DSYWMP News and Events

राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हाॅकी कप टूर्नामेन्ट की विजेता बनी इण्डियन रेल्वे

राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हाॅकी कप टूर्नामेन्ट

राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हाॅकी कप टूर्नामेन्ट

म.प्र. महिला हाॅकी अकादमी ने जीता उपविजेता का खिताव
खिलाड़ियों के बुलंद हौसलों से ही बेहतर प्रदर्शन संभव – राज्यपाल
प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान हासिल करने वाली टीमों को 50-50 हजार रूपये देने की घोषणा

राजधानी भोपाल में मयूर पार्क के समीप स्थित मेजर ध्यानचंद हाॅकी खेल परिसर में 10 सितम्बर,2018 से खेले जा रहे राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हाॅकी कप टूर्नामेन्ट का मध्यप्रदेश की राज्यपाल मान. श्रीमती आनंदीबेन पटेल के मुख्य आतिथ्य एवं प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया की अध्यक्षता में आज समापन हुआ।
समापन समारोह में राज्यपाल द्वारा टूर्नामेन्ट में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान हासिल करने वाली टीमों को 50-50 हजार रूपये प्रदान करने की घोषणा की गई। राज्यपाल ने विजेता, उपविजेता टीमों और खिलाड़ियों को शील्ड एवं ट्राफी प्रदान कर सम्मानित किया। साढ़े 11 लाख की ईनामी राशि वाले राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हाॅकी कप टूर्नामेन्ट की विजेता इण्डियन रेल्वे टीम को 5 लाख, उपविजेता म.प्र. महिला हाॅकी अकादमी की टीम को 3 लाख और तृतीय स्थान हासिल करने वाली बीओआरएल बीना की टीम को 2 लाख की सम्माननिधि से नवाजा गया। इसके अलावा इण्डियन रेल्वे टीम की खिलाड़ी सोनल मिंज को वेस्ट गोलकीपर, प्रियंका वानखेड़े को वेस्ट फारवर्ड, बीओआरएल बीना टीम की खिलाड़ी करिश्मा यादव को वेस्ट मिड फील्डर, म.प्र. महिला हाॅकी अकादमी की खिलाड़ी लुन्ते को वेस्ट डीप डिफेन्डर और साई देहली की खिलाड़ी लालरिंदकी को वेस्ट प्लेयर आॅफ द टूर्नामेन्ट के पुरस्कार सें सम्मानित किया गया। सम्मानित खिलाड़ियों को 25-25 हजार रू. की सम्माननिधि प्रदान की गई।

खिलाड़ियों के बुलंद हौसलों के से ही बेहतर प्रदर्शन संभव

समापन समारोह को संबोधित करते हुए राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा कि जीवन में आगे बढ़ने के लिए खेल जरूरी है। अंतर्राष्ट्रीय, ओलंपिक और एशियाई खेलों में बड़ी संख्या में पदक जीतना भारतीय खिलाड़ियों के आसमान छूते हौसलों और सपनों के कारण ही संभव हुआ है। खिलाड़ियों को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर बेहतर अवसर उपलब्ध कराने के लिए मध्यप्रदेश सरकार वचनबद्ध है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि सरकार के बेहतर प्रयासों का ही परिणाम है कि हाल ही में सम्पन्न एशियन गेम्स में मध्यप्रदेश के खिलाड़ियों ने तीरंदाजी, हाॅकी और वाटर स्पोटर््स खेलों में शानदार प्रदर्शन किया और तीन रजत और दो कांस्य सहित पांच पदक जीत कर प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। खेलों के क्षेत्र में मध्यप्रदेश ने तेजी से कदम बढ़ाते हुए राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अलग पहचान बनाई है। खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा संचालित विभिन्न खेल अकादमियों के माध्यम से खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जा रही अंतर्राष्ट्रीय स्तरीय खेल सुविधाओं और प्रशिक्षण के सुखद परिणाम सामने आ रहे हैं जिसके चलते अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्री य स्पर्धाओं में खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर पदक जीत रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोच का दायित्व है कि वह अपने खिलाड़ियों को नियमों और तौर तरीकों के बारे में अच्छी तरह से सिखायें।

खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने राज्यपाल द्वारा विजेता खिलाड़ियों को 50-50 हजार रूपये देने की घोषणा के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने ने कहा कि यह पहला अवसर है जब भोपाल में राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हाॅकी कप टूर्नामेन्ट का आयोजन किया गया जिसमें गेल इण्डिया ने सराहनीय योगदान रहा है। उन्होंने टूर्नामेन्ट में भागीदारी करने वाली टीमों द्वारा किये गये बेहतर प्रदर्शन की सराहना करते हुये सभी खिलाड़ियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी
खेल एवं युवक कल्याण विभाग के संचालक डाॅ. एस. एल. थाउसेन ने स्वागत भाषण देते हुए विभागीय उपलब्धियेां की जानकारी दी। इस अवसर पर खेल एवं युवक कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ एम. मोहन राव, गेल के सीजीएम एसएस अग्रवाल, ओलम्पियन श्री समीर दाद, श्री जलालुद्दीन रिज्वी, श्री एम.के. कौशिक, तुषार खण्डकर सहित बड़ी संख्या में हॉकी खिलाड़ी उपस्थित थे।

राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हाॅकी कप टूर्नामेन्ट के अंतर्गत आज खेले गये फायनल मुकाबलें में म.प्र. महिला हाॅकी अकादमी और इण्डियन रेल्वे की टीमों ने शानदार प्रदर्शन किया। इस रोमांचक एवं संघर्षपूर्ण मैच में इण्डियन रेल्वे ने 1-0 से मुकाबला जीतकर विजेता का खिताव अपने नाम किया। जबकि म.प्र. महिला हाॅकी अकादमी उपविजेता बनी। मैच के 65वें मिनिट में इण्डियन रेल्वे टीम की खिलाड़ी प्रीति दुबे ने फील्ड गोल मारकर अपनी टीम को जीत दिलाई। मध्यांतर तक दोनों टीमों की कोई भी खिलाड़ी गोल नही कर पायी। इसी तरह तीसरे स्थान के लिए खेले गये मुकाबले में बीओआरएल बीना ने सोनीपत हाॅकी अकादमी हरियाणा को 2-1 से शिकस्त दी। बीओआरएल बीना की खिलाड़ी करिश्मा सिंह ने मैच के 6वें मिनिट में पहला फील्ड गोल और 61वें मिनिट मे पैनाल्टी कार्नर गोल कर टीम को जीत दिलाई। सोनीपत हाॅकी अकादमी हरियाणा की एक मात्र खिलाड़ी जसप्रीत मलिक ने ही 43वंे मिनिट में पैनाल्टी कार्नर से गोल किया।