DSYWMP News and Events

खिलाड़ियों को प्रतिभा प्रदर्शन के बेहतर अवसर दिलाना सरकार का लक्ष्य-खेल मंत्री श्री जीतू पटवारी

खेल मंत्री ने निशाना साधकर किया जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता का शुभारंभ

पहले दिन मध्य प्रदेश राज्य तीरंदाजी अकादमी की मुस्कान किरार रैंकिंग में पहले स्थान पर

भोपाल: 07 फरवरी, 2019

खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने आज टी.टी. नगर स्टेडियम में आयोजित 40वीं जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता का तीर-कमान से निशाना साधकर शुभारंभ किया। उन्होंने 14 फरवरी तक चलने वाली इस प्रतियोगिता के विधिवत शुभारंभ की घोषणा करते हुए आकाश में रंगीन गुब्बारे छोड़े। इससे पूर्व खेल मंत्री श्री जीतू पटवारी ने प्रतियोगिता में शामिल होने भोपाल आ रहे भारतीय तीरंदाज खिलाड़ी श्री जसपाल सिंह और श्री सरस सोरेन के शहडोल के समीप सड़क दुर्घटना में असामयिक निधन पर संवेदनाएं व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर संचालक खेल और युवा कल्याण डाँ. एस.एल. थाउसेन, भारतीय तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष श्री बी.व्ही.पी. राव, सचिव श्री महासिंह, मध्य प्रदेश तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष श्री गिरिजाशंकर शर्मा और सचिव श्रीमती प्रीति जैन, एनटीपीसी के एजीएम श्री के.एम. प्रशांत, डीजीएम ए.के. दास और एस.जी. पोद्दार, भारतीय तीरंदाजी संघ के कोषाध्यक्ष श्री डी.के. विद्यार्थी सहित अन्य पदाधिकारी एवं विभागीय अधिकारी मौजूद थे।  शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने तीरंदाजी को देश की प्राचीन विधा बताया और कहा कि राजधानी भोपाल में 40वीं जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता का आयोजन मध्य प्रदेश के लिए गौरव की बात है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा जबलपुर में तीरंदाजी अकादमी तथा झाबुआ और मंडला में तीरंदाजी फीडर सेंटर प्रारंभ करने का उद्देश्य तीरंदाजी ख्ेाल में प्रतिभावान खिलाड़ी तैयार करना है जो प्रदेश और देश के लिए पदक अर्जित कर सकें। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में प्रदेश के खिलाड़ियों को प्रतिभा प्रदर्शन के अधिकतम अवसर दिलाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। उन्होंने जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में भागीदारी कर रहे सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी।  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भारतीय तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष श्री बी.व्ही.पी. राव ने खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा जबलपुर में संचालित तीरंदाजी अकादमी की सराहना करते हुए कहा कि यह अकादमी अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप हैं और यहां के प्रतिभावान खिलाड़ियों ने एशियाड़ में देश को पदक दिलाया है। उन्होंने आश्वस्त किया कि जबलपुर में शीघ्र ही राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया जायेगा। संचालक ख्ेाल और युवा कल्याण डाँ. एस.एल. थाउसेन ने बताया कि जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में भागीदारी करने देश भर से आये खिलाड़ियों और आफिसियल्स के लिए उच्च एवं राष्ट्रीय स्तर की सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई हैं। उन्होंने खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलने के लिए प्रोत्साहित करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी। उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी तक आयोजित जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में 32 प्रदेशों के करीब छह सौ बालक एवं बालिका खिलाड़ी रिकर्व, कम्पाउण्ड एवं भारतीय राउण्ड स्पर्धा में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे।

आज के परिणाम

प्रतियोगिता के अंतर्गत आज खेले गए वुमेन कंपाउण्ड इवेंट की रैंकिंग में म.प्र. राज्य तीरंदाजी अकादमी की खिलााड़ी मुस्कान किरार 694 अंक के साथ प्रथम स्थान पर, उत्तर प्रदेश की साक्षी वेदवान 686 अंकों के साथ द्वितीय स्थान पर एवं झारखण्ड की अनीता कुमारी 683 अंकों के साथ तृतीय स्थान पर रही।