DSYWMP News and Events

19वीं कुमार सुरेन्द्र सिंह स्मृति शूटिंग चैम्पियनशिप-2019, शूटिंग अकादमी के रायफल और पिस्टल खिलाड़ियों ने मध्य प्रदेश को दिलाए दो रजत पदक

चैपियनशिप में अब तक रायफल खिलाड़ियों ने 13 और पिस्टल खिलाड़ियों ने जीते 2 पदक

हमें अपने खिलाड़ियों पर गर्व-खेल मंत्री श्री पटवारी

भोपाल: 26 जून, 2019

दिल्ली मे आयोजित 19वीं कुमार सुरेन्द्र सिंह स्मृति शूटिंग चैम्पियनशिप में मध्य प्रदेश शूटिंग अकादमी के खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है। अकादमी के रायफल और पिस्टल खिलाड़ियों ने आज एक-एक रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाया।
चैम्पियनशिप में शूटिंग अकादमी के खिलाड़ी अब तक 15 पदक जीत चुके हैं। इनमें रायफल खिलाड़ियों ने तीन स्वर्ण, पांच रजत और पांच कांस्य पदक तथा पिस्टल खिलाड़ियों ने दो रजत पदक अर्जित किए हैं। 
चैंपियनशिप में आज खेले गए महिला सीनियर वर्ग के 50 मीटर रायफल प्रोन टीम इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी अपराजिता सिंह, सुनिधि चैहान और जेनब हुसैन ने रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाया। जबकि 10 मीटर एयर पिस्टल वूमेन टीम इवेंट में सुरभि पाठक, चिंकी यादव और महिमा अग्रवाल की तिकड़ी ने 1699 अंकों के साथ रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाया। रेल्वें 1704 अंकों के साथ पहले और पंजाब 1683 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहा। 
इससे पूर्व पिस्टल खिलाड़ियों ने 25 मीटर स्पोर्ट्स पिस्टल वूमेन टीम इवेंट में 1718 अंक अर्जित कर रजत पदक मध्य प्रदेश को दिलाया। टीम में सुरभि पाठक, चिंकी यादव और महिमा अग्रवाल शामिल थीं। हरियाणा 1721 अंकों के साथ  पहले और 1690 अंकों के साथ सीआरपीएफ दूसरे स्थान पर रहा।
खिलाड़ियों द्वारा अर्जित इस उपलब्धि पर प्रदेश के खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने हर्ष व्यक्त करते हुए पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा है कि हमें मध्य प्रदेश शूटिंग अकादमी के खिलाड़ियों और उनके प्रशिक्षकों पर गर्व है। 
संचालक खेल और युवा कल्याण डाँ. एस. एल. थाउसेन ने भी खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सराहना करते हुए पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी है।
गौरतलब है कि रायफल खिलाड़ी शूटिंग अकादमी की मुख्य प्रशिक्षक सुश्री सुमा सुरूर, प्रशिक्षक श्रीमती सुनीता लाखन और सहायक प्रशिक्षक वैभव शर्मा तथा पिस्टल खिलाड़ी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री जसपाल राणा एवं सहायक प्रशिक्षक श्री जयवर्धन सिंह से शूटिंग खेल का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।