DSYWMP News and Events

खेल मंत्री ने इटारसी में आठ करोड़ की लागत वाले राजमाता विजया राजे सिंधिया खेल प्रशाल का लोकार्पण किया

Rajmata Vijaya Raje Scindia Sports School inaugurated in Itarsi

राजमाता विजया राजे सिंधिया खेल प्रशाल का लोकार्पण इटारसी

हमारा यह स्वप्न है कि हमारे बच्चें चुनौती का सामना कर आसमान छुए-खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया

प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने आज इटारसी में 8 करोड की लागत से निर्मित श्रीमंत राजमाता विजया राजे सिंधिया खेल प्रशाल का लोकार्पण किया। इसके पूर्व उन्होंने खेल परिसर का निरीक्षण किया तथा खेल मशाल प्रज्वलित की और कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन कर किया। खेल मंत्री ने एशिया खेलों के पदक विजेता खिलाड़ियों मुस्कान किरार, हर्षिता तोमर एवं आध्या तिवारी का सम्मान किया। हाकी खिलाडी विवेक सागर के पिता का भी सम्मान किया गया।
लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए खेल मंत्री मान. यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि हमारा स्वप्न है कि हमारे खिलाड़ी बच्चें विपरीत चुनौतियों का सामना करते हुए आसमान छूए। उन्होंने एशियन खेलो में सैलिंग में कांस्य पदक जीतने वाली हर्षिता तोमर एवं टीम इवेन्ट में सिल्वर मेडल जीतने वाली मुस्कान किरार, जूनियर हॉकी टीम के विवेक सागर एवं एशियन खेलो में शामिल हुई आध्या तिवारी को रोल मॉडल बताते हुए कहा कि यह यह हमारे स्टार खिलाड़ी हैं जो अन्य खिलाडी बच्चों के लिए रोल माडल है जिनसे अन्य खिलाडियों को प्रेरणा मिलती रहेगी। खेल मंत्री ने कहा कि हर्षिता तोमर ने जो कामयाबी हासिल की है वह अद्वितीय है। हर्षिता होशंगाबाद की बेटी है, जिस पर हम सभी को गर्व है। इस बेटी ने एशियाड में सेलिंग के 4.7 लेजर इवेंट में पुरूष खिलाड़ियों को पीछे छोड़ते हुए ओपन व्यक्तिगत स्पर्धा में देश के लिए कांस्य पदक जीता, यह हमारे लिए गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि हर्षिता की कामयाबी का श्रेय उनके सेलिंग कोच अर्जुन अवॉर्डी श्री जी. एल. यादव को भी जाता है और इसके बाद हर्षिता की कामयाबी का श्रेय उनके माता-पिता को जाता है जिन्होने खेल विभाग पर भरोसा जताया। खेल मंत्री ने कहा कि मुस्कान किरार ने भी तीरंदाजी के टीम इवेंट में सिल्वर मेडल जीता और इनकी कामयाबी का श्रेय इनके कोच रिचपाल सिंह को जाता है। आध्या तिवारी भी साॅफ्टबाल में बेहतर प्रदर्शन करते हुए क्वार्टर फाईनल तक पहुंची। ये सभी खिलाडी रोल मॉडल है। खेल मंत्री ने कहा कि उन्होने हर्षिता एवं मुस्कान के माता पिता से अनुरोध किया था कि वे अपनी बेटियों को प्रतियोगिता में भाग लेने दें। तब उनके माता पिता ने सहर्ष उनका अनुरोध स्वीकार कर लिया था।

खेल मंत्री ने कहा कि राजधानी सहित प्रदेश में 17 खेल अकादमी संचालित की जा रही है। हमारा मुख्य उद्देश्य सभी अकादमियों को अंतराष्ट्रीय स्तर का बनाना है।
इटारसी में बने खेल प्रशाल की सराहना करते हुए खेल मंत्री ने कहा कि म.प्र. विधानसभा के अध्यक्ष डाँ. सीताशरण शर्मा के प्रयासों से यह खेल प्रशाल बना है। उन्होने नगर वासियों से अपील की कि खेल प्रशाल का सम्मान करते हुए यहां स्वच्छता बनाए रखने में सहयोग करें और यहां पानी की बोतल या अन्य प्रकार का कचरा ना डाले। उन्हांेने कहा कि खेल प्रशाल आपका है और इसे आपको ही सवारना है। उन्होंने कहा कि इटारसी के खेल प्रशाल में जल्द ही फुटबाल एरिया को एक सेंटर के रूप में विकसित किया जाएगा तथा ऐसे 10 सेंटर और बनाए जाएगें जहां लोगो का रूझान एवं गतिविधियां फुटबाल के लिए बढ रहीं है। उन्होने कहा कि यहां बनाए रनिंग ट्रेक को सिंथेटिक ट्रेक में बदला जाएगा, साथ ही एक इंडोर हाल भी बनाया जाएगा जहां बालीवाल, बैडमिंटन की सुविधा रहेगी। इसके अलावा प्रशाल की बायी साईड पर टेनिस, खो खो, मल्लखम्ब आदि की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
खेल मंत्री ने कहा कि आज माता पिता भी बच्चों को खेल के प्रति प्रेरित कर रहे है। उन्होंने बताया कि खेल विभाग द्वारा करीब तीस एकड क्षेत्र में घुडसवारी अकादमी संचालित की जा रही है और घुडसवारी में भी प्रदेश को मेडल मिल रहें है। उन्होने इटारसी के खेल प्रशाल में प्रवेश मार्ग रेल्वे की तरफ से बनाने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर म.प्र. तैराकी संघ के अध्यक्ष श्री पीयूष शर्मा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि गत 5 जुलाई 2016 को खेल मंत्री जी ने खेल प्रशाल का भूमि पूजन किया था। खेल प्रशाल 2 साल 2 महीने 10 दिन में बनकर तैयार हुआ है। उन्होने इटारसी में स्ट्रोटर्फ बनाए जाने की आवश्यकता बताई। नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती सुधा राजेन्द्र अग्रवाल ने राज माता विजया राजे सिंधिया खेल परिसर बनाए जाने पर जिले वासियो की ओर से आभार व्यक्त किया। लोकार्पण कार्यक्रम को राज्य अंत्योदय समिति के सदस्य श्री हरि शंकर जायसवाल ने भी संबोधित किया।
खेल संचालक डाँ. एस. एल. थाउसेन ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन होशंगाबाद जिले के खेल कलेण्डर में ऐतिहासिक दिन के रूप में याद रखा जाएगा, क्योकि आज के दिन जिले को खेल परिसर के रूप में बहुत बड़ी सौगात मिली है। इस खेल परिसर में टेनिस, खो खो, मल्लखम्ब एवं बैडमिंटन की खेल सुविधाएं भी उपलब्ध है। उन्होने कहा कि आगामी दिनों में इस खेल परिसर में करीब 14-15 करोड की राशि का व्यय कर इसे और भी बेहतर बनाया जाएगा ताकि यहां जिले की खेल प्रतिभाएं तैयार हो सके। उन्होने नागरिकों से अनुरोध करते हुए कहा कि वे खेल परिसर का सम्मान करते हुए यहां स्वच्छता बनाए रखें और खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करें ताकि यहां अंतर्राष्ट्रीय खिलाडी तैयार हो सकें।
इस अवसर पर जिला हाॅकी संघ, जिला फुटबाल संघ, जिला क्रिकेट एसोसिएशन, जिला साॅफ्टबाल संघ, वरिष्ठ नागरिक मंच, केरम एसोसिएशन, बैडमिंटन एसोसिएशन एवं शिक्षक संघ ने पुष्प गुच्छ भेंट कर खेल मंत्री का स्वागत किया।
कार्यक्रम में जिला पंचायत के अध्यक्ष श्री कुशल पटेल, श्रीमती माया नरोलिया, राजो मालवीय, कलेक्टर प्रियंका दास, पुलिस अधीक्षक श्री अरविंद सक्सेना, खेल विभाग के संयुक्त संचालक डाँ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी, जनप्रतिनिधि गण और विभिन्न खेलों के खिलाडी मौजूद थे।