DSYWMP News and Events

मुख्यमंत्री कप से खिलाड़ियों की बनती है पहचान अगले वर्ष से सभी बच्चों को दिया जाएगा ट्रैकसूट-मान. खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया

मुख्यमंत्री कप

मुख्यमंत्री कप

खेल मंत्री ने किया मुख्यमंत्री कप राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का शुभारंभ
प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने आज टी.टी. नगर स्टेडियम में तीन दिवसीय ‘‘मुख्यमंत्री कप’’ प्रतियोगिता के विधिवत शुभारंभ की घोषणा की। इस अवसर पर दस संभागों के बालक एवं बालिका वर्ग के खिलाड़ियों ने आकर्षक मार्च पास्ट कर सलामी दी। समारोह में भोपाल संभाग की खिलाड़ी कु. हर्षा ने खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलने की शपथ दिलाई। इस मौके पर संचालक खेल और युवा कल्याण डाँ. एस.एल. थाउसेन, अपर मुख्य सचिव खेल डाँ. एम. मोहनराव, संयुक्त संचालक डाँ विनोद प्रधान, सहायक संचालक एवं योजना प्रभारी श्री ओ.पी. हरोड़ सहित अन्य अधिकारी और बड़ी संख्या में विभिन्न संभागों से आए खिलाड़ी और प्रशिक्षक उपस्थित थे।
शुभारंभ समारोह को संबोधित करते हुए खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि मुख्यमंत्री कप प्रतियोगिता प्रारंभ करने का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण स्तर पर खेल प्रतिभाओं की पहचान करना और उन्हें खेल अकादमी से संबद्ध कर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं के लिए तैयार करना है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 से शुरू की गई मुख्यमंत्री कप प्रतियोगिता ग्रामीण क्षेत्रों की प्रतिभाओं के चयन करने में मददगार साबित हुई है। खेल मंत्री ने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि अगले वर्ष से राज्य स्तरीय मुख्यमंत्री कप में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों को ट्रैकसूट दिया जाएगा । उन्होंने अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा अर्जित राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय उपलब्धियों की जानकारी देते हुए राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भागीदारी कर रहे खिलाड़ियों से कहा कि अब आपका अगला लक्ष्य खेल अकादमी में प्रवेश होना चाहिए ताकि अकादमी के माध्यम से आप अपने खेल में निखार लाकर और अच्छा खिलाड़ी बनकर अपने जिले, प्रदेश और देश का गौरव बढ़ाएं। उन्होंने खिलाड़ियों को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी।

संचालक खेल और युवा कल्याण डाँ. एस.एल. थाउसेन ने कहा कि मुख्यमंत्री कप प्रतियोगिता का आयोजन ब्लाक, जिला एवं संभाग स्तर पर किया गया जिसमें ग्रामीण प्रतिभाओं ने भाग लेकर खेल कौशल का प्रदर्शन किया। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कप के अंतर्गत इस वर्ष अंडर-16 बालक एवं बालिका वर्ग की 6 खेलों में प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही हैं जिनमें कबड्डी, व्हालीबाॅल, फुटबाॅल, कराते, कुश्ती एवं एथलेटिक्स खेल शामिल हैं। प्रतियोगिता लीग कम नाॅक आउट पद्धति से खेली जा रही है।
खेल संचालक ने बताया कि इस वर्ष आयोजित मुख्यमंत्री कप प्रतियोगिता में 10 संभागों से करीब 1260 बालक-बालिका खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। उन्होंने यह भी बताया कि राज्य स्तरीय दलीय खेलों में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान अर्जित करने वाले बालक-बालिका दलों को क्रमशः एक लाख रूपये, 75 हजार रूपये और 50 हजार रूपये नगद पुरस्कार एवं व्यक्तिगत खेलों में क्रमशः 10 हजार रूपये, 7 हजार रूपये, 5 हजार रूपये के नगद पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा।

आज के परिणाम
‘‘मुख्यमंत्री कप’’ प्रतियोगिता के अंतर्गत एथलेटिक्स बालक वर्ग की 200 मीटर दौड़ में भोपाल संभाग के खिलाड़ी शिवम सिंह ने पहला, उज्जैन के अक्षत चैधरी ने दूसरा और इन्दौर के महेश ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। इसी तरह हाई जम्प में इन्दौर संभाग के संदीप ने प्रथम, चम्बल के नीतेश सिंह ने द्वितीय और भोपाल के नीतेश ने तृतीय स्थान हासिल किया। बालक वर्ग के ही जेवलिंग थ्रो में जबलपुर संभाग के आरिफ मंसूरी पहले, भोपाल के रिंकू यादव दूसरे और नर्मदापुरम संभाग के खिलाड़ी गुलाब सिंह तीसरे स्थान पर रहे।
एथलेटिक्स बालिका वर्ग की 200 मीटर दौड़ में जबलपुर संभाग की विशाखा हाण्डा ने प्रथम, रीवा की प्रियंका मिश्रा ने द्वितीय और उज्जैन की कृतज्ञा शर्मा ने तीसरा स्थान अर्जित किया।