DSYWMP News and Events

सक्सेस के लिए सेल्फ काॅन्फिडेन्स जरूरी- खेल संचालक डाँ. थाउसेन दीक्षांत समारोह में व्हीएलसीसी के 252 युवाओं को प्रमाण-पत्रों का वितरण

सेल्फ काॅन्फिडेन्स

सक्सेस के लिए सेल्फ काॅन्फिडेन्स जरूरी- खेल संचालक डाँ. थाउसेन दीक्षांत समारोह

राजधानी भोपाल में टी.टी. नगर स्टेडियम के मार्शल आर्ट हाॅल में आज 11वां दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया जिसमें व्ही.एल.सी.सी. अकादमी के 233 काॅसमेटोलाॅजी और 19 न्यूट्रीशियन इस प्रकार कुल 252 प्रशिक्षित युवाओं को प्रमाण-पत्र प्रदान किये गए। समारोह के मुख्य अतिथि संचालक खेल और युवा कल्याण डाँ. एस.एल. थाउसेन एवं विशेष अतिथि व्ही.एल.सी.सी. की वाॅइस प्रेसिडेंट सुश्री अंजू शर्मा ने युवाओं को प्रमाण पत्र प्रदान किए।

दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुये खेल संचालक डाँ. एस.एल. थाउसेन ने कहा कि क्षमता और आत्मविश्वास से सफलता सुनिश्चित है। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के उद्देश्य से व्ही.एल.सी.सी. अकादमी स्थापित की गई है और यह अकादमी युवाओं को प्रशिक्षण और रोजगार दिलाने में अपनी सार्थकता सिद्ध कर रही है। खेल संचालक डाँ. थाउसेन कहा कि साधारण परिवार के युवाओं को उनके कैरियर निर्माण में सहायक बन रही व्ही.एल.सी.सी. अकादमी की स्थापना में खेल युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया जी के प्रयासों का सराहनीय योगदान रहा है। उन्होंने युवाओं को कैरियर प्राप्त करने के लिए टिप्स देते हुए कहा कि सक्सेस के लिए काॅन्फिडेन्स बहुत जरूरी है और आपकी ताकत ही आपका काॅन्फिडेन्स है। युवाओं को चाहिए कि वे अपने अनुभव और नाॅलेज से अपने कौशल में निखार लाए। खेल संचालक डाँ. थाउसेन ने अकादमी से डिप्लोमा लेकर उच्च मुकाम हासिल करने वाले युवाओं की सराहना की और सभी युवाओं का उत्साहवर्धन कर उन्हें अपनी शुभकामनाएं दी।

कार्यक्रम में व्ही.एल.सी.सी. की वाॅइस प्रेसिडेंट सुश्री अंजू शर्मा ने कहा कि व्ही.एल.सी.सी. केन्द्र इंदौर, ग्वालियर और भोपाल के माध्यम से युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर प्राप्त हो रहे है

जिसमें खेल और युवा कल्याण विभाग का सराहनीय योगदान है। उन्होंने बताया कि अब युवा काॅसमेटोलाॅजी और न्यूट्रीशियन में अपना कैरियर बना रहे है। प्रशिक्षित युवाओं को रोजगार मिल रहा है। दीक्षांत समारोह में पूर्व वर्षों के पासआउट प्रशिक्षार्थियों ने अपने अनुभव शेयर करते हुए सफलता की कहानी सुनाई इनमें सिवनी निवासी अभिषेक श्रीवास्तव, होशंगाबाद की श्रीमती पद्मा स्वर्णकार, ग्वालियर की साक्षी और निम्मी सिंह तथा इन्दौर की खुशबू जैन शामिल थे। दीक्षांत समारोह में संयुक्त संचालक डाँ. विनोद प्रधान एवं बी.एस. यादव, व्ही.एल.सी.सी. की तकनीकी प्रमुख श्रीमती शिल्पा माल्यवर एवं बड़ी संख्या में प्रशिक्षणार्थी युवा मौजूद थे।