-

-----

माँ तुझे प्रणाम

राष्ट्रीयता की भावना से ओत-प्रोत ‘माँ तुझे प्रणाम’ कार्यक्रम, सरकार का एक महत्वपूर्ण उपक्रम है। इसका प्रमुख उद्देश्य युवाओं के अंदर देश की सीमाओं के लिए सम्मान की भावना पैदा करना और उन्हें देश की सशस्त्र सेनाओं के प्रति आकर्षित करना है। इस उपक्रम के अंतर्गत, प्रदेश के 10 बहुमुखी युवाओं (5 लड़कियों – 5 लड़कों) को जिला कलेक्टर द्वारा बनायी एक समिति द्वारा लॉटरी से चुना जाता है, जिनमें से एक एनसीसी, 1 एनएसएस, 1 खिलाड़ी, 1 विद्यार्थी और 1 सामाजिक/ स्काउट/ सांस्कृतिक पृष्ठभूमि से होता है। इन्हें विभिन्न सीमाओं की यात्रा पर ले जाया जाता है, जिससे उन्हें सशत्र सेनाओं के सैनिकों के जीवन को देखने का मौका मिले।
युवाओं को; लेह, कारगिल, द्रास, आरएस पुरा, वाघा-हुसैनवाला, लोंगेवाला, तनोट माता मंदिर, बाड़मेर, बीकानेर, कोच्चि, तुरा, जयगांव, पेट्रापोल और नाथुला-दर्रा की अंतराष्ट्रीय सीमाओं पर अनुभव-यात्राओं के लिए ले जाया जा चुका है।

वर्ष 2016-17 में अभी तक, 1628 युवाओं को ऐसी यात्राओं का ले जाया जा गया है, वहीं उपक्रम की शुरुआत से 5491 युवाओं को इन यात्राओं पर ले जाया जा चुका है।