवास्तव एवं खेल प्रशिक्षक और खिलाड़ियों ने हबीबगंज स्टेशन पहुंचकर विश्वकप में देश का परचम फहराने वाले खिलाड़ियों का पुष्पहारों से जोरदार स्वागत किया।

विश्व कप शूटिंग प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाड़ियों का धमाकेदार प्रदर्शन



View

अब तक देश को दिलाए 5 पदक-खेल मंत्री ने दी बधाई



अकादमी की खिलाड़ी चिंकी यादव वर्ल्ड नं. वन और एश्वर्य प्रताप बने वर्ल्ड नं. टू खिलाड़ी



एश्वर्य और सुनिधि की जोड़ी ने मिक्स्ड इवेन्ट में देश को दिलाया कांस्य पदक





दिल्ली में खेली जा रही विश्व कप शूटिंग प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं और लगातार देश के लिए पदक जीतकर देश एवं प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे है। प्रतियोगिता में आज खेले गए 50 मीटर रायफल थ्री पोजिशन मिक्स्ड इवेन्ट में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के प्रतिभावान खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और सुनिधि चैहान की जोड़ी ने यूएसए के खिलाड़ियों को 31-15 अंकों से शिकस्त देकर कांस्य पदक अर्जित किया।

विश्व कप में एतिहासिक प्रदर्शन कर दो स्वर्ण पदक दिलाने वाली मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की स्टॉर खिलाड़ी चिंकी यादव 25 मीटर स्पोर्ट्स पिस्टल इवेन्ट में 1110 रेटिंग प्वाइंट के साथ विश्व की नम्बर एक खिलाड़ी बन गई है। इसी तरह वर्ल्ड कप में एक-एक स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक देश को दिलाने वाले अकादमी के स्टॉर खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर 1039 रेटिंग प्वाइंट के साथ विश्व के नम्बर दो खिलाड़ी बन गए हैं। विश्व स्तर पर चिंकी यादव और एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर को प्राप्त इस उपलब्धि पर प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए दोनों खिलाड़ियों को तथा कांस्य पदक विजेता सुनिधि चैहान को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने सिंगापुर की सायक्लाजिस्ट सुश्री संजना किरण, हॉय परफारमेंस कोच श्री जसपाल राणा एवं सुश्री सुमा शिरूर तथा सभी प्रशिक्षकों को बधाई दी।

अकादमी के खिलाड़ियों ने देश को दिलाए पांच पदक

विश्व कप शूटिंग प्रतियोगिता की मैडल टेली में 23 पदकों के साथ भारत शीर्ष स्थान पर है। भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने अब तक 11 स्वर्ण, 6 रजत और 6 कांस्य पदक देश को दिलाए हैं। विश्व कप में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा 3 स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य सहित कुल पांच पदकों का अमूल्य योगदान रहा है।

खेल मंत्री की मौजूदगी ने खिलाड़ियों का बढ़ाया हौसला

दिल्ली स्थित डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रैंज पर आयोजित विश्वकप में प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने लगातार मौजूद रहकर खिलाड़ियों को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित किया। परिणाम स्वरूप खिलाड़ियों के आत्म विश्वास में बढ़ोतरी हुई और उन्होंने भी खेल मंत्री की मंशा को साकार करते हुए स्वर्ण पदकों की हेट्रिक लगाई साथ ही एक रजत और एक कांस्य सहित पांच पदक देश को दिलाकर देश और प्रदेश का गौरव बढ़ाया।

शूटिंग अकादमी ने देश को दिए स्टॉर खिलाड़ी

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने विश्व कप में चिंकी यादव, एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और सुनिधि चैहान के शानदार प्रदर्शन की सराहना की। उन्होंने चिंकी यादव को वर्ल्ड नम्बर वन और एश्वर्य प्रताप को वर्ल्ड नम्बर टू खिलाड़ी बनने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी ने देश को स्टॉर खिलाड़ी दिए हैं। उन्होंने बताया कि खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की पहल और उनकी दृढ़ इच्छा शक्ति के चलते राजधानी भोपाल में वर्ल्ड क्लास शूटिंग अकादमी प्रारंभ हुई जिसके सुखद परिणाम आज हमारे सामने हैं। अकादमी के दो खिलाड़ी विश्व में पहले और दूसरे स्थान पर पहुंचकर मध्य प्रदेश का मान बढ़ा रहे है।

विश्व कप में सुनिधि चैहान का पहला पदक

प्रतिभा किसी को आगे बढ़ने से कभी नहीं रोक सकती है, बस आगे बढ़ने का जूनून होना चाहिए। भोपाल की सुनिधि चैहान ने भी कभी नहीं सोचा था कि वह रायफल शूटिंग के वर्ल्ड कप में मैडल जीत पाएगी और उन्होंने यह कर दिखाया। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जा रही अंतर्राष्ट्रीय स्तरीय खेल सुविधाओं और उच्च स्तरीय प्रशिक्षण के चलते मध्यवर्गीय परिवार की बेटी सुनिधि चैहान आज इस मुकाम पर पहुंची हैं। भोपाल स्थित आचार्य नरेन्द्र देव नगर गोविन्दपुरा निवासी श्रमिक श्री राम समुझ चैहान की बेटी सुनिधि चैहान को बचपन से ही शूटिंग का लगाव रहा है। वह जब कॉलेज में पहुंची तब एनसीसी में रहकर उनकी रायफल चलाने की हसरत पूरी हुई और यहाँ रहकर सुनिधि को राष्ट्रीय स्पर्धा में प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर मिला। उनकी शानदार प्रतिभा से प्रभावित एनसीसी कमांडर आफीसर ने उन्हें शूटिंग खेल में कैरियर बनाने के लिए मध्य प्रदेश शूटिंग अकादमी में प्रवेश के लिए प्रोत्साहित किया।

सुनिधि ने वर्ष 2017 में खेल अकादमी में ट्रायल दिया और उनके अच्छे प्रतिभा प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में प्रवेश मिल गया। सुनिधि की लगन और परिश्रम से उन्हें वर्ष 2018 में त्रिवेन्द्रम में 62वीं एनएससीसी शूटिंग प्रतियोगिता में प्रदर्शन का अवसर मिला और उन्होंने पहला कांस्य पदक अर्जित किया। वर्ष 2019 में दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय के.एस.एस.एम.एस.सी. कॉम्पटीशन में मध्य प्रदेश के लिए रजत पदक अर्जित किया। इसी वर्ष सुनिधि ने नेपाल में आयोजित साउथ एशियन गेम्स काठमाण्डू में शानदार प्रदर्शन करते हुए देश को स्वर्ण पदक दिलाया। उन्होंने 2019 में पांच अंतर्राष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व भी किया।

सुनिधि ने प्रदेश की खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पहल पर स्थापित विश्व स्तरीय शूटिंग अकादमी के माध्यम से मुझे राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर मिला। अकादमी के माध्यम से मिल रहे उच्च स्तरीय प्रशिक्षण एवं आधुनिक खेल सुविधाओं की बदौलत आज मुझे यह मुकाम हासिल हुआ है और इसके लिए मैं हृदय से मध्य प्रदेश सरकार की आभारी हूं।

मध्य प्रदेश शूटिंग अकादमी की खिलाड़ी चिंकी यादव ने टीम इवेंट में दिलाया देश को स्वर्ण पदक



View



आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में चिंकी यादव का शानदार प्रदर्शन



खेल मंत्री ने चिंकी यादव को बधाई दी



दिल्ली में खेली जा रही आई एस एस एफ विश्वकप शूटिंग प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की स्टाॅर खिलाड़ी चिंकी यादव ने आज फिर देश को स्वर्ण पदक दिलाया। चिंकी यादव ने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए महिला वर्ग की 25 मीटर स्पोर्ट्स पिस्टल टीम स्पर्धा में कुल 17 अंक अर्जित कर देश को स्वर्ण पदक दिलाया। पोलैंड के खिलाड़ी 7 अंक लेकर दूसरे स्थान पर रहे। भारतीय टीम में राही सरनोबत और मनू भाकर शामिल थीं।

विश्व कप शूटिंग प्रतियोगिता में 10 स्वर्ण, 6 रजत और 5 कांस्य सहित 21 पदकों के साथ भारत पहले स्थान पर है। इनमें मध्य प्रदेश अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा अर्जित 3 स्वर्ण और एक रजत सहित 4 पदकों का महत्वपूर्ण योगदान है।

पदक सूची में तीन स्वर्ण दो रजत और एक कांस्य सहित छह पदकों के साथ यूएसए दूसरे और दो स्वर्ण और एक कांस्य सहित तीन पदकों के साथ डेनमार्क तीसरे स्थान पर है।



खिलाड़ियों की स्वर्णिम सफलता से प्रदेश हुआ गौरवान्वित



दिल्ली में डॉ करणी सिंह शूटिंग रेंज पर आयोजित विश्वकप शूटिंग प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया लगातार उपस्थित रहकर खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन कर रही हैं। खेल मंत्री की मौजूदगी में मप्र राज्य शूटिंग अकादमी के खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं और पदक जीत कर देश और प्रदेश का मान बढ़ा रहे हैं। खेल मंत्री ने विश्व कप में चिंकी यादव के उत्कृष्ट प्रदर्शन की सराहना करते हुए उन्हें और उनके सभी कोच को बधाई दी। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि खिलाड़ियों की स्वर्णिम सफलता से प्रदेश गौरवान्वित हुआ है।

चिंकी यादव ने इस स्वर्ण पदक के साथ अब तक अंतर्राष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिताओं में 5 स्वर्ण, 2 रजत और 4 कांस्य सहित कुल 11 पदक देश को दिलाए है। उन्होंने राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में 6 स्वर्ण, 4 रजत और 7 कांस्य सहित कुल 17 पदक अर्जित किए है। चिंकी यादव शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री जसपाल राणा, प्रशिक्षक जयवर्धन सिंह और सुश्री ओशिन टवानी के मार्गदर्शन में प्रशिक्षणरत है।

मध्य प्रदेश शूटिंग अकादमी के स्टॉर खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप और चिंकी यादव ने रचा इतिहास



View

आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में देश को दिलाए दो स्वर्ण पदक



एश्वर्य प्रताप और चिंकी यादव भविष्य के ओलम्पिक चैम्पियन -खेल मंत्री



मध्य प्रदेश के खेल जगत में आज उस वक्त खुशी की लहर छा गई जब मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के स्टॉर खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और चिंकी यादव ने वर्ल्ड कप में सोने पर निशाना साधा और दो स्वर्ण पदक देश को दिलाए। मध्य प्रदेश के निशानेबाज एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने 50 मीटर रायफल थ्री पोजिशन और चिंकी यादव ने 25 मीटर पिस्टल इवेन्ट में शानदार प्रदर्शन किया और देश-विदेश के नामचीन निशानेबाज खिलाड़ियों को पीछे छोड़ते हुए स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा। केन्द्रीय खेल मंत्री मान. श्री किरण रिजिजू और मध्य प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने दिल्ली स्थित डॉ. कर्णीसिंह शूटिंग रेंज में आयोजित आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में उपस्थित होकर खिलाड़ियों का प्रदर्शन देखा।

ऐसे लगाया सोने पर निशाना

दिल्ली में आयोजित आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में चिंकी यादव ने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए महिला वर्ग की व्यक्तिगत 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में कुल 32 अंक अर्जित कर देश को स्वर्ण पदक दिलाया। भारत की राही सरनोबत दूसरे और मनू भाकर तीसरे स्थान पर रही। इसी तरह पुरूष वर्ग की 50 मीटर रायफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने 462.5 का स्कोर करते हुए देश को स्वर्ण पदक दिलाया। हंगरी के खिलाड़ी 461.6 अंकों के साथ दूसरे और डेनमार्क के खिलाड़ी 450.9 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

खिलाड़ियों पर हमें गर्व

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि शूटिंग अकादमी के स्टॉर खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप और चिंकी यादव ने विश्वकप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। खेल मंत्री ने दोनों खिलाड़ियों के प्रतिभा प्रदर्शन की मुक्तकंठ से सराहना करते हुए कहा कि टोक्यो ओलम्पिक के लिए निशानेबाजी में भारत को कोटा दिलाने वाले दोनों खिलाड़ियों ने यह साबित कर दिखाया है कि वे निशानेबाजी में किसी से कम नहीं है। उन्होंने कहा कि विश्वकप में अपने खिलाड़ियों को शानदार प्रदर्शन करते देखकर मुझे अत्यंत खुशी हुई और इस एतिहासिक पल की साक्षी बनने का मुझे अवसर मिला। खेल मंत्री ने एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और चिंकी यादव तथा सभी प्रशिक्षकों को इस एतिहासिक सफलता के लिए बधाई दी।

ओलम्पिक में पदक जीतने की संभावना में बढ़ोतरी

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने कहा कि मध्य प्रदेश के लिए यह स्वर्णिम अवसर है जब हमारे दो खिलाड़ियों चिंकी यादव और एश्वर्य प्रताप सिंह ने विश्वकप में दो स्वर्ण पदक देश को दिलाकर प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि इस जीत से ओलम्पिक में मध्य प्रदेश को पदक जीतने की संभावना में बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने कहा कि खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी द्वारा खेलों के क्षेत्र में ली जा रही विशेष रूचि और उनके सक्रिय प्रयासों के परिणाम स्वरूप हमारे खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर देश का तिरंगा फहरा रहे हैं।

खेल विभाग में खुशी की लहर

एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और चिंकी यादव द्वारा विश्वकप में एतिहासिक प्रदर्शन करने और स्वर्ण पदक जीतने पर खेल और युवा कल्याण विभाग में खुशी की लहर छा गई। इस खुशी में विभागीय अधिकारियों/कर्मचारियों, खेल प्रशिक्षकों और खिलाड़ियों के बीच मिठाई का वितरण कर यह खुशी एक-दूसरे से साझा की गई।

खेल मंत्री के प्रोत्साहन से मिला यह मुकाम

खरगौन जिले के झिरनिया तहसील के छोटे से गांव रतनपुर में 3 फरवरी 2001 को किसान परिवार में जन्मे एश्वर्य प्रताप सिंह वर्ष 2015 से मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में प्रशिक्षणरत है। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अब तक तीन स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक देश को दिलाएं है। राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में एश्वर्य प्रताप ने 11 स्वर्ण, 4 रजत और 3 कांस्य पदक अर्जित किए है। उन्होंने जूनियर वर्ल्ड कप में 50 मीटर रायफल थ्री पोजिशन में 459.3 अंक हासिल कर नया विश्व रिकार्ड बनाया और देश को स्वर्ण पदक दिलाया था। एश्वर्य अपनी उपलब्धि का पूरा श्रेय प्रदेश की खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी को देते है जिनके प्रयासों से शूटिंग खिलाड़ियों को वल्र्ड क्लाॅस की खेल सुविधाएं और हाई परफारमेंस टेªनिंग मिल रही है और इसी का परिणाम है कि वे आज इस मुकाम पर पहुंचे हैं। एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर शूटिंग अकादमी की मुख्य प्रशिक्षक सुश्री सुमा शिरूर, श्रीमती सुनीता लाखन श्री वैभव शर्मा एवं अपराजिता सिंह के मार्गदर्शन में प्रशिक्षणरत हैं।

चिंकी यादव की उपलब्धियां

टी.टी. नगर स्टेडियम में कार्यरत इलेक्ट्रिशियन श्री मेहताब सिंह की बेटी चिंकी यादव ने वर्ष 2013 में शूटिंग अकादमी में 25 मीटर पिस्टल इवेन्ट में अभ्यास प्रारंभ किया और इसी वर्ष पहला नेशनल गोल्ड मेडल टीम इवेन्ट में तथा व्यक्तिगत स्पर्धा में कांस्य पदक अर्जित किया। चिंकी यादव ने अब तक अंतर्राष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिताओं में 4 स्वर्ण, 2 रजत और 4 कांस्य सहित कुल 10 पदक देश को दिलाए है। उन्होंने राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में 6 स्वर्ण, 4 रजत और 7 कांस्य सहित कुल 17 पदक अर्जित किए है। चिंकी यादव ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अर्जित इस सफलता के लिए खेल मंत्री जी का आभार व्यक्त करते हुए बताया कि वर्ल्ड क्लास शूटिंग अकादमी के माध्यम से उन्हें उच्च स्तरीय खेल सुविधाएं और प्रशिक्षण मिल रहा है, यहीं वजह है कि उन्हें विश्वकप में सफलता मिली है। चिंकी यादव शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री जसपाल राणा, प्रशिक्षक सुश्री ओशिन टवानी और जयवर्धन सिंह के मार्गदर्शन में प्रशिक्षणरत है।

अकादमी के घुड़सवार फराज खान और राजू सिंह ने मध्य प्रदेश को दिलाए दो स्वर्ण और एक रजत पदक



View

खेल मंत्री ने की घुड़सवारों के प्रदर्शन की सराहना



मध्य प्रदेश के खिलाड़ी राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपनी प्रतिभा का शानदार प्रदर्शन कर रहें हैं और लगातार पदक जीतकर मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं।

हाल ही में बैंगलुरू के अग्रम राइडिंग क्लब में सम्पन्न राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के खिलाड़ी फराज खान और राजू सिंह भदौरिया ने दो स्वर्ण और एक रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाए।

प्रतियोगिता में फराज खान ने हर्लीकेन अश्व पर प्रतिभा प्रदर्शन करते हुए कॉनकार्ड क्रॉस कन्ट्री नेशनल (सीसीएन) वन स्टार सीनियर व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक अर्जित किया। प्रतियोगिता के प्री नोवाइस टीम इवेन्ट में फराज खान ने अजान अश्व और राजू सिंह ने प्रताप अश्व पर प्रदर्शन करते हुए मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया। प्रतियोगिता में राजूसिंह ने प्री नोवाइस क्रॉस कन्ट्री व्यक्तिगत स्पर्धा में प्रताप अश्व पर प्रदर्शन कर रजत पदक अर्जित किया। अकादमी के खिलाड़ी फराज खान, राजू सिंह भदौरिया और उमर अली ने घुड़सवारी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ के मार्गदर्शन में प्रतियोगिता में भागीदारी की।

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए फराज खान और राजू सिंह भदौरिया को बधाई दी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में हमारे खिलाड़ी लगातार पदक जीतकर प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं। उन्होंने अकादमी के खिलाड़ियों की इस उपलब्धि पर घुड़सवारी अकादमी के प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ को भी बधाई दी है।

बॉक्सिंग अकादमी में आज से कंबाइंड ट्रैनिंग कम कॉन्पिटीशन का आयोजन



View

मध्य प्रदेश और कर्नाटक के बॉक्सर के बीच होगी नाइट फाइट



खेल मंत्री की पहल पर खिलाड़ियों को एक्सपोजर दिलाने की कवायद



राजधानी भोपाल स्थित मध्य प्रदेश एक्सीलेंस बॉक्सिंग अकादमी में आज से 29 मार्च, 2021 तक कंबाइंड ट्रेनिंग कम कॉम्पिटिशन का आयोजन किया गया है। इस संयुक्त प्रशिक्षण सह प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश बॉक्सिंग अकादमी और जे एस डब्ल्यू स्पोर्ट्स बॉक्सिंग अकादमी बेल्लारी, कर्नाटक के बॉक्सर संयुक्त अभ्यास करेंगे। दोनों अकादमी के चयनित 12-12 खिलाड़ी भागीदारी कर रहे हैं जिन्हें अंतर्राष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रशिक्षक महत्वपूर्ण टिप्स देकर बॉक्सिंग खेल की बारीकियां सिखाएंगे।

जे एस डब्ल्यू स्पोर्ट्स बॉक्सिंग अकादमी बेल्लारी, कर्नाटक के बॉक्सर भोपाल पहुंचे और टी टी नगर स्टेडियम में खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की।

खेल संचालक श्री जैन ने खिलाड़ियों का परिचय प्राप्त किया और उन्हें खेल भावना से खेलने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दीं।

उल्लेखनीय है कि खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी की पहल पर आयोजित कंबाइंड ट्रेनिंग कम कॉन्पिटीशन का उद्देश्य खिलाड़ियों को उच्च स्तरीय ट्रेनिंग देकर उनकी खेल विधा में निखार लाना और उन्हें एक्सपोजर दिलाना है।

बॉक्सिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री रोशन लाल ने बताया कि 30 मार्च को शाम 6 से रात 9 बजे तक आयोजित *फाइट नाईट* में खिलाड़ियों के बीच दिलचस्प मुकाबला खेला जाएगा जो आकर्षण का केन्द्र होगा। कंबाइंड कम कॉन्पिटीशन में यूथ, जूनियर एवं सीनियर वर्ग में 7 बालक और 5 बालिका खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इनमें सीनियर वर्ग में अंजलि शर्मा, राधा पाटीदार, श्रुति यादव, युवराज ठाकुर, हर्ष जून, रोहन खुरापिया और अभिनव भार्गव, जूनियर वर्ग में खुशी सिंह, आयुष यादव, अभिषेक तोमर तथा यूथ वर्ग में अभिषेक मिश्रा और राधिका टेकाम का चयन किया गया है। उन्होंने बताया कि नाइट फाइट में जे एस डब्ल्यू स्पोर्ट्स बॉक्सिंग अकादमी के अंतरराष्ट्रीय कोच रॉन सिम्स भी मौजूद रहेंगे।

वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश शूटिंग अकादमी के खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप ने देश को दिलाया रजत पदक



View

खेल मंत्री ने एश्वर्य प्रताप को मैडल पहनाकर किया सम्मानित



दिल्ली में 18 से 29 मार्च 2021 तक आयोजित आई एस एस एफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के प्रतिभावान खिलाड़ी एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने देश को रजत पदक दिलाया। एश्वर्य प्रताप ने यह पदक 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में 14 अंकों के साथ अर्जित किया। एयर फोर्स के खिलाड़ी दीपक कुमार और आर्मी के पंकज कुमार टीम में शामिल थे। यूएसए के खिलाड़ी 16 अंक हासिल कर पहले स्थान पर रहे। कोरिया ने तीसरा स्थान हासिल किया।

उल्लेखनीय है कि आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में इस बार नया इवेंट जोड़ा गया है। इसके अनुसार क्वालिफिकेशन राउंड में पहले और दूसरे स्थान पर रहने वाली जो टीम पहले 16 अंक प्राप्त करेगी वह स्वर्ण पदक विजेता होगी। इसी तरह तीसरे और चौथे स्थान पर रहने वाली टीम के बीच कांस्य पदक के लिए मुकाबला होगा और जो टीम पहले 16 अंक प्राप्त करेगी उसे कांस्य पदक मिलेगा।

*देश हुआ गौरवान्वित*

दिल्ली में खेली जा रही वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया भी शामिल हुईं। उन्होंने खिलाड़ियों का प्रतिभा प्रदर्शन देखा और उनका उत्साहवर्धन किया। मैडल सेरेमनी में उन्होंने एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर सहित अन्य खिलाड़ियों को मैडल पहनाकर सम्मानित किया और सभी खिलाड़ियों को बधाई दी।

खेल मंत्री ने कहा कि एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर मध्य प्रदेश की एक्सीलेंस शूटिंग अकादमी के प्रतिभावान स्टार खिलाड़ी हैं, जिन्होंने वर्ल्ड कप में रजत पदक जीतकर देश का मान बढाया है। उन्होंने आगामी 50 मीटर थ्री पोजीशन इवेंट में देश को स्वर्ण पदक दिलाने के लिए एश्वर्य प्रताप को शुभकामनाएं दी।

इस अवसर पर मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की मुख्य प्रशिक्षक सुश्री सुमा शिरूर भी उपस्थित थी।

प्रतियोगिता में मध्यप्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के तीन खिलाड़ी भागीदारी कर रहे हैं। इनमें एश्वर्य प्रताप के अलावा चिंकी यादव और सुनिधि चौहान शामिल हैं।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने भी एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर के शानदार प्रदर्शन की सराहना की है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया है कि एश्वर्य प्रताप अगले इवेंट में स्वर्ण पदक जीतकर देश का गौरव बढ़ाएंगे।

राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता में उज्जैन बना ओवर ऑल चैम्पियन



View

म.प्र. मल्ल्खम्ब अकादमी स्थापित की जाएगी-खेल मंत्री



तीन दिवसीय राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता का समापन



प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि मल्लखम्ब हमारी मूल विधा है और इस विधा में हमारे खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मध्य प्रदेश की अलग पहचान बनाएं, इसके लिए शीघ्र ही मध्य प्रदेश राज्य मल्लखम्ब अकादमी स्थापित की जाएगी। खेल मंत्री आज टी.टी. नगर स्टेडियम स्थित मार्शल आर्ट हॉल में मंगलवार से खेली जा रही तीन दिवसीय राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता के समापन समारोह को संबोधित कर रही थी।

प्रतियोगिता में जूनियर एवं सीनियर बालक एवं बालिका वर्ग में ओवर ऑल चैम्पियन बनने का गौरव उज्जैन ने प्राप्त किया। जबकि उप विजेता के खिताब से शाजापुर को नवाजा गया। बालिका सीनियर वर्ग में पन्ना एवं जूनियर बालिका वर्ग में छतरपुर के खिलाड़ी तृतीय स्थान पर रहे। संपूर्ण प्रतियोगिता में बालक वर्ग में भोपाल के प्रणीत यादव तथा बालिका वर्ग में उज्जैन की शिवानी किलोरिया को चैम्पियन ऑफ़ चैम्पियन अवार्ड से सम्मानित किया गया। खेल मंत्री ने विजेता, उप विजेता टीमों को ट्राफी और खिलाड़ियों को मैडल प्रदान कर सम्मानित किया।

व्यक्तिगत स्पर्धाओं में ओवर ऑल प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर रहे खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया। इनमें जूनियर बालक वर्ग में प्रणव कोरी उज्जैन प्रथम, प्रणीत यादव भोपाल द्वितीय और इन्द्रजीत नागर उज्जैन तृतीय स्थान पर रहे। सीनियर वर्ग में उज्जैन के चन्द्र शेखर चैहान ने प्रथम और विश्नेश सुगंधी ने द्वितीय तथा शाजापुर के सचिन गवले ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इसी तरह बालिका जूनियर वर्ग में उज्जैन की जेसिका प्रजापति प्रथम, रिद्धिमा शर्मा द्वितीय और शाजापुर की चन्द्रिश मित्तोला तृतीय स्थान पर रही। सीनियर बालिका वर्ग में उज्जैन की शिवानी किरोलिया प्रथम, सोनू मंडावलिया द्वितीय और शाजापुर की रितिका गवली तृतीय स्थान पर रही।

अद्भुत और अविस्मरणीय

समापन समारोह में बालक एवं बालिका वर्ग में मल्लखम्ब खिलाड़ियों ने पोल मल्लखम्ब, रोप और हेगिंग मल्लखम्ब में बेस्ट ऑफ़ प्लेयर के लिए शानदार प्रदर्शन किया। खिलाड़ियों के प्रदर्शन के दौरान पूरा सभागार तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। समारोह में उज्जैन की खिलाड़ी श्वेता चैहान ने सिर पर पानी से भरे कांच के गिलास और जलती हुई मोमबत्ती तथा तनिशा जाधव ने दोनों हाथों में मशाल लेकर फायर रोप मल्लखम्ब का संतुलन बनाकर गीत और संगीत पर बेहतरीन प्रतिभा का प्रदर्शन किया जिसे देखकर दर्शक रोमांचित हो गए। खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने मल्लखम्ब खिलाड़ियों के इस प्रदर्शन को अद्भुत और अविस्मरणीय बताया और मुक्तकंठ से प्रतिभा प्रदर्शन की सराहना की। उन्होंने कहा कि मल्लखम्ब खिलाड़ियों के उज्जवल भविष्य के लिए सरकार कृत संकल्पित है और खिलाड़ियों को इसका लाभ दिलाने के लिए शीघ्र ही मल्लखम्ब अकादमी स्थापित की जाएगी।

यह जस्बा और जुनून बनाए रखें

मल्लखम्ब खिलाड़ियों के प्रदर्शन से प्रभावित खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश में मल्लखम्ब खेल में ऐसी छुपी प्रतिभाएं और उनके प्रदर्शन को देखकर मन प्रफुल्लित है। हमारे खिलाड़ी इस विधा से ऊंचाईयां पाकर विश्व में प्रदेश का नाम रोशन कर सकते हैं। उन्होंने खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि यह जस्बा, जूनुन और लगन बनाएं रखें। उन्होंने जूडो, कराते, ताइक्वांडो, बॉक्सिंग, रोइंग सहित अन्य खेलों का उदाहरण देते हुए खिलाड़ियों से कहा कि वे शारीरिक और मानसिक रूप से इतने स्ट्रांग हो गए हैं कि किसी अन्य खेल विधा में भी आपकी सफलता सुनिश्चित हैं क्योंकि असंभव कुछ भी नहीं है। उन्होंने मल्लखम्ब के तीन इवेन्ट का उल्लेख करते हुए खिलाड़ियों के साथ ही प्रशिक्षकों और निर्णायकों को मल्लखम्ब का स्तंभ निरूपित किया और उन्हें शुभकामनाएं दी।

समारोह को संबोधित करते हुए संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि तीन दिवसीय इस रोमांचकारी मल्लखम्ब प्रतियोगिता में 21 जिलों के 366 बालक-बालिका खिलाड़ियों, 44 विभागीय प्रशिक्षकों और 15 तकनीकी निर्णायकों ने भागीदारी की। उन्होंने बताया कि मल्लखम्ब खेल को सरकार द्वारा राज्य खेल घोषित किया गया हैं। खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा प्रदेश के 13 जिलों में मल्लखम्ब केन्द्रों का संचालन किया जा रहा है तथा 22 केन्द्रों को विभागीय सहयोग प्रदान किया जा रहा है। खेल संचालक श्री जैन ने कहा कि मल्लखम्ब खेल के विस्तार और इसकी अकादमी स्थापित करने के लिए मान. खेल मंत्री जी के मार्गदर्शन में आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।

इस अवसर पर सुयंक्त संचालक डॉ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी, म.प्र. मल्लखम्ब एसोसिएशन के सचिव श्री के. श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष श्री प्रकाश ताण्डी, तकनीकी समिति के चेयरमेन श्री राजेन्द्र शर्मा एवं द्रोणाचार्य अवार्डी मल्लखम्ब श्री योगेश मालवीय, मल्लखम्ब प्रशिक्षक श्री भारत बांधेवाल उपस्थित थे।

राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता का दूसरा दिन बालिका वर्ग में उज्जैन विजेता और शाजापुर जिला उप विजेता बना



View

राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता का दूसरा दिन



बालिका वर्ग में उज्जैन विजेता और शाजापुर जिला उप विजेता बना



अंडर-18 बालक वर्ग में भी उज्जैन ने प्रथम और शाजापुर ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया



राजधानी भोपाल स्थित टी.टी. नगर स्टेडियम के मार्शल आर्ट हॉल में खेली जा रही राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता के दूसरे दिन आज भी बालक एवं बालिका वर्ग में खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दर्शकों का दिल जीत लिया। प्रतियोगिता के अंतर्गत आज खेले गए बालिका वर्ग अंडर-18 के टीम इवेन्ट में उज्जैन जिले के खिलाड़ियों ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए रोप मल्लखम्ब में 41.60 अंकों के साथ विजेता का खिताब अर्जित किया। जबकि 35.42 अंकों के साथ शाजापुर जिला उप विजेता बना। छतरपुर के खिलाड़ियों ने 33.42 अंक हासिल कर तृतीय स्थान हासिल किया।

उज्जैन की विजेता टीम में अनुसुइया बम्बोरिया, रिद्धिमा शर्मा, पायल मंडवालिया, दृष्टि तिवारी, जेसिका प्रजापति और दिव्यांशी भाटिया शामिल थी। उप विजेता शाजापुर टीम में चन्द्रिका मित्तोला, नेहा जाटव, अंजली कछावा, बिंदिया ग्वाली, संध्या नायक और निकिता पंवार शामिल थी। जबकि तृतीय स्थान पर रही छतरपुर टीम में खुशी अरजरिया, भावना अहिरवार, माही अहिरवार, हर्षिता अहिरवार, तनु राय और हर्षिका मिश्रा सम्मिलित थीं।

इसी तरह बालक अंडर-18 वर्ग में खेले गए पोल मल्लखम्ब, हेगिंग मल्लखम्ब और रोप मल्लखम्ब टीम इवेन्ट में 121.95 अंकों के साथ उज्जैन प्रथम, 106.32 अंकों के साथ शाजापुर द्वितीय तथा 92.42 अंकों के साथ छतरपुर जिला तृतीय स्थान पर रहा।

विजेता टीम उज्जैन के खिलाड़ी प्रणव कोरी, इंद्रजीत नागर, पंकज गरगामा, मोहित मालवीय, कुलदीप मालवीय और आदित्य गहलोत, उप विजेता शाजापुर टीम में कुंदन कछावा, रोहन नवीन, आषीश प्रजापति, नमन गवाली, प्रिंस गवाली, और राज वर्मा तथा तृतीय स्थान पर रही छतरपुर टीम में सोनू कुशवाह, यश कुशवाह, अनिल कुशवाह, विकास अहिरवार, रोहित चैरसिया और शुभांशु अग्रवाल शामिल थे। प्रतियोगिता के अंतिम दिन गुरूवार को बालक-बालिका जूनियर एवं सीनियर वर्ग में वेस्ट प्लेयर कॉम्पटिशन खेला जायेगा।

खेल मंत्री ने की खिलाड़ियों की हौसला अफजाई

टी.टी. नगर स्टेडियम में खेली जा रही राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता के दूसरे दिन भी प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने खिलाड़ियों के बीच पहुंचकर उनकी हौसला अफजाई की। उन्होंने बालक एवं बालिका वर्ग में खिलाड़ियों द्वारा किए गए प्रदर्शन को देखा और करतल ध्वनि से उनके शानदार प्रदर्शन की सराहना की। खिलाड़ियों के बीच वे काफी समय उपस्थित रहीं और उन्होंने खिलाड़ियों को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित किया।

मैडल सेरेमनी

राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता के विजेता, उप विजेता टीमों के खिलाड़ियों को संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, संयुक्त संचालक डॉ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव ने मैडल पहनाकर सम्मानित किया और उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी। खेल संचालक श्री पवन जैन ने बताया कि मल्लखम्ब खेल को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य खेल घोषित किया गया है। खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा प्रदेश के 13 जिलों में मल्लखम्ब केन्द्र का संचालन किया जा रहा है। इनमें ग्वालियर, शिवपुरी, दतिया, उज्जैन, शाजापुर, रतलाम, जबलपुर, भोपाल, इंदौर, खरगौन, सागर, छतरपुर और पन्ना शामिल हैं। इस अवसर पर म.प्र. मल्लखम्ब एसोसिएशन के सचिव श्री के. श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष श्री प्रकाश ताण्डी, तकनीकी समिति के चेयरमेन श्री राजेन्द्र शर्मा एवं द्रोणाचार्य अवार्डी मल्लखम्ब श्री योगेश मालवीय उपस्थित थे।

द्वितीय अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के फायनल में पहुंची क्रिकेट अकादमी



View

फायनल मैच म.प्र. राज्य क्रिकेट अकादमी और जयपुर (राजस्थान) के बीच खेला जायेगा



शिवपुरी में खेले जा रहे द्वितीय ऑल इंडिया टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के अंतर्गत आज ग्वालियर तथा म.प्र. राज्य क्रिकेट अकादमी के बीच सेमी फायनल मैच खेला गया। जी.डी.सी.ए. ग्वालियर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया। जिसमें जी.डी.सी.ए. की शुरूआत अच्छी नहीं रही और उसके तीन खिलाड़ी 27 रन पर ही आउट हो गए और पूरी टीम निर्धारित 20 ओवर में 10 विकेट खोकर मात्र 112 रन ही बना सकी। जी.डी.सी.ए. की ओर से मुकुल राघव ने 41 बॉल पर 31 रन, अमन यादव ने 22 बॉल पर 24 रन, पर्थ गोस्वामी ने 9 बॉल पर 11 रन, वेदांश व्यास ने 8 बॉल पर 16 रनों का योगदान दिया। म.प्र. राज्य अकादमी की ओर से प्रांजुल पुरी ने 4 ओवर में 32 रन देकर 4 विकेट, अतुल कुशवाह ने 4 ओवर में 8 रन देकर 3 विकेट तथा प्रंकेश राय ने 4 ओवर में 27 रन देकर 2 विकेट लिये। प्रतियोगिता में 112 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी अकादमी की टीम ने 15.4 ओवर में 2 विकेट खोकर 118 रन बनाये जिसमें हिमांशु शिन्दे ने 24 बॉल पर 26 रन, अतुल कुशवाह ने 44 बॉल पर 51 रन, संदीप मित्तल ने 20 बॉल पर 33 रन बनाए। ग्वालियर जी.डी.सी.ए. की और से हर्षवर्धन ने 32 रन देकर 1 विकेट तथा श्रेयांश शर्मा ने 15 रन देकर 1 विकेट लिया। म.प्र. राज्य अकादमी की ओर से 51 रन एवं 03 विकेट लेने पर अतुल कुशवाह को मैन ऑफ़ द मैच का पुरूस्कार शिवपुरी के अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री कुशवाह द्वारा प्रदान किया गया।

संभागीय खेल और युवा कल्याण अधिकारी, शिवपुरी श्री एम.के. धौलपुरी ने बताया कि उक्त प्रतियोगिता लीग मैच के आधार पर खेली जा रही है। खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा द्वितीय अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला खेल परिसर में 9 से 17 मार्च, 2021 तक किया जा रहा है। म.प्र. राज्य पुरूष क्रिकेट अकादमी के खिलाड़ियों को अच्छे अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से द्वितीय अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है।

तीन दिवसीय राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता का शुभारंभ



View

मल्लखम्ब खिलाड़ियों को उनकी दक्षता के अनुरूप मिलेगा खेलों में प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर-खेल मंत्री



जूनियर बालक वर्ग में उज्जैन प्रथम, शाजापुर द्वितीय और भोपाल जिला तृतीय स्थान पर रहा



टी.टी. नगर स्टेडियम स्थित मार्शल आर्ट हाल में आज से तीन दिवसीय राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता की शुरूआत हुई। प्रतियोगिता के पहले दिन जूनियर बालक वर्ग में पोल मल्लखम्ब, रोप एवं हेंगिग मल्लखम्ब टीम इवेन्ट में मुकाबले खेले गए। इनमें उज्जैन जिला प्रथम स्थान पर रहा जबकि शाजापुर जिले ने द्वितीय और भोपाल जिले ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता के अंतर्गत बुधवार को बालक एवं बालिका सीनियर वर्ग में टीम एवं व्यक्तिगत मुकाबले खेले जाएंगे।

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया आज टी.टी. नगर स्टेडियम पहुंची जहां उन्होंने मार्शल आर्ट हॉल में चल रही राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता में खिलाड़ियों द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन को देखा और सराहा। उन्होंने प्रदेश भर से आए खिलाड़ी बच्चों को प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी। इससे पूर्व उन्होंने खिलाड़ियों, प्रशिक्षको एंव तकनीकी निर्णायकों से परिचय प्राप्त किया। इस अवसर पर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, संयुक्त संचालक डॉ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव सहित विभागीय अधिकारी एवं द्रोणाचार्य अवार्डी मल्लखम्ब प्रशिक्षक श्री योगेश मालवीय सहित अन्य प्रशिक्षक और बड़ी संख्या में खिलाड़ी मौजूद थे।

विश्वविद्यालयीन प्रतियोगिता में मल्लखम्ब का देश में प्रथम स्थान

खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि मल्लखम्ब खेल भारत का गौरवशाली और प्रदेश का राज्य खेल है। उन्होंने कहा कि मल्लखम्ब खेल खिलाड़ी के शारीरिक और मानसिक विकास में सहायक है। विश्वविद्यालयीन प्रतियोगिता में मल्लखम्ब देश में पहले स्थान पर है जिसे अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। खेल मंत्री ने कहा कि मल्लखम्ब खिलाड़ियों को वाटर स्पोर्ट्स, शूटिंग, मार्शल आर्ट सहित विभिन्न खेल अकादमी का भ्रमण कराकर उन्हें उनकी शारीरिक दक्षता के अनुसार संबंधित खेलों में प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर दिलाया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि मल्लखम्ब खेल से खिलाड़ी शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होते हैं। साथ ही उनमें शारीरिक संतुलन एवं एकाग्रता का विकास होता है जो वाटर स्पोर्ट्स एवं शूटिंग खेल के लिए आवश्यक है। इसी तरह मार्शल आर्ट खेलों में मल्लखम्ब खिलाड़ी अपनी ऊर्जा, चपलता और शक्ति का बेहतर उपयोग कर सकते हैं।

अकादमी की जूडो खिलाड़ी मुस्कान वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी



View

तीन जूडो खिलाड़ियों का इंडिया कैम्प के लिए चयन



जूडो खिलाड़ियों ने की खेल संचालक से भेंट



कानपुर स्थित छत्रपति साहूजी महाराज विश्व विद्यालय में 12 एवं 13 मार्च, 2021 को आयोजित सिलेक्शन ट्रायल कम टूर्नामेंट में मध्य प्रदेश राज्य मार्शल आर्ट जूडो अकादमी की डे-बोर्डिंग खिलाड़ी मुस्कान सोंधिया ने स्वर्ण, दीपक मिश्रा ने रजत और बोर्डिंग खिलाड़ी अमिशा काले ने कांस्य पदक अर्जित किया। तीनों खिलाड़ियों का इंडिया कैम्प (राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर) के लिए चयन हो गया है। मुस्कान सोंधिया ने अगस्त, 2021 में चायना में होने वाले वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स के लिए क्वालीफाय कर लिया है।

उल्लेखनीय है कि दो दिवसीय सिलेक्शन ट्रायल में वर्ष 2017 से 2021 तक के जूनियर/सीनियर नेशनल, ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी, खेलो इंडिया एवं स्कूल नेशनल के टॉप 8 मेडलिस्ट को बुलाया गया था।

जूडो खिलाड़ी मुस्कान सोंधिया और दीपक मिश्रा ने विश्वामित्र अवार्डी जूडो प्रशिक्षक श्रीमती कमला रावत के साथ टी.टी. नगर स्टेडियम पहुंचकर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री जैन ने वर्ल्ड यूनिवर्सिटी सिलेक्शन ट्रायल में खिलाड़ियों के परफारमेंस संबंधी आवश्यक जानकारी प्राप्त कर खिलाड़ियों को प्रतिभा प्रदर्शन में निखार लाने के लिए निरंतर परिश्रम करने के लिए प्रोत्साहित किया और उन्हें शुभकामनाएं दी।

भोपाल में राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता का शुभारंभ कल



View

प्रदेश के 21 जिलों के बालक-बालिका खिलाड़ी करेंगे प्रतिभा प्रदर्शन



राजधानी भोपाल स्थित टी.टी. नगर स्टेडियम में तीन दिवसीय राज्य स्तरीय अधिकृत मल्लखम्ब प्रतियोगिता-2021 का आयोजन किया जा रहा है। प्रतियोगिता में प्रदेश के 21 जिलों के 207 बालक और 159 बालिका खिलाड़ी भागीदारी कर रहे है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि टी.टी. नगर स्टेडियम स्थित मार्शल आर्ट हॉल में 16 से 18 मार्च, 2021 तक राज्य स्तरीय मल्लखम्ब प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इस प्रतियोगिता में 21 जिलों के बालक-बालिका खिलाड़ी, 44 विभागीय प्रशिक्षक एवं 15 तकनीकी निर्णायक भाग ले रहे हैं। राज्य शासन द्वारा कोविड-19 के संबंध में जारी दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करते हुए प्रतियोगिता के सुव्यवस्थित संचालन की सभी जरूरी व्यवस्थाएं की गई हैं।

प्रतियोगिता के बालक वर्ग में तीन और बालिका वर्ग में एक इवेन्ट में खिलाड़ी प्रतिभा प्रदर्शन करेंगे। बालक वर्ग में पोल मल्लखम्ब, रोप मल्लखम्ब और हेगिंग मल्लखम्ब तथा बालिका वर्ग में रोप मल्लखम्ब इवेन्ट में प्रतिभा प्रदर्शन किया जाएगा।

भीषण रेल हादसे में बाल बाल बचे म.प्र.राज्य तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश को दिलाए दो रजत और एक कांस्य पदक



View

41वीं जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता देहरादून -2021



मुख्यमंत्री ने की मध्यप्रदेश के तीरंदाज खिलाड़ियों के हौसलों की सराहना



उत्तराखंड के देहरादून में खेली जा रही 41वीं जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में म.प्र. राज्य तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ियों ने विपरीत परिस्थितियों के बावजूद मध्यप्रदेश को दो रजत और एक कांस्य दिलाकर प्रदेश को गौरवान्वित किया है।

प्रतियोगिता के बालिका वर्ग रिकर्व इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी सोनिया ठाकुर ने 642 अंकों के साथ मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। झारखंड 661 अंकों के साथ पहले और हरियाणा 634 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहा। बालक वर्ग की रिकर्व स्पर्धा में अकादमी के खिलाड़ी अमित कुमार ने 665 अंक प्राप्त कर मध्य प्रदेश को कांस्य पदक दिलाया।

आंध्र प्रदेश 683 अंकों के साथ पहले और महाराष्ट्र 673 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहा।

इसी तरह रिकर्व मिक्स्ड टीम इवेंट में मध्य प्रदेश तीरंदाजी अकादमी की खिलाड़ी सोनिया ठाकुर और अमित कुमार की जोड़ी ने मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। झारखंड पहले और पंजाब तीसरे स्थान पर रहा।

उल्लेखनीय है कि शनिवार को दिल्ली से देहरादून जा रही शताब्दी एक्सप्रेस के कोच में भीषण आग लग गई, जिसमें मध्य प्रदेश तीरंदाजी अकादमी जबलपुर के खिलाड़ी भी यात्रा कर रहे थे उन्हें सुरक्षित और सकुशल बचा लिया गया। लेकिन इस हादसे में उनके खेल उपकरण सहित अन्य सभी सामान आग की भेंट चढ़ गया। खिलाड़ियों को देहरादून में ही नए उपकरण और जरूरी सामान उपलब्ध कराया गया।

प्रदेश के खिलाड़ी बेटे बेटियों पर गर्व

मुख्यमंत्री मान. श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भीषण रेल हादसे में साजो-सामान और तीरकमान गँवाने वाले मध्यप्रदेश के तीरंदाज खिलाड़ियों ने अपने बुलन्द हौसले को बनाए रखते हुए नये उपकरणों से भी देहरादून में खेली जा रही 41वीं जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश को दो रजत और एक कॉंस्य पदक दिलाया है। मध्य प्रदेश तीरंदाजी अकादमी जबलपुर की खिलाड़ी बेटी सोनिया ने रजत और खिलाड़ी बेटे अमित ने कांस्य पदक जीतकर मध्य प्रदेश का मान बढ़ाया है। हमें अपने खिलाड़ी बेटे- बेटियों पर गर्व है।

मुश्किल घड़ी में खिलाड़ियों ने धैर्य और संयम से प्राप्त की सफलता

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि रेल के भीषण हादसे में ईश्वर कृपा से हमारे सभी खिलाड़ी सुरक्षित और सकुशल हैं। खिलाड़ियों ने जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में पदक जीतकर साबित कर दिखाया है कि मुश्किल घड़ी में भी धैर्य और संयम से सफलता हासिल की जा सकती है। खेल मंत्री ने पदक विजेता खिलाड़ी सोनिया ठाकुर और अमित कुमार को बधाई और शुभकामनाएं दी और कहा कि हमारे खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ाया है।



खिलाड़ियों ने की मिसाल कायम



संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने कहा कि विषम परिस्थितियों के बावजूद मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ियों ने जूनियर राष्ट्रीय प्रतियोगिता में नए उपकरणों के सहारे मैडल जीत कर एक मिसाल पेश की है जो प्रदेश के लिए गौरव की बात है।



इससे पहले प्रदेश को मिला रजत पदक



रेल हादसे से पूर्व जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी

की खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में खिलाड़ियों ने यह पदक कंपाउंड वूमेन टीम इवेंट में 222 अंकों के साथ अर्जित किया। टीम में मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी जबलपुर की खिलाड़ी अरशिया चौधरी, निकिता डागर, अनुराधा अहिरवार और लक्षिता फिरके शामिल थीं। महाराष्ट्र की खिलाड़ी 224 अंकों के साथ पहले स्थान पर रहीं।

जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में मध्यप्रदेश तीरंदाजी अकादमी के प्रशिक्षक रिचपाल सिंह सलारिया के मार्गदर्शन में अकादमी के खिलाड़ी भागीदारी कर रहे हैं।

जूनियर एवं सीनियर नेशनल फेंसिंग चैम्पियनशिप रूद्रपुर-2021 फेंसिंग अकादमी के 18 खिलाड़ी करेंगे प्रतिभा प्रदर्शन



View

खिलाड़ियों ने की खेल संचालक से मुलाकात



उत्तराखण्ड के रूद्रपुर में 15 से 21 मार्च, 2021 तक आयोजित जूनियर एवं सीनियर नेशनल फेंसिंग चैम्पियनशिप में मध्य प्रदेश के कुल 31 खिलाड़ी प्रतिभा प्रदर्शन करेंगे। इनमें म.प्र. राज्य फेंसिंग अकादमी के 18 खिलाड़ी शामिल हैं। चैम्पियनशिप के लिए रवाना होने से पूर्व खिलाड़ियों ने आज टी. टी. नगर स्टेडियम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री जैन ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया और चैम्पियनशिप के लिए की गई तैयारी के संबंध में विस्तार से चर्चा कर आवश्यक जानकारी हासिल की। उन्होंने चैम्पियनशिप में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी। खेल संचालक ने फेंसिंग अकादमी के प्रशिक्षक श्री विजय कुमार से भी चर्चा कर खिलाड़ियों के परफारमेंस की जानकारी प्राप्त की। इस मौके पर संयुक्त संचालक श्री बी.एस. यादव भी उपस्थित थे।

फेंसिंग कोच विजय कुमार ने बताया कि रूद्रपुर में 15 से 17 मार्च तक 28वीं जूनियर नेशनल फेंसिंग चैम्पियनशिप तथा 19 से 21 मार्च, 2021 तक 31वीं सीनियर नेशनल फेंसिंग चैम्पियनशिप आयोजित की जा रही है। चैम्पियनशिप में मध्य प्रदेश के कुल 31 खिलाड़ी भागीदारी कर रहे है, इनमें मध्य प्रदेश राज्य फेंसिंग अकादमी के 10 बोर्डिंग और 8 डे-बोर्डिंग खिलाड़ी नेशनल फेंसिंग चैम्पियनशिप में प्रतिभा प्रदर्शन करेंगे। अकादमी के खिलाड़ियों में सौरभ मिश्रा, हर्षल भक्ते, अंकुर जैन, भाव्या सिंह, सत्यम भटेले, लक्ष्य श्रीवास, सुशील, अमित गुसाई, अंजली भत्रे, प्रज्ञा सिंह, पूजा दांगी, अंजू राजा, पूर्णा सिंह, रक्षा राजा, सृष्टि सेन गुप्ता, अरूणिमा श्रीवास्तव, निशा तायडे़ और संकेत शर्मा शामिल हैं।

वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में ताइक्वांडो अकादमी के खिलाड़ी गौरव यादव भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे



View

खेल मंत्री ने गौरव को शुभकामनाएं दी



चायना के चेंगडु में 18 से 29 अगस्त, 2021 तक होने जा रहे वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में मध्य प्रदेश राज्य मार्शल आर्ट ताइक्वांडो अकादमी के खिलाड़ी गौरव यादव भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे। रोहतक, हरियाणा में 6 से 10 मार्च, 2021 तक एमडीयू (महर्षि दयानन्द यूनिवर्सिटी) द्वारा आयोजित सिलेक्शन ट्रायल में गौरव यादव द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन के चलते गौरव का अंडर-54 कि.ग्रा. भारवर्ग में वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स के लिए चयन हुआ है।

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स के लिए चयन होने पर गौरव यादव को बधाई दी। उन्होंने गौरव को वल्र्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में बेहतर प्रदर्शन करने और देश के लिए पदक जीतने के लिए शुभकामनाएं दी है।

सिलेक्शन ट्रायल के प्री-क्वार्टर फायनल मुकाबले में गौरव ने गुरूनानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर के खिलाड़ी को 19-12 पाइंट से हराया। उन्होंने क्वार्टर फायनल में सरदार वल्लभ भाई पटेल यूनिवर्सिटी, गुजरात के खिलाड़ी को 20-9 पाइंट से हराकर सेमी फायनल में जगह बनाई। सेमी फायनल मुकाबले में गौरव ने बाबा साहब अम्बेडकर यूनिवर्सिटी, बैंगलूरू के खिलाड़ी को 23-17 पाइंट से परास्त किया और फायनल में मेजबान यूनिवर्सिटी एमडीयू के खिलाड़ी को 26-22 से शिकस्त देकर विजेता का खिताब अर्जित किया और भारतीय टीम में जगह बनाई। ताइक्वांडो अकादमी के प्रशिक्षक श्री जगजीत सिंह मांड के मार्गदर्शन में अकादमीचार खिलाड़ियों ने सिलेक्शन ट्रायल में भागीदारी की।

8वीं वेस्ट जोन शॉटगन शूटिंग चैम्पियनशिप-2021 शूटिंग अकादमी के खिलाड़ी अनिरूद्ध ने स्वर्ण और दिव्यांश ने कांस्य पदक अर्जित किया



View





अनिरूद्ध और दिव्यांश ने किया नेशनल के लिए क्वालीफाय





गुजरात के सुरेन्द्र नगर में खेली जा रही 8वीं वेस्ट जोन शॉटगन शूटिंग चैम्पियनशिप में म.प्र. राज्य शूटिंग अकादमी के शॉटगन खिलाड़ी अनिरूद्ध गुंजल ने ट्रैप जूनियर इवेन्ट में स्वर्ण पदक अर्जित किया। अनिरूद्ध ने यह पदक कुल 38 अंकों का स्कोर करते हुए प्राप्त किया। जबकि अकादमी के ही खिलाड़ी दिव्यांश सिंह ने इसी इवेन्ट में 37 अंकों के साथ कांस्य पदक जीता। इसी के साथ अकादमी के दोनों खिलाड़ियों ने नेशनल के लिए क्वालीफाय कर लिया। महाराष्ट्र के शांतनु प्रकाश दूसरे स्थान पर रहे।

सुरेन्द्र नगर में 7 मार्च, 2021 से प्रारंभ वेस्ट जोन शॉटगन शूटिंग चैम्पियनशिप (प्री-नेशनल) में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के 6 बालक और 3 बालिका खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इनमें ट्रैप और स्कीट इवेन्ट के 6 बालक तथा स्कीट इवेन्ट की 3 बालिका खिलाड़ी शामिल हैं। उक्त खिलाड़ी शूटिंग अकादमी के सहायक प्रशिक्षक इन्द्रजीत सिकदार के मार्गदर्शन में चैम्पियनशिप में भागीदारी कर रहे हैं। यह चैम्पियनशिप 14 मार्च, 2021 तक खेली जाएगी।

शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रहने की जरूरत - खेल मंत्री



View

खेल मंत्री ने शिवपुरी में खिलाड़ियों और मैराथन धावकों को सम्मानित किया



अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर खेल एवं युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया शिवपुरी स्थित श्रीमंत माधवराव सिंधिया खेल परिसर में आयोजित महिला मैत्री क्रिकेट मैच के शुभारंभ कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में शामिल हुईं। उन्होंने यहां खिलाड़ियों एवं छात्राओं से परिचय प्राप्त किया और अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सभी को शुभकामनाएं दी। उन्होंने बालिकाओं की हौसला अफजाई करते हुए उन्हें खूब मेहनत करने और आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया।

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि फिट इंडिया अभियान हमारे देश के प्रधानमंत्री मान. श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू किया गया एक बहुत ही महत्वपूर्ण अभियान है। सभी इस अभियान में अपनी भागीदारी करें। उन्होंने कहा कि हमें शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रहने की जरूरत है और इसके लिए खेल बहुत अच्छा माध्यम हैं। खेल मंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि शिवपुरी में अखिल भारतीय क्रिकेट टी 20 टर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है जिसमें अलग-अलग शहरों की टीम भाग ले रही हैं। उन्होंने सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित महिला मैराथन में सम्मिलित खिलाड़ियों को प्रमाण पत्र वितरित किये।



महिला क्रिकेट मैत्री मैच का आयोजन



अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला खेल परिसर शिवपुरी में आज प्रातः 9.00 बजे से इंदौर एवं ग्वालियर संभाग की महिला खिलाड़ियों के बीच टी-20 मैच खेला गया। जिसमें इंदौर ने ग्वालियर को हराकर मैच जीता। ग्वालियर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 110 रन बनाये, जिसमें कल्पना यादव ने 42 रन का योगदान दिया। इंदौर की ओर से अनंदी तागडे ने 27 रन देकर 4 विकेट लिये। मैच में 111 रन का पीछा करने उतरी इंदौर की टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 06 विकेट खोकर 111 रन बनाए। जिसमें पूजा चौधरी ने 45, साक्षी उंटवाले ने 26 रनों का योगदान दिया। ग्वालियर की ओर से टिविंकल शर्मा ने 16 रन देकर 1 विकेट, ज्योत्सना जादौन ने 18 रन देकर 1 विकेट लिया। सर्वाधिक 45 रन बनाने पर पूजा चौधरी को मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया। यह मैच पूर्व अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खिलाडी श्रीमती बिंदेश्वरी गौतम की उपस्थिति में खेला गया।

संभागीय खेल और युवा कल्याण अधिकारी, श्री एम.के. धौलपुरी ने जानकारी देते हुए बताया कि ऑल इंडिया टी-20 क्रिकेट का प्रथम मैच 09 मार्च को प्रातः 9.00 बजे से जयपुर(राजस्थान) विरूद्ध गांधी नगर(गुजरात) द्वितीय मैच दोपहर एक बजे से नागपुर विरूद्ध जी.डी.सी.ए. ग्वालियर के बीच खेला जायेगा

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर दौड़ा पूरा मध्य प्रदेश



View

खेल विभाग द्वारा आयोजित मैराथन दौड़ में 10 हजार से अधिक महिलाओं ने की भागीदारी



जीवन में स्पोर्ट्स है तो जीवन है-मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह





अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आज खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया के नेतृत्व एवं निर्देशन में प्रदेश में मैराथन दौड़ सहित विभिन्न खेल गतिविधियों का आयोजन किया गया। मैराथन दौड़ में दस हजार से अधिक महिलाओं ने उत्साहपूर्वक भागीदारी की। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर समूचा मध्य प्रदेश दौड़ा।

‘फिटनेस’ हमारी धरोहर

टी.टी. नगर स्टेडियम में प्रदेश के खनिज साधन एवं श्रम मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने झंड़ी दिखलाकर पाँच कि.मी. मिनी मैराथन दौड़ का शुभारंभ किया। शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्रम मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि जीवन में स्पोर्ट्स है तो जीवन है और फिटनेस है तो सब कुछ है। उन्होंने ‘फिटनेस’ का महत्व रेखांकित करते हुए कहा कि जीवन में फिटनेस से बड़ी कोई प्रापर्टी नहीं, क्योकि धन, पद, आदि चीजें तो अस्थााई हैं लेकिन ‘फिटनेस’ हमारी स्थाई धरोहर है। मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सभी को बधाई और शुभकामनाएं दी।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर खेल विभाग द्वारा खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी के मार्गदर्शन में संपूर्ण मध्य प्रदेश में महिला मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में महिलाओं ने आगे बढ़कर भाग लिया। इसके अलावा विभिन्न खेल गतिविधियां आयोजित की गई। जिला स्तर पर आयोजित कार्यक्रमों में जन प्रतिनिधियों और वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा महिलाओं को सम्मानित किया गया। संचालक खेल श्री जैन ने कहा कि नारी की पराधीनता और प्रताड़ना से परे हम ऐसी दुनियां बनाएं जहाँ पग-पग पर महिलाओं की समानता और सम्मान के जयघोष का स्वर आकाश तक सुनाई दे। एक ऐसा विश्व जिसके कण-कण में राष्ट्र कवि जयशंकर प्रसाद की ये पंक्तियां सार्थक हों ‘‘नारी तुम केवल श्रद्धा, विश्वास-रजत-नगर-पग तल में, पीयूष स्त्रोत सी बहा करों, जीवन के सुंदर समतल में।’’ उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर बेटियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ‘‘बेटियाँ शुभकामनाएं हैं, बेटियाँ पावन दुआएं हैं, गर्म झोंकों से बचाएं शहर को, बेटियां ताजा हवाएं हैं।’’

इस अवसर पर अर्जुन अवार्डी एवं मुख्य प्रशिक्षक सेलिंग श्री जी.एल. यादव, प्रभारी उप संचालक श्री जोंस चाको, कुश्ती प्रशिक्षक सुश्री रेखा रानी, शूटिंग प्रशिक्षक सुश्री ओशिन टवानी, ताईक्वांडो प्रशिक्षक सुश्री लतिका भण्डारी, जूडो प्रशिक्षक सुश्री मोनिका पारोची एंव महिला वार्डन सुश्री नीलम मेश्राम एवं बड़ी संख्या में खिलाड़ी बेटियां उपस्थित थी।

अधिकारियों को दायित्व

प्रदेश में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर मैराथन दौड़ सहित विभिन्न खेल गतिविधियों के सुव्यवस्थित आयोजन के लिए खेल संचालक श्री पवन जैन ने सभी अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। खेल संचालनालय के अधिकारियों को संभाग एवं जिलों का दायित्व सौंपा गया। संयुक्त संचालक डॉ. विनोद प्रधान को देवास, श्री बी.एस. यादव को रायसेन, सहा. संचालक श्री जमील अहमद को विदिशा, श्री विकास खराडकर को शिवपुरी, डॉ. शिप्रा श्रीवास्तव को राजगढ़, श्री प्रदीप अस्टैया को मंडला, श्रीमती वाणी साहू को सीहोर तथा डॉ. के.के. खरे को नरसिंहपुर का दायित्व सौंपा गया।

प्रथम राष्ट्रीय पैरा शूटिंग चैम्पियनशिप-2021अकादमी की पैरा शूटर रूबिना फ्रांसिस ने मध्य प्रदेश को दिलाया स्वर्ण पदक



View

स्वर्ण पदक विजेता रूबिना को खेल मंत्री ने दी बधाई



फरीदाबाद (हरियाणा) में एक से 5 मार्च, 2021 तक आयोजित प्रथम राष्ट्रीय पैरा शूटिंग चैम्पियनशिप में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की खिलाड़ी रूबिना फ्रांसिस ने महिला वर्ग के 10 मीटर एयर पिस्टल इवेन्ट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया। रूबिना ने यह पदक 557 अंकों के साथ अर्जित किया। उत्तर प्रदेश की खिलाड़ी सोनिया शर्मा ने 550 और दिल्ली की पूजा अग्रवाल ने 549 अंक हासिल कर क्रमशः दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त किया।

खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने राष्ट्रीय पैरा शूटिंग चैम्पियनशिप में मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाने वाली शूटिंग अकादमी की होनहार पैरा खिलाड़ी रूबिना फ्रांसिस के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए रूबिना को बधाई दी। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी बेटियाँ अपने उत्कृष्ट प्रतिभा प्रदर्शन से मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ा रही हैं।

मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में वर्ष 2015 से शूटिंग खेल का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही रूबिना फ्रांसिस ने आठ अंतर्राष्ट्रीय पैरा शूटिंग प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने वर्ष 2017 में बैंकाक में आयोजित वल्र्ड शूटिंग पैरा स्पोट्र्स चैम्पियनशिप के 10 मीटर एयर पिस्टल वूमेन टीम इवेन्ट में जूनियर वल्र्ड रिकार्ड बनाते हुए देश को एक स्वर्ण पदक दिलाया। वर्ष 2019 में रूबिना फ्रांसिस ने क्रोएशिया में आयोजित वल्र्ड शूटिंग पैरा स्पोट्र्स वल्र्ड कप में देश को एक कांस्य पदक दिलाया। उन्होंने राष्ट्रीय पैरा शूटिंग प्रतियोगिताओं में नौ स्वर्ण और दो रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाए हैं। रूबिना फ्रांसिस शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री जसपाल राणा, प्रशिक्षक सुश्री ओशिन टवानी और जयवर्धन सिंह से शूटिंग खेल की बारीकियां सीख रही हैं।

अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ 8 मार्च को शिवपुरी में



View

दस दिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट में रणजी ट्रॉफी एवं आईपीएल ट्रॉफी के नामचीन खिलाड़ी करेंगे भागीदारी



खेल मंत्री की गरिमापूर्ण उपस्थिति में महिला दिवस पर होगा महिला मैत्री क्रिकेट मैच





द्वितीय अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन शिवपुरी स्थित श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला खेल परिसर में 8 से 17 मार्च 2021 तक किया जा रहा है। खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा आयोजित इस टूर्नामेंट में विजेता टीम को एक लाख रूपये तथा उप विजेता टीम को 75 हजार रूपये की सम्मान निधि से पुरस्कृत किया जाएगा। साथ ही ‘‘मेन ऑफ़ द मैच’’ एवं ‘‘मैन ऑफ़ द सीरीज’’ का पुरस्कार भी प्रदान किया जाएगा।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च को अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ होगा। शुभारंभ अवसर पर इन्दौर एवं ग्वालियर संभाग की महिला खिलाड़ियों के मध्य टी-20 क्रिकेट मैत्री मैच होगा। प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया के मुख्य आतिथ्य में आयोजित मैत्री मैच के विजेता, उप विजेता खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरण किया जायेगा।

संभागीय खेल और युवा कल्याण अधिकारी श्री एम.के. धौलपुरी ने बताया कि 8 से 17 मार्च तक आयोजित अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट में दिल्ली, गांधीनगर (गुजरात), म.प्र. क्रिकेट अकादमी, उत्तराखण्ड, जयपुर (राजस्थान), नागपुर (महाराष्ट्र) जम्मु और कश्मीर, एवं जी.डी.सी.ए. की टीमें भाग ले रही हैं। उन्होंने बताया कि टूर्नामेंट में रणजी ट्राफी एवं आईपीएल में खेल चुके नामचीन खिलाड़ियों के भाग लेने की संभावना है।

नोट:- मैचों का कार्यक्रम (फिक्सर) संलग्न हैं।

मत्स्य पालक की बेटी मनीषा कीर ने वर्ल्ड कप में देश को दिलाया रजत पदक



View

शूटिंग अकादमी की स्टॉर खिलाड़ी मनीषा कीर पर हमें गर्व है-खेल मंत्री



मध्य प्रदेश की खिलाड़ी बेटियां अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं और शानदार प्रदर्शन कर देश का परचम फहरा रहीं है। ऐसी ही शानदार प्रतिभा का प्रदर्शन मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की प्रतिभावान खिलाड़ी मनीषा कीर ने वर्ल्ड कप में किया और ट्रैप टीम वूमेन इवेन्ट में देश को रजत पदक दिलाया। इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट्स फेडरेशन (आई.एस.एस.एफ.) द्वारा कायरो, इजिप्ट में 22 फरवरी से 5 मार्च, 2021 तक आयोजित वर्ल्ड कप में मनीषा कीर ने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए ट्रैप टीम वूमेन इवेन्ट में सर्वाधिक 158 अंक अर्जित किए। जबकि टीम में शामिल राजेश्वरी कुमारी और कीर्ति गुप्ता ने 143-143 का स्कोर किया और कुल 444 अंकों के साथ देश को रजत पदक दिलाया। रशियन फेडरेशन 463 अंकों के साथ पहले और मेजबान देश इजिप्ट 405 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहा।

खिलाड़ी बेटी पर गर्व

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने वर्ल्डकप में मनीषा कीर द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए मनीषा कीर को बधाई दी और कहा कि हमें अपनी खिलाड़ी बेटी पर गर्व है। खेल मंत्री ने कहा कि मनीषा कीर की इस उपलब्धि ने यह साबित कर दिखाया है कि कोरोना काल के बाद भी हमारे खिलाड़ियों के हौसले बुलंद है। मध्य प्रदेश की बेटियां अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रही हैं और पदक जीत कर देश और प्रदेश का परचम फहरा रही हैं। उन्होंने वर्ल्ड कप में मनीषा कीर द्वारा हासिल इस उपलब्धि पर शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री मनशेर सिंह को भी बधाई दी।

मनीषा ने अब तक देश को दिलाए हैं बारह पदक

गौरागांव, भोपाल की मूल निवासी मनीषा कीर के पिता मत्स्य पालन का व्यवसाय करते है। मनीषा कीर ने वर्ष 2013 में मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में प्रवेश लेकर शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री मनशेर सिंह के मार्गदर्शन में शॉटगन खेल का प्रशिक्षण प्रारंभ किया। शूटिंग में अपना कैरियर बनाने वाली मनीषा ट्रैप इवेंट की प्रतिभावान खिलाड़ी हैं। उन्होंने विश्व जूनियर शूटिंग चैम्पियनशिप कोरिया में ट्रैप इवेन्ट में 125 मे से 115 अंक अर्जित कर विश्व रिकार्ड की बराबरी की है। कुवैत में 28 से 30 जनवरी 2021 तक आयोजित प्रथम एशियन ऑनलाईन शूटिंग (शॉटगन) चैम्पियनशिप में मनीषा ने देश को कांस्य पदक दिलाया। मनीषा कीर ने अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अब तक 2 स्वर्ण, 6 रजत और 4 कांस्य सहित 12 पदक देश को दिलाए हैं। उन्होंने राष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिताओं में 21 स्वर्ण, 6 रजत एवं 6 कांस्य पदक इस प्रकार कुल 33 पदक अर्जित कर प्रदेश को गौरवान्वित किया है।

विश्व स्तरीय शूटिंग अकादमी

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा राजधानी भोपाल के समीप बिशनखेड़ी में संचालित मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएं और ट्रेनिंग उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी की पहल और प्रयासों से प्रारम्भ हुई विश्व स्तरीय शूटिंग अकादमी के माध्यम से प्रदेश के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर मिल रहा है। इसी का परिणाम है कि खिलाड़ी पदक जीतकर देश और प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं।

वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के सात खिलाड़ियों का राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन



View

वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के सात खिलाड़ियों का राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन

----

इंडिया कैम्प में प्रदेश के 11 कयाकिंग-कैनोइंग खिलाड़ी करेंगे भागीदारी



थाईलैण्ड में 5 से 7 मई, 2021 तक होने वाले ओलम्पिक क्वालीफाय की तैयारी के लिए श्रीनगर में 31 मार्च, 2021 तक आयोजित राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर में मध्य प्रदेश के 11 खिलाड़ी भागीदारी करेंगे। इनमें मध्य प्रदेश राज्य वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के सात कयाकिंग-कैनोइंग खिलाड़ी शामिल हैं।

अकादमी के खिलाड़ियों ने श्रीनगर रवाना होने से पूर्व टी.टी. नगर स्टेडियम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री पवन जैन ने ओलम्पिक क्वालीफाय की तैयारी के लिए इंडिया कैम्प को अत्यंत महत्वपूर्ण बताया और खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि वे राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर को पूरी गंभीरता से लेकर कड़ा परिश्रम कर अभ्यास करें और अपने खेल कौशल में निखार लाएं। उन्होंने सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी।

राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर के लिए वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के सात खिलाड़ियों का चयन हुआ है इनमें बालिका वर्ग में नमिता चंदेल, कावेरी ढीमर, सुषमा वर्मा तथा बालक वर्ग में सोनू वर्मा, देवेन्द्र सेन, बलबीर जाट और देवव्रत सिंह शामिल हैं। इसके अलावा मध्य प्रदेश की टीम में अंजली वशिष्ट, कीर्ति केवट, नीतू वर्मा और सुशीला चानू भी शामिल हैं।

वाटर स्पोर्ट्स कयाकिंग-कैनोइंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री पीजूष बरोई और भोपाल की कयाकिंग-कैनोइंग कोच सुश्री नाजिस मंसूरी को भारतीय टीम का प्रशिक्षक नियुक्त किया गया है।

25वीं नेशनल रोड सायकिलिंग चैम्पियनशिप-मुम्बई विधि बोंडे एवं अनन्त मेहरा राष्ट्रीय सायकिलिंग प्रतियोगिता में करेंगे म.प्र. का प्रतिनिधित्व



View

खिलाड़ियों ने की खेल संचालक से भेंट



मुम्बई में 5 से 8 मार्च 2021 तक आयोजित 25वीं नेशनल (सीनियर, जूनियर एवं सब-जूनियर) रोड सायकिलिंग चैम्पियनशिप के लिए मध्य प्रदेश राज्य ट्रायथलॉन अकादमी की खिलाड़ी विधि बोंडे एवं सेन्ट जोसफ स्कूल के खिलाड़ी अनन्त मेहरा का चयन हुआ है। चैम्पियनशिप में दोनों खिलाड़ी मध्य प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए प्रतिभा प्रदर्शन करेंगे। मुम्बई रवाना होने से पूर्व दोनों खिलाड़ियों ने अपने अभिभावक और प्रशिक्षक के साथ टी.टी. नगर स्टेडियम पहुंचकर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की।

खेल संचालक श्री पवन जैन ने विधि बोंडे और अनंत मेहरा के नेशनल रोड सायकिलिंग चैम्पियनशिप में चयन होने पर दोनों खिलाड़ियों को बधाई दी। उन्होंने विधि और अनन्त को प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी। खेल संचालक श्री जैन ने कहा कि विभिन्न राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में प्रदेश के खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं और लगातार पदक जीतकर मध्य प्रदेश का मान बढ़ा रहे हैं।

इस मौके पर म.प्र. एमेच्योर सायकिलिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री एस.एन. सिंह, श्री मनीष भदौरिया, ट्रायथलॉन अकादमी के प्रशिक्षक श्री मनोज झा, जूडो प्रशिक्षक सुश्री कमला रावत मेहरा एवं श्री सुनील बोंडे उपस्थित थे।

शूटिंग अकादमी के 11 खिलाड़ियों ने प्री-नेशनल के लिए क्वालीफाय किया



View

शूटिंग अकादमी के 11 खिलाड़ियों ने प्री-नेशनल के लिए क्वालीफाय किया

----

म.प्र. राज्य शूटिंग चैम्पियनशिप में अकादमी के खिलाड़ियों ने जीते 10 पदक



इन्दौर में पिछले दिनों आयोजित मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग चैम्पियनशिप में शूटिंग अकादमी के रायफल इवेन्ट के 11 खिलाड़ियों ने भागीदारी की और 5 स्वर्ण, 1 रजत और 4 कांस्य सहित कुल 10 पदक अर्जित किए। चैम्पियनशिप के रायफल इवेन्ट में खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए प्री-नेशनल के लिए क्वालीफाय कर लिया है। खिलाड़ियों की इस उपलब्धि पर खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रसन्नता व्यक्त की है और चयनित खिलाड़ियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।

शूटिंग चैम्पियनशिप में अकादमी की खिलाड़ी शरण्या लाखन ने सर्वाधिक 4 स्वर्ण पदक अर्जित किए। उन्होंने यह पदक थ्री-पोजिशन वूमेन, थ्री-पोजिशन जूनियर वूमेन, प्रोन वूमेन एवं प्रोन जूनियर वूमेन इवेन्ट में हासिल किए। अकादमी की खिलाड़ी अश्लेषा सप्रे ने एयर यूथ वूमेन इवेन्ट में एक स्वर्ण पदक प्राप्त किया। चैम्पियनशिप के प्रोन जूनियर मेन इवेन्ट में अकादमी के खिलाड़ी अमित सिंगरौले ने एक रजत पदक अर्जित किया। अकादमी की खिलाड़ी मंतिशा आकिल ने थ्री-पोजिशन वूमेन और थ्री-पोजीशन जूनियर वूमेन इवेन्ट में एक-एक कांस्य पदक, याकूब सिद्दिकी ने प्रोन जूनियर मेन इवेन्ट तथा अपूर्वजीत ने थ्री-पोजीशन जूनियर मेन इवेन्ट में एक-एक कांस्य पदक अर्जित किया। पदक विजेता खिलाड़ियों के अलावा आदिल पटेल, रोनाल्ड हबिल, शिवेन्द्र सिंह सिसोदिया, प्राची कौरव और निकिता शिवहरे ने भी प्री-नेशनल के लिए क्वालीफाय कर लिया हैं। संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने प्री-नेशनल के चयनित खिलाड़ियों को उत्कृष्ट प्रदर्शन करने और पदक जीतने के लिए शुभकामनाएं दी हैं।

उक्त खिलाड़ी म.प्र. राज्य शूटिंग अकादमी की मुख्य प्रशिक्षक सुश्री सुमा शिरूर, सुश्री सुनीता लाखन, श्री वैभव शर्मा एवं सुश्री अपराजिता सिंह के मार्गदर्शन में प्रशिक्षणरत है।

म.प्र. गोल्फ ओपन चैम्पियनशिप इन्दौर-2021 गोल्फर सोनम कीर ने ओपन चैम्पियनशिप में जीती ट्राफी



View

म.प्र. गोल्फ ओपन चैम्पियनशिप इन्दौर-2021



गोल्फर सोनम कीर ने ओपन चैम्पियनशिप में जीती ट्राफी



गोल्फर खिलाड़ी बेटियों की खेल संचालक ने की हौसला अफजाई



इन्दौर के गढ़ा गोल्फ कोर्स मे 28 फरवरी, 2021 को आयोजित मध्य प्रदेश गोल्फ ओपन चैम्पियनशिप में ड्रायविंग गोल्फ रैंज बिशनखेडी में प्रशिक्षणरत खिलाड़ी सोनम कीर ने जूनियर केटेगरी में विजेता का खिताब अर्जित किया। सोनम कीर ने 18 होल में 76 स्कोर के साथ ट्राफी जीतकर भोपाल का नाम रोशन किया। चैम्पियनशिप में भोपाल की नन्ही गोल्फर कुमारी दीपिका और मोनिका कौर ने भी भागीदारी की और शानदार प्रदर्शन करते हुए दीपिका ने 108 और मोनिका ने 83 स्कोर किया।

गोल्फर खिलाड़ियों ने आज टी.टी. नगर स्टेडियम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री जैन ने खिलाड़ी बच्चों को लक्ष्य निर्धारित कर खेलने और सफलता प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने जूनियर वर्ग की विजेता सोनम कीर के प्रदर्शन की सराहना करते हुए अन्य खिलाड़ियों को भी प्रदर्शन में निखार लाने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर उपस्थित गोल्फ कोच श्री देवेन्द्र पटेल ने खेल संचालक को अवगत कराया कि गोल्फ कोर्स में सात बालिका और पाँच बालकों सहित 12 खिलाड़ी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि 6 एवं 7 मार्च को आयोजित भेल ओपन गोल्फ चैम्पियनशिप के लिए खिलाड़ी कड़ा परिश्रम कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा बिशनखेडी स्थित ड्रायविंग गोल्फ रैंज पर गोल्फ कोच श्री देवेन्द्र पटेल द्वारा खिलाड़ियों को गोल्फ खेल का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

विश्व कप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे फेंसिंग अकादमी के खिलाड़ी शंकर पांडे



View

कुक के बेटे का कमाल-विश्व कप में मचाएंगे धमाल



शंकर पांडे को खेल मंत्री ने बधाई और शुभकामनाएं दी



मध्य प्रदेश राज्य फेंसिंग अकादमी के होनहार खिलाड़ी शंकर पांडे 19 से 23 मार्च, 2021 तक रशिया के कजान शहर में अयोजित विश्वकप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे। राष्ट्रीय तलवारबाजी प्रतियोगिताओं में शानदार प्रदर्शन करने पर फेंसिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा रैंकिंग के आधार पर शंकर पांडे का वल्र्ड कप के लिए चयन किया गया है। शंकर पांडे फेंसिंग के ईपी इवेन्ट में तलवारबाजी का प्रदर्शन करेंगे।

देश को दिला चुके हैं स्वर्ण पदक

बहुत ही साधारण परिवार के शंकर पांडे ने वर्ष 2014 में फेंसिंग अकादमी में प्रवेश लेकर तलवारबाजी में कैरियर बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया। उनके पिता श्री लक्ष्मण पांडे ‘कुक‘ का कार्य करते हैं और मां श्रीमती गीता पांडे ग्रहणी हैं। अपने बेटे के वल्र्ड कप में चयन होने पर पूरा परिवार खुशी से सराबोर है। उनका सपना है कि बेटा एशियन और ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करे और पदक जीतकर देश और प्रदेश का नाम रोशन करे। शंकर पांडे ने बताया कि मेरा लक्ष्य देश के लिए पदक जीतना और माता-पिता के सपनों को साकार करना है और इसके लिए मैं जी-जान से खेल रहा हूं।

फेसिंग अकादमी के प्रशिक्षक श्री भूपेंद्र सिंह ने बताया कि शंकर पांडे बहुत परिश्रमी, प्रतिभावान और जुनूनी खिलाड़ी हैं जो पूरी लगन के साथ खेलते हैं। खेल में उनका यही जुनून उनकी सफलता का मार्ग प्रशस्त करेगा।

शंकर पांडे ने वर्ष 2018 में इंग्लैंड में आयोजित कामनवेल्थ जूनियर/केडेट फेसिंग चैंपियनशिप में देश को स्वर्ण पदक दिलाया। शंकर ने तलवारबाजी की विभिन्न राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में एक स्वर्ण, 7 रजत और 6 कांस्य सहित 14 पदक मध्य प्रदेश को दिलाए हैं। राज्य स्तरीय फेसिंग प्रतियोगिताओं में उन्होंने 12 स्वर्ण, दो रजत और दो कांस्य सहित 16 पदक अर्जित किए हैं।

मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हमारे खिलाड़ी

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने वल्र्ड कप की भारतीय तलवारबाजी टीम में शंकर पांडे के चयन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्हें बधाई दी है। उन्होंने शंकर पांडे के प्रर्दशन की सराहना करते हुए कहा कि खिलाड़ियों को मिल रही उच्च स्तरीय खेल सुविधाओं का ही परिणाम है कि हमारे खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मध्य प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हैं। उन्होंने शंकर पांडे को वल्र्ड कप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी हैं।

फेंसिंग अकादमी की दोहरी सफलता

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि फेंसिंग अकादमी की खिलाड़ी खुशी दाभाडे़ के बाद शंकर पांडे अकादमी के दूसरे खिलाड़ी हैं जिनका चयन वल्र्ड कप के लिए हुआ है। यह फेंसिंग अकादमी की दोहरी सफलता के साथ ही मध्य प्रदेश के लिए गर्व की बात है। उन्होंने बताया कि साधारण परिवारों के खिलाड़ी बच्चे खेल प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं और पदक जीतकर प्रदेश का मान बढ़ा रहे हैं।

विश्व कप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी फेंसिंग अकादमी की खिलाड़ी खुशी दाभाडे़



View

खेल मंत्री ने बधाई और शुभकामनाएं दी



मध्य प्रदेश राज्य फेंसिंग अकादमी की प्रतिभावान खिलाड़ी खुशी दभाडे़ 19 से 23 मार्च, 2021 तक कज़ान, रशिया में होने वाले विश्वकप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी। राष्ट्रीय तलवारबाजी प्रतियोगिताओं में शानदार प्रदर्शन करने पर फेंसिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा रैंकिंग के आधार पर खुशी दाभाडे़ का वर्ल्ड कप के लिए चयन हुआ है। खुशी फेंसिंग के ईपी इवेन्ट में प्रतिभा प्रदर्शन करेंगी।

मध्य प्रदेश का परचम फहरा रही खिलाड़ी बेटियां

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने वर्ल्ड कप की भारतीय तलवारबाजी टीम में चयन होने पर खुशी दाभाडे़ को बधाई दी है। उन्होंने वर्ल्ड कप में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर देश को पदक दिलाने के लिए खुशी को प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की खिलाड़ी बेटियां राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में प्रतिभा का शानदार प्रदर्शन कर रही हैं और मध्य प्रदेश का परचम फहरा रही हैं। हमें अपनी खिलाड़ी बेटियों पर गर्व है।

खुशी ने फैलाई खुशी की लहर

वर्ष 2014 में फेंसिंग अकादमी में प्रवेश लेकर तलवारबाजी का प्रशिक्षण हासिल कर रही खुशी दाभाडे़ के पिता भोपाल के एक निजी चिकित्सालय में ओटी अटेंडर हैं जो स्लम एरिया में रहते हैं। उन्होंने बताया कि बेटी का विश्वकप में चयन होने पर पूरे परिवार में खुशी की लहर छा गई। श्री बाबाराव दाभाडे़ बेटी को मिली इस उपलब्धि का श्रेय खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी को देते हैं जिनके प्रयासों से खुशी ने आज यह मुकाम हासिल किया है। फेंसिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि खुशी दाभाडे़ बहुत ही प्रतिभावान खिलाड़ी हैं। वह पूरे समर्पण भाव से प्रशिक्षण हासिल करती हैं और कभी भी ट्रेनिंग मिस नहीं करती। फेंसिंग अकादमी के माध्यम से मिल रही उच्च स्तरीय खेल सुविधाओं, प्रशिक्षण और अपने प्रतिभा प्रदर्शन से खुशी को अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में सफलता अवश्य मिलेगी।

एशियन और ओलम्पिक मेरा सपना

एशियन और ओलम्पिक में भारत का प्रतिनिधित्व करना और देश को पदक दिलाना खुशी दाभाडे़ का सपना है और इसे पूरा करने के लिए वह कड़ा परिश्रम कर रही है। खुशी ने अभी तक राष्ट्रीय तलवारबाजी प्रतियोगिताओं में दो स्वर्ण, दो रजत और छह कांस्य सहित दस पदक मध्य प्रदेश को दिलाएं हैं। इसके अलावा राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में उन्होंने 11 स्वर्ण और 3 रजत पदक अर्जित किए हैं।

विश्व स्तरीय सुविधाएं और प्रशिक्षण का सुपरिणाम

मध्य प्रदेश फेंसिंग अकादमी की उदीयमान खिलाड़ी खुशी दाभाडे़ का वर्ल्ड कप में चयन मध्य प्रदेश के खेल जगत के लिए गर्व की बात है। सामान्य परिवेश से आने वाले खिलाड़ियों को अकादमी में विश्व स्तरीय सुविधाएं और प्रशिक्षण दिए जाने का यह सुपरिणाम है कि प्रदेश के खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना रहे है। उम्मीद है कि भविष्य में फेंसिंग के अन्य खिलाड़ी भी मध्य प्रदेश का नाम रोशन करेंगे।

खेल मंत्री मान. सिंधिया ने 23 जिलों के खेल अधिकारियों से की वर्चुअल चर्चा



View

जिलों में टेलेंट सर्च डीएसओ की जिम्मेदारी, कोई एक्सक्यूस नहीं चलेगा

---

विधायक कप पुनः प्रारंभ होगा

---

खेल मंत्री मान. सिंधिया ने 23 जिलों के खेल अधिकारियों से की वर्चुअल चर्चा



खेल एवं युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा है कि खेल विभाग दो महत्वपूर्ण कम्पोनेन्ट पर विशेष रूप से कार्य कर रहा है। इसमें इन्क्लूसिव है राज्य में संचालित विभिन्न खेल अकादमियाँ और दूसरे एक्सक्लूसिव कम्पोनेन्ट है ग्रामीण परिवेश में टेलेंट सर्च। यह दोनों महत्वपूर्ण जिम्मेदारियाँ जिला खेल अधिकारियों की होगी। मान. सिंधिया सोमवार को मंत्रालय स्थित एनआईसी कक्ष में 23 ग्वालियर, भोपाल, विदिशा, गुना, सागर, टीकमगढ़, दमोह, पन्ना, जबलपुर, नरसिंहपुर, बालाघाट, मंडला, इंदौर, खरगौन, झाबुआ, धार, उज्जैन, बैतूल, रतलाम, सीधी, सिंगरौली, रायसेन और सीहोर जिले के जिला खेल अधिकारियों से वर्चुअल चर्चा कर रही थी।

खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने कहा कि अब हर जिले के अधिकारियों के सहयोग के लिए पर्याप्त युवा समन्वयकों को जोड़ा गया है। उनसे अपेक्षा है कि अपने संबंधित जिले के हर तीन महीने, छह महीने तथा साल भर की गतिविधियों की रिपोर्ट तैयार कर संचालनालय में प्रस्तुत करें। हर जिला खेल अधिकारी जिले में खेलों को लेकर नवाचार कर उन्हें क्रियान्वित भी करें।

फिट इंडिया और खेलो इंडिया पर हो फोकस

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने निर्देश दिए कि हर जिले में फिट इंडिया कैम्पेन के तहत सायक्लोथान, मैराथान, वॉकथान और योग की प्रतियोगिताएँ आयोजित कर आम नागरिकों को स्वस्थ्य रहने का संदेश पहुँचाने में सक्रिय भूमिका निभाएँ। हर युवा कोरडिनेटर अपने क्षेत्र के 50 से 60 आयु वर्ष के नागरिकों को सम्मिलित कर योग, स्ट्रेचिंग आदि के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि फिट इंडिया प्रधानमंत्री श्री मोदी की अभिनव पहल है, जिसका उद्देश्य हर उम्र के लोगों को शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए प्रोत्साहित करना है।

विधायक कप पुनः होगा प्रारंभ

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि विभाग द्वारा विधायक कप पुनः प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने सभी जिला खेल अधिकारियों को अपने क्षेत्र में प्रचलित अथवा विधायक द्वारा चाहे गए खेल की रूपरेखा तैयार कर संचालक से समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मैपिंग द्वारा विधानसभा क्षेत्र चिन्हित करें, उस क्षेत्र में क्या खेल अधोसंरचना है, स्टेडियम की स्थिति, इंडोर हॉल है या नहीं, इसकी जानकारी तत्काल संचालनालय को छायाचित्र के साथ भेजें।

नुक्कड नाटक के माध्यम से नशा मुक्ति अभियान चलाएं

खेल मंत्री ने कहा कि युवाओं को नशे की लत से दूर रखना सामाजिक जिम्मेदारी है। जिला खेल अधिकारी नुक्कड नाटक के माध्यम से अपने क्षेत्र में युवाओं को नशे के बुरे परिणामों से अवगत कराएँ, उन्हें खेलों की ओर आकर्षित करें। युवा समन्वयक छोटे-छोटे ग्रुप बनाकर स्थानीय कलाकारों के साथ समन्वय कर युवाओं को प्रेरित करें।

मलखम्ब फीडर सेंटर प्रतियोगिता मार्च में

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने बताया कि मार्च माह में प्रदेश के 11 मलखम्ब फीडर सेंटर के मध्य इंटर फीडर सेंटर प्रतियोगिता आयोजित किए जाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि 2005 में मलखम्ब को राज्य खेल घोषित किया गया था। इस प्रतियोगिता के आयोजन का मुख्य उद्देश्य मलखम्ब के स्तर की पहचान करना है। इसके दूसरे राज्यों के निर्णायकों को बुलाया जायेगा। अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर कितने बच्चे अपना हुनर दिखा सकते हैं, इसकी मॉनिटरिंग की जा सकेगी। श्रीमती सिंधिया ने कहा जैसे संस्कृत सभी भाषाओं की जननी है, वैसे ही मलखम्ब हर खेल की जननी है। खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने इस तरह के आयोजन हॉकी फीडर सेंटर के मध्य भी भविष्य में आयोजित किए जाने की बात कही।

टेलेंट सर्च की तैयारी अभी से करें

संचालक, खेल एवं युवा कल्याण श्री पवन कुमार जैन ने जिला खेल अधिकारियों को निर्देश दिए कि अप्रैल, 2021 में होने वाले टेलेंट सर्च के लिए अभी से तैयारी करें। ग्राऊंड रख-रखाव का सुपरविजन करें। मूक दर्शक नहीं बने, खुद पहल करें। यह सुनिश्चित किया जाये कि प्रशिक्षक खिलाड़ियों को समय पर खेल सामग्री उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि जिन जिलों में स्टेडियम बने है और उनके रख-रखाव की व्यवस्था नहीं है, तो उसकी जानकारी तत्काल संचालनालय को भेजी जाये।

वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के पदक विजेता खिलाड़ियों की खेल मंत्री ने की हौसला अफजाई



View

पदक जीतने का यह जूनुन कायम रहना चाहिए-खेल मंत्री



खेल मंत्री ने की वाटर स्पोर्ट्स गतिविधियों की समीक्षा



प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने बड़ी झील स्थित वाटर स्पोर्ट्स सेंटर पहुंची जहाँ उन्होंने राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट चैम्पियनशिप के पदक विजेता खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन की सराहना की और उन्हें शाबाशी देकर उनका उत्साहवर्धन किया। उन्होंने यहाँ अधिकारियों और वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग, रोइंग और कयाकिंग केनोइंग प्रशिक्षकों की बैठक में वाटर स्पोर्ट्स गतिविधियों की विस्तार से समीक्षा की।

खेलों में कैरियर

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने 31वीं राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट (बालक एवं बालिका जूनियर सब जूनियर) चैंपियनशिप के पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई देते हुए कहा कि वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के खिलाड़ियों ने बहुत ही शानदार प्रदर्शन कर मध्य प्रदेश को सर्वाधिक स्वर्ण पदक दिलाएं हैं। उन्होंने खिलाड़ियों को खेलों में कैरियर बनाने के लिए प्रोत्साहित किया और अकादमी के स्टॉर खिलाड़ी हर्षिता तोमर, राम मिलन यादव, रितिका दांगी, उमा चैहान आदि का उदाहरण देते हुए कहा कि राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में मैडल जीतने का यह जूनुन कायम रहना चाहिए। उन्होंने रजत पदक विजेता खिलाड़ियों से कहा कि आगामी प्रतियोगिताओं में और अधिक परिश्रम कर अपनी खेल विधा में निखार लाएं और अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन से रजत पदक को स्वर्ण पदक में बदलने का प्रयास करें। खेल मंत्री ने सेलिंग और रोइंग खिलाड़ियों से भी आगामी प्रतियोगिताओं की तैयारी के संबंध में चर्चा की और उन्हें लक्ष्य निर्धारित कर पदक जीतने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी।

इस अवसर पर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, संयुक्त संचालक श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी, वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री जी.एल. यादव, कैप्टन दलबीर सिंह, कैप्टन पीजूष बरोई, श्री देवन्द्र गुप्ता, श्री अनिल शर्मा मौजूद थे।

खिलाड़ियों के कैरियर के लिए हो हर संभव प्रयास

खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने वाटर स्पोर्ट्स सेंटर पर आयोजित बैठक में आगामी राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं की तैयारी की सिलसिलेवार समीक्षा की। उन्होंने अकादमी में खिलाड़ियों के प्रवेश हेतु किए जाने वाले टैलेन्ट सर्च और समर कैम्प के लिए की जाने वाली कार्यवाही के संबंध में अधिकारियों और खेल प्रशिक्षकों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए। बैठक में खेल मंत्री ने सभी प्रशिक्षकों से खिलाड़ियों के परफारमेंस की जानकारी हासिल की। उन्होंने खिलाड़ियों के प्रदर्शन को और अधिक निखारने के संबंध में खेल प्रशिक्षकों को मार्गदर्शन दिया। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों के कैरियर के लिए हर संभव प्रयास किए जाएं। बैठक में खेल संचालक श्री पवन जैन ने विभागीय उपलब्धियों की जानकारी से खेल मंत्री को अवगत कराया।

अकादमी के खिलाड़ियों ने लगातार दूसरे दिन भी लगाई स्वर्ण पदकों की झड़ी



View

31वीं राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट चैंपियनशिप 2021



खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश को दिलाए 13 स्वर्ण, 3 रजत और दो कांस्य पदक







राजधानी भोपाल स्थित छोटी झील पर शनिवार से शुरू हुई 31वीं राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट (बालक एवं बालिका जूनियर सब जूनियर) चैंपियनशिप में वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के कयाकिंग केनोइंग खिलाड़ियों ने दूसरे दिन भी शानदार प्रदर्शन करते हुए आज

13 स्वर्ण और 3 रजत और 2 कांस्य सहित कुल 18 पदक मध्य प्रदेश को दिलाए। खिलाड़ियों ने यह पदक 500 मीटर रेस के अलग-अलग इवेंट में अर्जित किए।



प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हमारे खिलाड़ी

खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता के दूसरे दिन भी अकादमी के खिलाड़ियों को मिली स्वर्णिम सफलता पर हर्ष व्यक्त किया और खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के खिलाड़ियों ने लगातार दूसरे दिन 18 पदक जीतकर साबित कर दिखाया है कि कोरोना काल के बाद उनके हौसले बुलंद हैं। हमारे खिलाड़ी प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं।

स्वर्ण पदकों की झड़ी लगाई

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने कहा कि राष्ट्रीय प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाड़ियों ने आज दूसरे दिन भी स्वर्ण पदकों की झड़ी लगाते हुए मध्य प्रदेश को 13 स्वर्ण पदक दिलाए। इसके अलावा 3 रजत और 2 कांस्य पदक जीतकर मध्य प्रदेश को गौरवान्वित किया है।

इन खिलाड़ियों ने जीते पदक

प्रतियोगिता में के 1 इवेंट में देवव्रत सिंह, के-4 में नितिन वर्मा और राजू वर्मा, सी-2 नीरज वर्मा, सी-4 देवेंद्र सेन और सोनू वर्मा, के-2 आस्था दांगी, के-4 आस्था एवं निहारिका जायसवाल,। के-2आस्था और निहारिका, सी-1 कावेरी ढीमर, सी-2 कावेरी एवं शिवानी वर्मा, सी-4 कावेरी और शिवानी वर्मा, सी 1 शिवानी, सी-2 मिक्सड इवेंट में शिवानी वर्मा तथा के-2 मिक्सड इवेंट में अक्षित बरोई ने एक एक स्वर्ण पदक मध्य प्रदेश को दिलाया।

इसी तरह बलवीर जाट और अक्षित बरोई ने के-2 इवेंट, नितिन वर्मा ने के-1 तथा हिमांशु टंडन और देवराज सिंह ने के-4 इवेंट में 1-1 रजत पदक अर्जित किया। अकादमी के खिलाड़ी सचिन सेन ने सी-2 और आस्था वर्मा, शिवकन्या वर्मा, नेहा चौबे और खुशी वर्मा ने के 4 इवेंट में एक-एक कांस्य पदक अर्जित किया।

फेंसिंग चैंपियनशिप में भोपाल बना ओवरआल चैंपियन दूसरी सब जूनियर, जूनियर और सीनियर फेंसिंग चैंपियनशिप



View

फेंसिंग चैंपियनशिप में भोपाल बना ओवरआल चैंपियन



दूसरी सब जूनियर, जूनियर और सीनियर फेंसिंग चैंपियनशिप



भोपाल के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दूसरी सब जूनियर, जूनियर और सीनियर फेंसिंग चैंपियनशिप में ओवरआल चैंपियन होने का गौरव हासिल किया। जूनियर और सीनियर की सभी स्पर्धाओं में मध्यप्रदेश राज्य अकादमी के खिलाड़ियों का दबदबा रहा। संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन, सेलिंग कोच अर्जुन अवार्डी श्री जीएल यादव, शूटिंग कोच सुश्री सुमा शिरूर और रोइंग कोच कैप्टन दलबीर सिंह के विशेष आतिथ्य में पुरस्कार वितरण किया गया।

तात्या टोपे स्टेडियम में खेले गए ईपी इवेंट के व्यक्तिगत सीनियर में अमित गुसाई ने स्वर्ण, अंकुर जैन ने रजत और शंकर पांडेय तथा अंकित शर्मा ने कांस्य पदक जीते। टीम इवेंट में अमित, अंकुर, शंकर और सत्यम ने भोपाल को स्वर्ण पदक दिलाया। जबकि ग्वालियर को रजत और जबलपुर को कांस्य मिला। ईपी के जूनियर वर्ग के व्यक्तिगत मुकाबले में अंकुर ने स्वर्ण, शंकर ने रजत, सुशील व भव्य ने कांस्य पदक जीते। टीम वर्ग में भोपाल को स्वर्ण, ग्वालियर को रजत पदक मिला। बालिका सीनियर व्यक्तिगत में भोपाल की खुशी दाभाड़े ने स्वर्ण, अंजलि ने रजत और प्रज्ञा व सिमरन ने कांस्य जीते। टीम में ग्वालियर को स्वर्ण और भोपाल को रजत मिला। जूनियर बालिका में खुशी ने स्वर्ण, प्रज्ञा ने रजत, अंजलि व पूजा ने कांस्य जीते। टीम इवेंट में भोपाल को स्वर्ण, ग्वालियर को रजत और इंदौर को कांस्य मिला।

फोइल व्यक्तिगत जूनियर में भोपाल के टी साई संकेत ने स्वर्ण, हर्षल ने रजत, उस्तत व लक्ष्य ने कांस्य जीते। टीम इवेंट में भोपाल को स्वर्ण, ग्वालियर को रजत और जबलपुर को कांस्य मिला। बालिका जूनियर में ग्वालियर की अचिंत ने स्वर्ण, अरूणिमा ने रजत, संजना व निशा ने कांस्य जीते। टीम इवेंट में ग्वालियर ने स्वर्ण, भोपाल ने रजत और इंदौर ने कांस्य पदक जीते। फोइल सीनियर बालक वर्ग में हर्षल भक्ते ने स्वर्ण, संकेत ने रजत, उस्तत व अंकुष ने कांस्य जीते। टीम इवेंट में भोपाल ने स्वर्ण, ग्वालियर ने रजत जीता। बालिका वर्ग में भोपाल की अरूणिमा ने स्वर्ण, अचिंत ने रजत, संजना व निशा ने कांस्य जीते।

सेबर व्यक्तिगत जूनियर में भोपाल के सौरभ ने स्वर्ण, विवके ने रजत, शाश्वत व तनिष्क ने कांस्य जीते। बालिका जूनियर वर्ग व्यक्तिगत स्पर्धा में छतरपुर की पूर्णा ने स्वर्ण, टीकमगढ़ की रक्षा ने रजत तथा कोमल व नेहा ने कांस्य पदक जीते।

चैंपियनशिप का आयोजन खेल और युवा कल्याण विभाग के तत्वावधान में तदर्थ समिति मप्र फेंसिंग एसोसिएशन और भोपाल जिला फेंसिंग एसोसिएशन द्वारा टी टी नगर स्टेडियम में किया गया।

कोचिंग सेंटर टी.टी. नगर स्टेडियम फुटबॉल टीम बनी उप विजेता



View

कोचिंग सेंटर टी.टी. नगर स्टेडियम फुटबॉल टीम बनी उप विजेता

खेल संचालक ने किया खिलाड़ियों को सम्मानित



झाबुआ में आयोजित राज्य स्तरीय फुटबाल प्रतियोगिता में कोचिंग सेंटर टी. टी. नगर स्टेडियम भोपाल की फुटबॉल टीम ने उप विजेता और इन्दौर ने विजेता का खिताब जीता।

प्रतियोगिता में खेले गए प्रीक्वाटर फाइनल मुकाबले में कोचिंग सेंटर टीटी नगर स्टेडियम की टीम ने एंगल क्लब झाबुआ को दो शून्य से हराया। प्रशान्त थापा और निखिल पाटिल द्वारा किए गए गोल के सहारे टीम ने क्वाटर फाईनल में प्रवेश किया। क्वाटर फाइनल में रजत नेगी ने तीन तथा अचल राज मिश्रा ने एक गोल कर राजा क्लब झाबुआ को शून्य के मुकाबले चार गोलों से पराजित किया और सेमी फाइनल में जगह बनाई। सेमी फाइनल मुकाबले में कोचिंग सेंटर भोपाल टीम ने प्रदेश की सशक्त टीम एन एफ ए नीमच टीम को एक के मुकाबले दो गोल से हराया। प्रशांत थापा द्वारा किए गए दो गोल की बदौलत कोचिंग सेंटर भोपाल की टीम प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंची। फाइनल के संघर्षपूर्ण मुकाबले में इंदौर ने एक गोल के सहारे कोचिंग सेंटर भोपाल को पराजित किया।

झाबुआ से लौटी भोपाल कोचिंग सेंटर टीटी नगर स्टेडियम की उप विजेता फुटबॉल टीम के खिलाड़ियों ने संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की। खेल संचालक श्री जैन ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर उन्हें उपविजेता का खिताब जीतने पर बधाई दी। उन्होंने खिलाड़ियों को भविष्य में और अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने टीम में शामिल समस्त खिलाड़ियों को ट्रैक सूट देकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर संयुक्त संचालक श्री बीएस यादव सहित अन्य अधिकारी, फुटबॉल के सीनियर कोच जे पी सिंह, टीम कोच देवेंद्र प्रताप सिंह उपस्थित थे।

अकादमी के खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट चैंपियनशिप में लगाई स्वर्ण पदकों की झड़ी



View

31वीं राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट (बालक एवं बालिका जूनियर सब जूनियर) चैंपियनशिप

अकादमी के खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट चैंपियनशिप में लगाई स्वर्ण पदकों की झड़ी

मध्य प्रदेश को दिलाए 6स्वर्ण और 3 रजत पदक



राजधानी भोपाल स्थित छोटी झील पर आज से शुरू हुई 31वीं राष्ट्रीय कयाकिंग केनोइंग स्प्रिंट (बालक एवं बालिका जूनियर सब जूनियर) चैंपियनशिप में वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के कयाकिंग केनोइंग खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए आज 6 स्वर्ण और तीन रजत सहित कुल 9 पदक मध्य प्रदेश को दिलाए। खिलाड़ियों ने यह पदक 1000 मीटर रेस के अलग-अलग इवेंट में अर्जित किए।

खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता में पहले दिन अकादमी के खिलाड़ियों को मिली स्वर्णिम सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सराहना की और सभी पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी। उन्होंने प्रतियोगिता के अगले इवेंट में भी इसी प्रकार उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया और उन्हें शुभकामनाएं दी।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने कहा कि वाटर स्पोर्ट्स अकादमी के खिलाड़ियों ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए पहले दिन ही स्वर्ण पदकों की झड़ी लगा दी और मध्य प्रदेश को छह स्वर्ण पदक दिलाए। इसके अलावा तीन रजत सहित 9 पदक जीतकर अकादमी के खिलाड़ियोंने मध्य प्रदेश का मान बढ़ाया है।

इन खिलाड़ियों ने जीते पदक

चैंपियनशिप में बालिका वर्ग सी-1 स्पर्धा में अकादमी की खिलाड़ी कावेरी ढीमर ने 4.56.35 के समय में रेस पूरी कर स्वर्ण पदक अर्जित किया। जबकि सी-2 स्पर्धा में कावेरी ढीमर और शिवानी वर्मा की जोड़ी ने 4.41.93 का समय लेकर स्वर्ण पदक अर्जित किया। इसी तरह के-2 स्पर्धा में आस्था दांगी और शिवकन्या वर्मा ने 4.41.94 के समय में रेस पूरी कर स्वर्ण पदक हासिल किया। चैंपियनशिप में के-4 इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी आस्था दांगी और निहारिका जायसवाल, साईं की खिलाड़ी दीपाली हूडा और एसोसिएशन की खिलाड़ी सविता यादव ने 4.02.93 का समय लेकर रेस पूरी की और मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया।

इसी तरह बालक वर्ग में के-1 इवेंट में अकादमी के खिलाड़ी बलवीर जाट ने 3.55.43 का समय लेकर रेस पूरी की और स्वर्ण पदक हासिल किया। जबकि के-2 इवेंट में बलवीर जाट और देवेंद्र सिंह की जोड़ी ने 3.33.60 का समय लेकर स्वर्ण पदक अर्जित किया।

बालक वर्ग में सी-1 इवेंट में देवेंद्र सेन ने 4.18.21 का समय लेकर रजत पदक जीता। इसी प्रकार सी-2 स्पर्धा में सोनू वर्मा और योगेश की जोड़ी ने 4.2.81 का समय लेकर रजत पदक प्राप्त किया। अकादमी के खिलाड़ी अक्षित बरोई, देवव्रत सिंह, नितिन वर्मा और शिवोम यादव ने के-4इवेंट में 3.13.88 का समय लेकर रजत पदक जीता।

प्रतियोगिता में 19 कयाकिंग कैनोइंग खिलाड़ी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन पीयूष के मार्गदर्शन में भागीदारी कर रहे हैं। इनमें 8 बालिका और 11 बालक खिलाड़ी शामिल है।

तनिश्क ने दिलाया भोपाल को पहला स्वर्ण दूसरी राज्य सीनियर,जूनियर एवं सब जूनियर फेंसिंग चैंपियनशिप



View

दूसरी राज्य सीनियर, जूनियर एवं सब जूनियर फेंसिंग चैंपियनशिप में भोपाल के तनिष्क ने ईपी में पहले दिन स्वर्ण पदक से शुरुआत की। चैंपियनशिप का आयोजन खेल एवं युवा कल्याण विभाग, मप्र के तत्वावधान में तदर्थ समिति मप्र फेंसिंग एसोसिएशन और भोपाल जिला फेंसिंग एसोसिएशन द्वारा तात्या टोपे स्टेडियम में किया जा रहा है।

ईपी बालक अंडर-14 में भोपाल के तनिष्क ने स्वर्ण, भोपाल के दिव्यांश ने रजत और ग्वालियर के वंश व अदम्य ने कांस्य पदक जीते। टीम स्पर्धा में भोपाल के मानदित्य, दिव्यांश, तनिष्क और रुद्वादित्य ने स्वर्ण जीता। ग्वालियर के निहाल, वंश, अदम्य और कृष्णा की टीम ने रजत जीता। इसके अलावा सेबर और फोइल के मुकाबले भी खेले गए।

प्रतियोगिता के पदक विजेता खिलाड़ियों को संयुक्त संचालक खेल श्री बीएस यादव ने पदक प्रदान कर सम्मानित किया। इस मौके पर सहायक संचालक श्री जमील अहमद एवं श्रीमती वाणी साहू, फेंसिंग कोच श्री भूपेंद्र सिंह आदि उपस्थित थे।

इससे पहले चैंपियनशिप का शुभारंभ तदर्थ समिति के पदाधिकारियों की उपस्थिति में हुआ। प्रतियोगिता में रविवार को जूनियर और सीनियर वर्ग के मुकाबले खेले जाएंगे। साथ पुरस्कार वितरण भी रविवार शाम को होगा।

खेल विभाग द्वारा संचालित भर्ती प्रशिक्षण केन्द्र में युवाओं का शारीरिक प्रशिक्षण प्रारंभ



View

युवाओं को शारीरिक प्रशिक्षण देकर उन्हें पुलिस, भारतीय सेना, रेल्वे आदि में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा टी.टी. नगर स्टेडियम में भर्ती प्रशिक्षण केन्द्र संचालित किया जा रहा है। इसके तहत युवाओं को 800 तथा 1600 मीटर दौड, हॉय जम्प, लॉग जम्प, गोला फेंक आदि का शारीरिक दक्षता प्रशिक्षण एनआईएस कोच श्री गोविन्द जाट एवं सहायक प्रशिक्षक श्री भगवान सिंह लोधी द्वारा युवाओं को दिया जा रहा है।

युवाओं को मिला रोजगार

खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की पहल पर युवाओं को रोजगार के अधिकतम अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से भर्ती प्रशिक्षण केन्द्र प्रारंभ किया गया। इस केन्द्र के माध्यम से युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त हो रहे हैं। इसके तहत अभी तक 354 युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त हुए हैं।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि टी.टी. नगर स्टेडियम परिसर में संचालित भर्ती प्रशिक्षण केन्द्र के माध्यम से अभी तक युवाओं को मध्य प्रदेश पुलिस में सब इंसपेक्टर सूबेदार, प्लाटून कमांडर और आरक्षक के 303, बीएसएफ, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ और असम रायफल में 12, भारतीय सेना में 9 रेल्वें में 8 तथा अन्य सेवाओं में 22 विभिन्न पदों पर युवाओं को नियुक्ति मिली है। भर्ती प्रशिक्षण केन्द्र में अभी तक दो हजार आठ सौ से अधिक युवा प्रशिक्षण हासिल कर चुके हैं और प्रशिक्षण का यह क्रम निरंतर जारी है।

भर्ती प्रशिक्षण केन्द्र में तीन माह का प्रशिक्षण सत्र प्रारम्भ हो गया है। पूर्व में प्रत्येक युवा से तीन हजार रूपये का प्रशिक्षण शुल्क लिया जाता था जिसे कोरोना काल की परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए घटाकर बारह सौ रूपये कर दिया गया है। भर्ती प्रशिक्षण केन्द्र में प्रशिक्षण के इच्छुक युवा टी.टी. नगर स्टेडियम के मुख्य द्वारा पर स्थित कार्यालय पर संपर्क कर जानकारी एवं फार्म प्राप्त कर सकते है।

भोपाल में राज्य फेंसिंग चैंपियनशिप का आयोजन 20 एवं 21 फरवरी को



View

फेंसिंग चैम्पियनशिप में जूनियर एवं सब जूनियर खिलाड़ी करेंगे प्रतिभा प्रदर्शन



राजधानी भोपाल में दूसरी राज्य सीनियर, जूनियर एवं सब जूनियर फेंसिंग चैंपियनशिप का आयोजन तात्या टोपे स्टेडियम में 20 और 21 फरवरी, 2021 को खेल एवं युवा कल्याण विभाग और म.प्र. फेंसिंग एसोसिएशन तथा भोपाल जिला फेंसिंग एसोसिएशन के तत्वावधान में किया जा रहा है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने बताया कि प्रतियोगिता का आयोजन तात्या टोपे स्टेडियम के फेंसिंग हॉल में किया जाएगा। इस प्रतियोगिता में प्रदेश के लगभग 150 खिलाड़ी और ऑफिशियल हिस्सा लेंगे। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता के सफल आयोजन हेतु आवश्यक व्यवस्थाएं की गई हैं। इसके साथ ही केन्द्र एवं राज्य शासन द्वारा कोविड-19 के संबंध में जारी गाइड लाइन का पालन सुनिश्चित किया गया है।

खेल संचालक श्री जैन ने बताया कि इस प्रतियोगिता के माध्यम से राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए मध्यप्रदेश की टीम का चयन किया जाएगा। प्रतियोगिता में ईपी, फोइल और सेबर के बालक और बालिका वर्गों में मुकाबले खेले जाएंगे। जूनियर आयु वर्ग 20 वर्ष से कम और सब जूनियर में 14 वर्ष से कम आयु वर्ग के बालक और बालिका खिलाड़ी प्रतियोगिता में भागीदारी कर प्रतिभा प्रदर्शन करेंगे।

एथलेटिक्स अकादमी के पदक विजेता खिलाड़ियों ने की खेल संचालक से भेंट



View

एथलेटिक्स अकादमी के पदक विजेता खिलाड़ियों ने की खेल संचालक से भेंट



36वी राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स प्रतियोगिता गुवाहाटी एवं 8वीं राष्ट्रीय ओपन पैदल चाल प्रतियोगिता रांची के पदक विजेता खिलाड़ियों ने आज टी.टी. नगर स्टेडियम में संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन से भेंट की और उन्हें प्रतियोगिता में हासिल उपलब्धियों से अवगत कराया। खेल संचालक श्री जैन ने सभी पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई और शाबाशी देकर उनका उत्साहवर्धन किया। उन्होंने राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना की। खेल संचालक श्री पवन जैन ने खिलाड़ियों से उनकी उपलब्धियों पर चर्चा की और उन्हें आगामी एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री एस.के. प्रसाद, श्री वीरेन्दर डबास, श्री घनश्याम यादव एवं सुश्री अनुपमा श्रीवास्तव मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि 36वी राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश को 13 पदक हासिल हुए हैं जिनमें 7 स्वर्ण, 3 रजत और 3 कांस्य पदक शामिल हैं। इनमें अकादमी के खिलाड़ियों ने 4 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य सहित कुल 7 पदक मध्य प्रदेश को दिलाए हैं। इसी तरह 8वीं राष्ट्रीय ओपन पैदल चाल प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाड़ियों ने एक रजत और एक कांस्य पदक मध्य प्रदेश को दिलाया।

गोलकीपर के लिए छह दिवसीय विशेष प्रशिक्षण शिवपुरी में प्रारंभ



View

गोलकीपर के लिए छह दिवसीय विशेष प्रशिक्षण शिवपुरी में प्रारंभ



गोल कीपिंग विशेषज्ञ बलजीत सिंह सिखा रहे खेल की बारीकियां



खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की पहल पर शिवपुरी में सोमवार से गोलकीपर का विशेष प्रशिक्षण प्रारंभ हुआ जिसका 20 फरवरी, 2021 को समापन होगा। प्रशिक्षण शिविर में एशियन गोल्ड मेडलिस्ट एवं हॉकी गोलकीपिंग विशेषज्ञ श्री बलजीत सिंह सैनी द्वारा प्रदेश के विभिन्न जिलों के 24 बालक एवं बालिका गोलकीपर खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण शिविर में हॉकी ओलम्पियन, अर्जुन एवं द्रोणाचार्य अवार्डी मध्य प्रदेश पुरूष हॉकी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री राजिन्दर सिंह एवं एनआईएस कोच बिट्टु सिगरोहा, ललित शर्मा, उमेश चन्द्र एवं श्रीमती गीता लखेरा भी खिलाड़ियों का मार्गदर्शन करेंगे।

खेल मंत्री की पहल पर आयोजित छह दिवसीय विशेष प्रशिक्षण में ग्वालियर, भोपाल, उज्जैन, जबलपुर, इंदौर, होशंगाबाद, सिवनी, मंदसौर एवं शिवपुरी जिले के 11 बालक एवं 13 बालिकाएं गोलकीपर खिलाड़ी हॉकी गोलकीपिंग विशेषज्ञ श्री बलजीत सिंह सैनी से गोलकीपिंग की बारीकियां सीख रहे हैं। प्रशिक्षण के दूसरे दिन आज श्री बलजीत सिंह सैनी ने गोलकीपर खिलाड़ियों को यह टिप्स दिएः-

• अच्छा गोलकीपर बनने की बेसिक जानकारी हो।

• माइंड के साथ फोकस जरूरी।

• रनिंग और कीकिंग के दौरान किट में कंफर्टेबल रहें।

• ट्रेनिंग और मैच के दौरान समान एकाग्रता जरूरी।

• गोलकीपर को पेनाल्टी कार्नर, पेनाल्टी स्ट्रोक से बचाव की जानकारी हो ताकि अटैक के दौरान सही मूवमेंट किया जा सके।

• कूलिंग डाउन सहित तीन तरह की ट्रेनिंग का निरंतर अभ्यास आवश्यक।

ग्रेड वन शो-जम्पिंग में प्रणय खरे ने मध्य प्रदेश को दिलाया रजत पदक



View

राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता, दिल्ली-2021

----

ग्रेड वन शो-जम्पिंग में प्रणय खरे ने मध्य प्रदेश को दिलाया रजत पदक

----

ग्रेड वन में पदक जीतने वाले अकादमी के पहले खिलाड़ी बने प्रणय खरे

----

खेल मंत्री ने की प्रणय खरे के प्रदर्शन की सराहना



मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के प्रतिभावान खिलाड़ी प्रणय खरे ने सीनियर नेशनल इक्विस्ट्रियन चैम्पियनशिप ग्रेड वन शो जम्पिंग में अपने अश्व वनीला स्कॉय पर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। प्रणय खरे ने एजीएल स्टेबल्स दिल्ली में 9 से 15 फरवरी, 2021 तक आयोजित सीनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता ग्रेडवन (140 से.मी.) शो जम्पिंग में देश के टॉप घुड़सवारों को पीछे छोड़ते हुए यह पदक अर्जित किया। प्रणय खरे सीनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता ग्रेड वन (एडवांस) में उपलब्धि हासिल करने वाले म.प्र. राज्य घुड़सवारी अकादमी के पहले खिलाड़ी बन गए हैं।

शाबाश प्रणय

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने सीनियर नेशनल इक्वीस्ट्रियन चैम्पियनशिप ग्रेडवन शो-जम्पिंग में अकादमी के प्रतिभाशाली घुड़सवार प्रणय खरे के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए उन्हें शाबाशी और बधाई दी। उन्होंने कहा कि प्रणय ने सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप में रजत पदक अर्जित कर मध्य प्रदेश को गौरवान्वित किया है।

प्रणय ने बढ़ाया प्रदेश का गौरव

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने कहा कि प्रणय खरे प्रदेश के ही नहीं देश के प्रतिभावान घुड़सवार हैं। विगत चार वर्षों में प्रणय की उपलब्धियों से प्रदेश का गौरव बढ़ा है। खेल संचालक श्री जैन ने उम्मीद जताते हुए कहा कि अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भी पदक जीतकर प्रणय खरे भारत का मान और तिरंगे की शान बढ़ाएंगे।

प्रणय खरे की उपलब्धियां

अकादमी के घुड़सवार प्रणय खरे ने अंतर्राष्ट्रीय इक्विस्ट्रियन चैम्पियनशिप में तीन स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य सहित पांच पदक देश को दिलाए हैं। जबकि उन्होंने जूनियर नेशनल इक्विस्ट्रिीयन चैम्पियनशिप में 17 स्वर्ण, 05 रजत और 02 कांस्य सहित 24 पदक और सीनियर में दो स्वर्ण, चार रजत और एक कांस्य सहित सात पदक मध्य प्रदेश को दिलाए हैं। इसके अलावा रीजनल एवं प्रीमियर इक्विस्ट्रिीयन लीग तथा हॉर्स शो में अब तक 51 स्वर्ण, 44 रजत और 32 कांस्य पदक अर्जित किए हैं। प्रणय खरे घुड़सवारी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ के मार्गदर्शन में प्रशिक्षणरत हैं।

अकादमी की खिलाड़ी कोमल पाल ने पैदल चाल में रजत और बजरंगी प्रजापति ने मध्य प्रदेश को दिलाया कांस्य पदक



View

8वीं राष्ट्रीय ओपन एथलेटिक्स पैदल चाल प्रतियोगिता रांची-2021

---

अकादमी की खिलाड़ी कोमल पाल ने पैदल चाल में रजत और बजरंगी प्रजापति ने मध्य प्रदेश को दिलाया कांस्य पदक

---

खेल मंत्री ने पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी



रांची में 13-14 फरवरी, 2021 को आयोजित 8वीं राष्ट्रीय ओपन एथलेटिक्स पैदल चाल प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश एथलेटिक्स अकादमी की खिलाड़ी कोमल पाल ने बालिका वर्ग अंडर-18 की 10 किलोमीटर पैदल चाल स्पर्धा में मध्यप्रदेश को रजत पदक दिलाया। कोमल ने यह पदक 55 मिनट 04 सेकण्ड का समय लेकर अर्जित किया। इसी तरह बालक वर्ग अंडर-20 में एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ी बजरंगी प्रजापति ने 10 किलो मीटर पैदल चाल 44 मिनट 16 सेकेण्ड के समय में पूरी कर मध्य प्रदेश को कांस्य पदक दिलाया।

मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हमारे खिलाड़ी

प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने राष्ट्रीय पैदल चाल प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करने और पदक जीतकर मध्य प्रदेश का मान बढ़ाने वाले अकादमी के खिलाड़ी कोमल पाल और बजरंगी प्रजापति को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि हमारे खिलाड़ी राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में लगातार उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहे हैं और पदक जीत कर मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने अकादमी के एथलीट कोमल पाल और बजरंगी प्रजापति के प्रदर्शन की सराहना की है।

उक्त दोनों खिलाड़ियों ने अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री एस. के. प्रसाद और सहायक प्रशिक्षक श्री गोविन्द जाट के मार्गदर्शन में भाग लेकर पदक अर्जित किए।

अकादमी के धावक अर्जुन वास्कले और बुशरा खान ने मध्य प्रदेश को दिलाए दो स्वर्ण पदक



View

36वीं राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स प्रतियोगिता-2021



अकादमी के धावक अर्जुन वास्कले और बुशरा खान ने मध्य प्रदेश को दिलाए दो स्वर्ण पदक



अर्जुन ने बनाया नया मीट रिकार्ड



भोपाल, दिनांक 10 फरवरी, 2021

गुवाहाटी में खेली जा रही 36वीं राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स प्रतियोगिता के अंतिम दिन आज मध्य प्रदेश को बालक एवं बालिका अंडर-18 वर्ग की 1500 मीटर दौड़ में दो स्वर्ण पदक हासिल हुए। एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ी अर्जुन वास्कले ने 1500 मीटर दौड़ 3 मिनट 50.38 सेकेण्ड में पूरी कर जहां मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया वहीं नया मीट रिकार्ड भी बनाया। इससे पहले कोयंबटूर में वर्ष 2016 में आयोजित राष्ट्रीय प्रतियोगिता में एथलीट शंकर ने 1500 मीटर दौड़ 3 मिनट 53.63 सेकेण्ड में पूरी कर यह रिकार्ड बनाया था।

प्रतियोगिता के बालिका अंडर-18 वर्ग की 1500 मीटर दौड़ में अकादमी की खिलाड़ी बुशरा खान गौरी ने 4 मिनट 53.47 सेकेण्ड में रेस पूरी कर मध्य प्रदेश को दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया। इसे मिलाकर मध्य प्रदेश को प्रतियोगिता में 13 पदक हासिल हुए है। जिनमें 7 स्वर्ण, 3 रजत और 3 कांस्य पदक शामिल है। इस प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाड़ियों ने 4 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य सहित कुल 7 पदक मध्य प्रदेश को दिलाए है।

हमें अपने खिलाड़ियों पर गर्व है

खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने 36वीं राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स प्रतियोगिता में एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ी बुशरा खान गौरी और अर्जुन वास्कले के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए दोनों पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाड़ियों ने पदक जीतकर मध्य प्रदेश का मान बढ़ाया है और हमें अपने खिलाड़ियों पर गर्व है।

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन जैन ने राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा किए गए उत्कृष्ट प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश को हासिल 13 में से 7 पदक एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश को दिलाए हैं, यह प्रदेश के लिए गौरव की बात है।